सैमसंग ने अपने फ्लैगशिप फ़ोन गैलेक्सी S9 और S9+ लांच किये है जिससे स्मार्टफोन के मार्किट में एक बहुत ही अलग और आकर्षक अनुभव दिया है। सैमसंग ने यहाँ पर कोई कमी नहीं रखी है और अपनी दोनों डिवाइसों में काफी आकर्षक बदलाव किये है जो आज के समय के ही नहीं भविष्य में भी काफी लाभदायक होगा। (Read in Enlgish)

गैलेक्सी सीरीज के नए फ्लैगशिप फ़ोनों के बारे में काफी बाते है जो फोन के पक्ष में जाती है क्योकि फोन के दैनिक उपयोग के बात आपको भी साफ़ हो जायेगा की यह कितना वैल्यू फॉर मनी है या नहीं। लेकिन जब हम बात करते है फ्लैगशिप फ़ोनों की तो ‘जितना मिल जाये उतना थोडा’ वाली कहावत सच साबित होती है। क्या गैलेक्सी S9+ इस साल ख़रीदे जाने लायक है या नहीं इसी सवाल का जवाब जानने के लिए हमने इस फ्लैगशिप फोन को टेस्ट किया और अज इसका रिव्यु आपके लिए लेके आये है। चलिए डालते है एक नज़र:

सैमसंग गैलेक्सी S9+ के बॉक्स में क्या मिलेगा?

  • अच्छी क्वालिटी का TPU केस
  • फ़ास्ट चार्जर (9V-1.67A/5V-2A)
  • USB टाइप-C केबल
  • OTG कनेक्टर
  • AKG द्वारा ट्वविन किये गये हैडफ़ोन

यह भी पढ़े: Google Assistant हुआ हिंदी भाषा के साथ इंडिया में लांच; कैसे करे उपयोग

सैमसंग गैलेक्सी S9 प्लस डिजाईन

  • 158.1 x 73.8 x 8.5 mm; वजन: 189 grams
  • 84.2% स्क्रीन-टू-बॉडी रेश्यो
  • IP68 डस्ट एंड वाटर रेसिस्टेंट

आप किसी ब्रांड से हर बार नए डिजाईन की उम्मीद नहीं रख सकते है। सैमसंग गैलेक्सी S6 और गैलेक्सी S7 के समय भी यही हुआ था कंपनी ने डिजाईन में बदलाव नहीं किया था। उसी तरह गैलेक्सी S8 और S9/S9+ के में भी डिजाईन लगभग सामान है कम से कम सामने की तरफ से तो यही कहा जायेगा।

अभी भी आपको सामने और पीछे की तरफ ग्लास दिया गया है और किनारों से घुमावदार डिस्प्ले आज भी काफी आकर्षक लगती है।

सैमसंग ने अपने नए फ़ोनों के साथ लगभग कमियों को दूर कर दिया है।

फिंगरप्रिंट सेंसर को सही जगह दिया गया है जो आसानी से यूज़ किया जा सकता है। हम वैसे तो फ्रंट में दिए गये फिंगरप्रिंट सेंसर को बढ़ावा दी है लेकिन फुल-व्यू डिस्प्ले के समय में आप फ्रंट फिंगरप्रिंट सेंसर की उम्मीद नहीं रख सकते है। फोन में आपको ज्यादा आकर्षक फेस-अनलॉक और आईरिस स्कैनर भी दिया गया है जो आपके फोन को और भी आसानी से अन-लॉक किया जा सकता है।

यहाँ एक और सुधार किया गया है वो है डिस्प्ले पर बेहतर oleophobic कोटिंग देना। Galaxy S9+ यहाँ पर आपको S8 से बेहतर स्क्रीन प्रोटेक्शन देता है जिस से डिस्प्ले पर कोई निशान नहीं पड़ते है, जिस कारण आपको स्क्रीन प्रोटेक्टर की बहुत जरूरत नहीं होगी।

