आज के समय में ब्लूटूथ डिवाइस काफी सामान्य उपयोग की वास्तु बन गयी है जो दैनिक जीवन में हमारे काफी काम आती है। जिनमे से ब्लूटूथ ऑडियो डिवाइस जैसे हैडफ़ोन या स्पीकर्स आपको काफी आरामदायक संगीत सुनने में मदद करते है। डिवाइस द्वारा प्राप्त ऑडियो आउटपुट की साउंड क्वालिटी काफी चीजो पर निर्भर करती है इनमे से एक है ब्लूटूथ कोडेक।

आज के समय में आपको Qualcomm का aptX, Sony का LDAC और डिफ़ॉल्ट SDAC कोडेक सबसे लोकप्रिय कोडेक प्राप्त होते है। तो चलिए नज़र डालते है इन तीनो पर देखते है कौन है सबसे बेहतर?

Bluetooth Codec क्या है?

शुरू करने से पहले एक बार एखते है आखिर Bluetooth Codec होता क्या है। सामान्य रूप से ब्लूटूथ टेक्नोलॉजी की ऑडियो आउटपुट की गति थोडा धीमी होती है जिस कारण ऑडियो क्वालिटी में आपको थोडा कमी महसूस होती है। तो एक बेहतर संगीत का आनन्द लेने के लिए आपको चाहिए बेहतर ब्लूटूथ कोडेक। ब्लूटूथ कोडेक यह निर्धारण करता है की आपको ऑडियो आउटपुट की क्वालिटी असली ट्रैक/गाने से कितनी समान है।

अगर साफ़ शब्दों में कहे तो ऑडियो को छोटे-छोटे डाटा पैकेट में कॉम्प्रेस करने वाले encoding और decoding फ्रेमवर्क को कोडेक कहते है।

अब नज़र डालते है अलग-अलग ब्लूटूथ कोडेक पर :

1. SBC

SBC (Low Complexity Sub-Brand Coding) अभी तक का सबसे बेसिक कोडिंग मानक है तो लगभग सभी ब्लूटूथ डिवाइसों में उपलब्ध होता है। यह हर A2DP (Advanced Audio Distribution Profile) डिवाइस में उपस्थित होना अनिवार्य है।

यहाँ पर आपको 328kbps तक का मैक्सिमम बिट रेट प्राप्त हो सकता है जबकि मोनो स्ट्रीम के लिए यह 198kbps तक प्राप्त हो पायेगा। इस स्पीड से आपको एक समान्य ऑडियो आउटपुट प्राप्त होता है इसके अलावा आपको ट्रान्सफर प्रोसेस में ज्यादा डाटा खर्च करना पड़ता है।

इस प्रोसेस में स्पीकर्स तक आउटपुट पहुचने में लगभग 100-150 मिलीसेकंड का समय लगता है लेकिन वौइस् कॉल या विडियो कॉल के समय यह अवधि हमको मालूम नहीं चलती है।

2. Sony APTX

Qualcomm के aptX ब्लूटूथ कोडेक में आपको कम्प्रेशन प्रोसेस ही मिलता है लेकिन एक अलग तरह से। यह SBC से बेहतर काम करते हुए ऊँची बैंडविड्थ पर भी बेहतर काम करता है।

Sbc Vs Ldac Vs Aptx 1

aptX में आपको 352kbps तक का बिट रेट मिलता है जबकि इसके थोडा बेहतर वर्जन aptX HD में आपको 56kbps तक का बिट रेट प्राप्त होता है। बिट रेट जितना अधिक होता है ऑडियो क्वालिटी उतनी ही अच्छी प्राप्त होती है इसलिए aptX आपको CD क्वालिटी का ऑडियो आउटपुट देने में सक्षम है।

यह सिर्फ 40 मिलीसेकंड का समय लेता है जिस कारण आपको विडियो और ऑडियो में एक दम सटीक संतुलन प्राप्त होता है।

3.Sony LDAC

Sony के LDAC उपरोक्त दोनों ब्लूटूथ कोडेक से एक दम अलग काम करता है। LDAC अभी तक सिर्फ Sony Xperia हैंडसेट तक ही सीमित रखा गया था लेकिन अब यह एंड्राइड फ़ोनों में भी उपलब्ध हो जाता है। यहाँ पर यह बताना भी जरुरी है की एंड्राइड ओरियो OS aptX और aptX HD समेत और भी अधिक ब्लूटूथ कोडेक का सपोर्ट मिलता है।

Sbc Vs Ldac Vs Aptx 2

LDAC में सबसे ख़ास फीचर है डाटा ट्रान्सफर के लिए इसका वेरिएबल बिट-रेट. यह तीन अलग अलग टाइप के कनेक्शन मोड – कनेक्शन, नार्मल, और प्रायोरिटी का उपयोग करते है। LDAC के प्रायोरिटी मोड में आपको 990kbps तक की बिट-रेट स्पीड प्राप्त होती है।

निष्कर्ष

जी हाँ, ब्लूटूथ कोडेक सबसे जरुरी नहीं लेकिन सबसे जरुरी फैक्टर में से एक जरुर है जो आपको आपकी ब्लूटूथ डिवाइस द्वारा बेहतरीन ऑडियो आउटपुट देने में सक्षम बनाता है। यहाँ पर हम यह जरुर बतायेंगे की ऑडियो आउटपुट की क्वालिटी में हैडफ़ोनों और स्पीकर की क्वालिटी भी मायने रखती है।

अगर आप कोई विडियो देखते है या गेम कहलते है तो आपको ऑडियो और विडियो के सयोजन में थोडा अंतर दिखेगा इसलिए हम कह सकते है की SBC एक सामान्य कोडेक है जो कॉल्स करने के लिए उपयोग कर सकते है लेकिन हाई-एंड उपयोग पर थोडा निराशा मिलती है। दूसरी तरफ aptX में आपको बेहतर बिट रेट मिलता है क्योकि यहाँ पर ADPCM का उपयोग किया जाता है जिस कारण आपको छोटी फाइल मिलती है जो ऑडियो आउटपुट को और बेहतर बनाता है। सबसे अलग LDAC में आपको मिलती है हाई-एनफ म्यूजिक आउटपुट की सुविधा वो भी कम से कम क्वालिटी कमी के साथ जो सबसे बेहतरीन आउटपुट देने में सक्षम है।

अगर अपने वायरलेस हेडफ़ोनों को अपने स्मार्टफोन से जोड़ते है जो aptX या LDAC कोडेक को सपोर्ट करते है, तो आप अपनी डिवाइस की डिफ़ॉल्ट स्ट्रीमिंग कोडेक सेटींग को भी बदल कर बेहतर ऑडियो आउटपुट का मज़ा उठा सकते है।

Android Developers Options 2

Android Developers Options 1

अगर आप एंड्राइड ओरियो यूजर है तो डेवलपर ऑप्शन से आप सीधे ऑडियो कोडेक को बदल सकते है। वैसे अगर आप नए हैडफ़ोन खरीदना चाहते है तो हम आपको aptX या aptX HD सपोर्ट वाले हैडफ़ोन खरीदने की ही सलाह देंगे।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here