  • सैमसंग गैलेक्सी S9+ का साइज़ और डिजाईन दोनों ही S8 के सामान ही है।
  • 18:9 स्क्रीन रेश्यो या फुल-व्यू या इनफिनिटी डिस्प्ले अब कॉमन फीचर हो गया है जो आज के समय की जरूरत भी है लेकिन घुमावदार किनारे आज भी सैमसंग के द्वारा दिया गया स्पेशल फीचर है।
  • फोन में फ्रंट और रियर दोनों तरफ आपको गोरिल्ला ग्लास 5 दिया गया है जो पहले जैसा ही लगता है लेकिन काफी आकर्षक और प्रीमियम लुक देता है और वाटर रेसिस्टेंट भी है।
  • सैमसंग गैलेक्सी S9+ पकड़ने और चलाने में भी काफी आरामदायक है।
  • फोन की डिस्प्ले हर तरह के धब्बे से सुरक्षित है. सैमसंग ने एक काफी सॉफ्ट TPU केस भी दिया है फोन के साथ।
  • गैलेक्सी S9+मे ड्यूल स्पीकर्स दिए गया है एक बॉटम में और एक इयरपीस के साथ है।
  • फ़ोन में दिया गया एक अतिरिक्त कैमरा सेंसर और फिंगरप्रिंट सेंसर को दी गयी नयी जगह, दोनों ही चीज़े साफ अंतर दिखाती है।

सैमसंग गैलेक्सी S9 प्लस डिस्प्ले

  • 6.2-इंच 18.5:9, सुपर AMOLED QHD (1440 x 2960)
  • HDR 10 सपोर्टेड, 3D टच बटन
  • ऑलवेज ऑन डिस्प्ले

इस चीज़ में कोई दो राय नहीं है की सैमसंग सबसे बेहतर सुपर AMOLED स्क्रीन बनता है, और जो गैलेक्सी S9+ में दी गयी स्क्रीन काफी ज्यादा बेहतर है। सफ़ेद रंग अब और भी ज्यादा न्यूट्रल दिखाई देता है कलर और कंट्रास्ट काफी आकर्षक है ना, और स्क्रीन काफी ब्राइट नज़र आती है।

DisplayMate ने S9+ की डिस्प्ले को आब की बेस्ट डिस्प्ले रेटिंग दी है और हम भी इस से सहमत है।

आपको यहाँ पर 4 एक दम सही डिस्प्ले प्रोफाइल- Adaptive Display( widest color gamut), Cinema Mode(DCI-P3), Photo Mode (Adobe RGB), and Basic Mode(sRGB) दी गयी है।

  • सैमसंग गैलेक्सी S9+ आज के समय की सबसे बेस्ट डिस्प्ले है।
  • डिस्प्ले काफी ब्राइट और सजीव है. जहाँ आपको 4 डिस्प्ले-प्रोफाइल में से 1 को चुनने का भी विकल्प मिलता है।
  • आपको बैटरी को सेव करने के लिए डिस्प्ले स्केल को कम करने की भी सुविधा दी जाती है।
  • हमेशा  की तरफ सैमसंग ने इस बार ब्लू-लाइट फ़िल्टर, विडियो एनहान्सर और कुछ अन्य फीचर भी दिए है जो काफी लाभदायक है।
  • ऑलवेज-ऑन डिस्प्ले पर आपको कुछ और विजेट भी दिए गये है।

सैमसंग गैलेक्सी S9 प्लस कैमरा रिव्यु

रियर: 12 MP (f/1.5-2.4, 26mm, 1/2.55″, 1.4 µm, ड्यूल पिक्सेल f/2.4, 52mm, 1/3.6″, 1 µm, AF)

फ्रंट :8 MP (f/1.7, 25mm, 1/3.6″, 1.22 µm), AF

नया और बेहतर ‘री-इमेजिन कैमरा’ गैलेक्सी S9+ की सबसे बड़ी खासियत है. यह f/1.5 अपर्चर लेंस के साथ आने वाला पहले फोन है जिसमे आपको वेरिएबल अपर्चर ऑप्टिक्स सिस्टम, स्लो-मो  विडियो रिकॉर्डिंग, मल्टी-फ्रेम नॉइज़ रिडक्शन भी दिया गया है। तेज़ प्रोसेसिंग के लिए बढ़िया रैम और एप में AR एमोजी के लिए अलग से सेक्शन दिया गया है।

पिछले साल हमने काफी अच्छे और बेहतर कैमरा रिजल्ट देखे है(एप्पल iPhone X और गूगल पिक्सेल 2 XL)। जिस कारण सबसे बड़ा मुद्दा यही है की क्या सैमसंग का कैमरा के लिए किया गया दावा सही है या नहीं? तो चलिए देखते है:

ड्यूल अपर्चर होने की वजह से गैलेक्सी S9+ का डे-लाइट परफॉरमेंस काफी बेहतर हो जाता है। पर्याप्त डे-लाइट में हैंडसेट अपर्चर को f/2.4 में बदल देता है और काफी बेहतर इमेज लेता है वही लो-लाइट में लेंस काफी वाइड-ओपन f/1.5 हो जाता है। आप प्रो मोड में खुद से भी अपर्चर मोड को बदल सकते है।

गैलेक्सी S9+ से ली गयी इमेज साफ़ दिखाती है की गैलेक्सी S8 से काफी ज्यादा सुधार किया गया है। कैमरा सॉफ्टवेयर अभी भी काफी शार्पर और प्रोसेसिंग के बाद लो-लाइट में भी एक्सपोज़र बढ़ जाता है, लेकिन अंतिम रिजल्ट काफी संतुलित है और किसी भी तरह का नॉइज़ नहीं दिखाई देती है। कैमरा परफॉरमेंस काफी बेहतर है और आप पहली बार में ही एक दम परफेक्ट शॉट प्राप्त कर सकते है।

अंत में हम यही बोलेंगे की यही एक कैमरा फ़ोन है जो लो-लाइट परफॉरमेंस के मामले में पिक्सेल 2/ पिक्सेल 2XL को टक्कर दे सकता है।

नोट: ऊपर दी गयी इमेज रि-साइज़ की गयी है तो आप Flickr Link पर जाके सैमसंग गैलेक्सी S9+ के कुछ कैमरा सैंपल देख सकते है।

  • फ्लैगशिप फ़ोनों के कैमरा रिजल्ट देख यह कहना काफी मुश्किल है की कौन सा बेहतर है। अगर परिस्थिति के अनुसार आपको पिक्सेल 2 और iPhone X द्वारा बेहतर इमेज प्राप्त हो सकती है लेकिन हम मानते है की गैलेक्सी S9+ इन तीनो फ़ोनों में से सबसे कंसिस्टेंट परफ़ॉर्मर है।
  • विडियो रिकॉर्डिंग करना भी काफी आकर्षक अनुभव देता है।
  • पोर्ट्रेट मोड अभी भी पिक्सेल 2 में सबसे बेहतर है। गैलेक्सी S9+ एज को आसानी से डिटेक्ट कर लेता है लेकिन कभी-कभी बैकग्राउंड मीटरिंग में थोडा परेशानी देता है, लेकिन कैमरा आउटपुट तब भी काफी बेहतर है।
  • स्लो-मो वीडियोस काफी बेहतर है।। सनलाइट में आप बहुत ही बेहतर स्लो-मो शूट कर सकते है लो-लाइट या इंडोर लाइटिंग में थोडा नॉइज़ होने के कारण स्लो-मो वीडियोस का मज़ा थोडा कम हो जाता है।
  • AR एमोजिस अभी भी सुधार की अवस्था में है जिनका एप्पल के अनिमोजी से तुलना करना गलत होगा। यहाँ सबसे बड़ी दिक्कत यही है की बनाई गयी एमोजी काफी हद्द तक मेल नहीं होती है

सैमसंग गैलेक्सी S9 प्लस परफॉरमेंस और सॉफ्टवेयर

  • Exynos 9810 ओक्टा-कोर (2.7GHz 4x M3 + 1.8GHz 4x Cortex-A55); DynamIQ architecture
  • Mali G72 GPU
  • 6GB रैम; 64GB/256GB स्टोरेज

सैमसंग गैलेक्सी S9+ आज तक का सबसे तेज़ स्मार्टफोन है जिसको हमने टेस्ट किया है। काफी महीनो तक उपयोग करने के बाद भी हमारा नोट 8 अभी भी अपने फ्लैगशिप परफॉरमेंस पर बरकरार है जिसके बाद हम और भी उम्मीद कर सकते है की गैलेक्सी S9+ भी हुम्कोक कुछ समय बाद निराश नहीं करेगा और इसी तरफ अपना प्रदर्शन बरकरार रखेगा।

हम अभी भी यह नहीं कह सकते की ये स्नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर से बेहतर है या नहीं क्योकि अभी तक भारत में यह उपलब्ध नहीं है। यहाँ पर सैमसंग द्वारा Exynos 9810 चिपसेट पर इतना विश्वास दिखाना चिंता की बात हो सकती है लेकिन हम इसको नज़रन्दाज कर देंगे अगर यह बैटरी बैकअप बढ़ाने में मदद करे। एक उपयोगकर्ता के रूप में, सबसे अधिक मांग वाले एप्लीकेशन के लिए भी हमें जो प्रदर्शन मिल रहा है वह  काफी अच्छा है।

एक्सपीरियंस UI 9.0 में काफी नए फीचर दिए गये है। लेकिन सबसे बेहतर है एंड्राइड ओरेओ पर फोन का रन करना। इसके अलावा भी काफी नए औउर उपयोगी फीचर जैसे ऑलवेज-ऑन स्क्रीन पर विजेट, होम स्क्रीन के लिए ऑटो-रोटेट, नेविगेशन बार के कलर में बदलाव आदि को शामिल किया गया है। लेकिन UI में कोई ख़ास बदलाव नहीं किया गया है।

BixBy वौइस् अस्सिस्टेंट काफी कुछ पहले की ही तरह है बबस यहाँ पर रियल-टाइम ट्रांसलेशन की सुविधा को जोड़ा गया है। फ़ोन में सेटिंग को यूज़ करने और उसमे बदलाव करने में हमने BixBy का उपयोग किया और हम काफी प्रभावित हुए। आप काफी आसानी से BixBy द्वारा ऑलवेज-ऑन सेटिंग्स पर जा सकते है, WhatsApp या Fackbook या कोई और एप्लीकेशन को आराम से ओपन कर सकते है।

यह भी पढ़े: Xiaomi Family; Redmi 5 vs Redmi Note 5 vs Redmi Note 5 Pro (हिंदी में)

अभी भी गूगल अस्सिटेंट की तरह कॉन्टेक्स्ट को समझने और इन्टरनेट से जानकारी को अच्छे से पेश करने में अभी थोडा समय लगेगा। और BixBy विज़न अभी भी थोडा समझ से परे है।

  • गैलेक्सी S9+ सबसे बेहतर सैमसंग का फ्लैगशिप फोन है जो हमने अब तक इस्तेमाल किया है।
    आप 64GB और 256GB स्टोरेज विकल्पों के बीच चयन कर सकते हैं, प्रत्येक में एक हाइब्रिड सिम स्लॉट दिया गया है।
  • फ़ोन में किसी भी तरह की हीटिंग प्रॉब्लम नहीं है।
  • एक्सपीरियंस यूआई 9.0, एंड्रॉइड 8.0 ओरेओ पर आधारित है। इंटरफ़ेस यहाँ पर कुछ छोटे मोटे फीचर के अलावा समान ही है।
  • हम यहाँ साफ़ रूप से कहेंगे की BixBy काफी उपयोगी है, लेकिन Google सहायक की तरह नहीं है
    फ़िंगरप्रिंट सेंसर काफी तेज़ है।
  • फेस अनलॉक और आईरिस स्कैनर पिछले सैमसंग फ्लैगशिप से अलग महसूस नहीं होते।
    हमें किसी भी कनेक्टिविटी की प्रॉब्लम का सामना नहीं करना पड़ा।

यह भी पढ़े: Samsung Galaxy S9 और S9+ Hidden Feature, Tips and Trick; हिंदी में

सैमसंग गैलेक्सी S9 प्लस बैटरी और ऑडियो

  • 3500mAh; फ़ास्ट चार्जिंग; वायरलेस फ़ास्ट चार्जिंग
  • स्टीरियो स्पीकर्स; 3.5mm ऑडियो जैक

3500mAh बैटरी सामान्य उपयोग पर आपको 1 दिन का बैटरी बैकअप दे देती है। ज्यादा यूज़ करने पर आपको थोडा मिड-डे चार्जिंग भी करनी पड़ सकती है। फ़ोन में वायर चार्जर या वायरलेस चार्जर दोनों से ही फ़ास्ट चार्जिंग की सुविधा दी गयी है। गैलेक्सी S9+ का बैटरी बैकअप पिक्सेल 2XL से थोडा ज्यादा है लेकिन OePlus 5T से थोडा पीछे ही रह जाता है. निजी राय दू तो मुझे बैटरी साइज़ को देखकर थोडा ज्यादा बैकअप की उम्मीद थी।

सैमसंग ने गैलेक्सी S9 प्लस पर वास्तव में ऑडियो एक्सपीरियंस में सुधार किया है स्टीरियो स्पीकर बेहद तेज़ और साफ़ हैं, और हेडफ़ोन के माध्यम से ऑडियो की क्वालिटी में काफी सुधार हुआ है। इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि यह एकमात्र हाई-एंड फ्लैगशिप फोन है जो अभी भी हेड फोन्स जैक के साथ आता है।

  • बैटरी बैकअप अन्य प्रमुख फ़ोनों के बराबर है आप मध्यम उपयोग करने पर आराम से एक दिन का बैटरी बैकअप प्राप्त कर सकते हैं।
  • वायर्ड और वायरलेस चार्जर्स दोनों पर फास्ट चार्जिंग सपोर्टेड है।
  • लाउडस्पीकर के माध्यम से ऑडियो आउटपुट बहुत बेहतर है। हेडफ़ोन जैक के माध्यम से भी ऑडियो आउटपुट बहुत बढ़िया है।

सैमसंग गैलेक्सी S9 प्लस रिव्यु निष्कर्ष, खूबियाँ और कमियाँ

इस फ़ोन को रिव्यु करने के लिए हम अपने गैलेक्सी नोट 8 से गैलेक्सी S9+ पर शिफ्ट किया. इसलिए हमको फ़ोन में कोई ख़ास अंतर नहीं दिखाई दिए. हालाँकि, S9+ में बहुत ही जायदा बेहतर कैमरा और डिस्प्ले के साथ साथ काफी कुछ चीजों में सुधार किया गया है। बैटरी, परफॉरमेंस और सॉफ्टवेयर सभी चीजों में किया गया अपग्रेड आपको काफी पसंद आएगा।

S9+से तुलना करे तो S9+ प्लस में आपको ज्यादा रैम, बड़ी बैटरी और एक एक्स्ट्रा कैमरा सेंसर दिया गया है जो आपको इसको खरीदने के लिए मजबूर कर देगा बशर्ते आपको कॉम्पैक्ट फोन नहीं चाहिए।

खूबियाँ 

  • सुन्दर डिजाईन
  • बेहतरीन डिस्प्ले
  • प्रभावशाली कैमरा
  • एंड्राइड ओरेओ
  • बेहतरीन ऑडियो एक्सपीरियंस

कमियाँ

  • एवरेज बैटरी बैकअप

 

8 Things that Bixby does better than Google Assistant and Siri

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here