5G इंटरनेट: जाने इसके बारे में सब कुछ

Main Image
  • Like
  • Comment
  • Share

क्वालकॉम स्नैपड्रगन X50 एक ऐसा LTE मॉडेम है जो बहुत ही तेज़ नेटवर्क स्पीड वाले 5G नेटवर्क को दुनियाभर के फ़ोन में फैलाएगा। चिपसेट बनाने वालो ने इस टेक्नोलॉजी का परीक्षण भी शुरू कर दिया है और 5G चिप्स युक्त स्मार्टफोन के प्रोडक्शन के लिए 18 ग्लोबल OEMs के साथ साझेदारी भी की है।(Read in English)

ऐसा कहा जाता है कि पहला तैयार 5G फोन 2019 तक उपलब्ध होगा, जिसका अर्थ है कि अभी इस नयी टेक्नोलॉजी के लिए हमको लगभग एक साल और इन्तजार करना पड सकता है। इससे पहले कि हम संभावनाओं को देखते हैं कि यह नया नेटवर्क कैसे काम करता है और यह दुनिया को कैसे प्रभावित करेगा। 4G नेटवर्क जो आज के समय की सबसे तेज़ टेक्नोलॉजी है, नयी 5G टेक्नोलॉजी उसको भी पीछे छोड़ देगी।

तो यहाँ वह सब बताया गया है जो आपको 5G इंटरनेट के बारे में जानने की ज़रूरत है जो सेलुलर नेटवर्किंग का भविष्य है।

यह भी पढ़े: Xiaomi India का वेब-पेमेंट पेज सुरक्षित नहीं

1. तेज़ और विश्वसनीय

स्वाभाविक रूप से 5G, 4G से तेज़ होगा, लेकिन यहाँ देखने वाली बात है की कितना तेज़ होगा? अभी हम जिस स्पीड से इंटरनेट यूज़ करते है वह Mbps में होती है लेकिन 5G की शुरुआत के बात ये स्पीड Gbps में होगी जो काफी आकर्षक है। जी हाँ, 5G सेलुलर नेटवर्क पर आपको 5Gbps तक की डाउनलोड स्पीड मिलने की क्षमता है।

यह मैखिक रूप से अधिकतम स्पीड है , लेकिन टेलीकॉम ऑपरेटर इसको एक-चौथाई तक ही दे पाएंगे लेकिन यह तब भी मौजूदा 4G नेटवर्क की तुलना में काफी ज्यादा तेज़ रहेगी।

इसके अलावा, 5G फ़ोन 5G और 4G कनेक्शन को सपोर्ट करेगा। इसलिए यह अनुमान लगाया जा सकता है की 5G डिवाइस जहाँ पर नेटवर्क कमजोर होगा वहाँ पर 4G नेटवर्क में बदल जायेगा लेकिन नेटवर्क की सेवा को टूटने नहीं देगा।

2. 5G उच्च क्षमता युक्त होगा

केवल स्पीड ही नहीं, 5G नेटवर्क की उच्च क्षमता भी भविष्य के लिए काफी लाभदायक होगी। कहा जा सकता है की ये नहीं सेलुलर टेक्नोलॉजी सामान्य यूजर को आने वाली नेटवर्क प्रॉब्लम को खुद ही हल करने में सक्षम होगी।

वर्तमान समय में 4G नेटवर्क में एक कमी है की जब काफी सारे यूजर एक साथ काम करते है जो यह या तो धीमा हो जाता है या फिर बंद हो जाता है जो काफी दिक्कत देने वाली बात है। लेकिन यह समस्या 5G नेटवर्क में नहीं आएगी क्योकि पहले जितनी क्षमता होती थी 5G में उस से काफी अधिक डाटा कनेक्शन को सपोर्ट करने की क्षमता होगी।

यह भी पढ़े: Samsung Galaxy Tab S4 हो सकता है जल्द ही लांच: स्नैपड्रगन 835 की उम्मीद

3. 5G सिर्फ फ़ोन के लिए नहीं

यह तेज़ स्पीड का नेटवर्क सिर्फ फ़ोन इंडस्ट्री में ही उपयोगी नहीं होगा बल्कि यह सभी इंटरनेट उपकरणों (IoT) की सेवाओं में सुधार करेगा।

उदाहरण के लिए, सेल्फ-ड्राइविंग कार एक नयी टेक्नोलॉजी है भविष्य में सभी कार अपने आस-पास की कारो से कम्युनिकेशन करेगी जो यातायात में सहायक होगा और एक सेफ यात्रा को सुनिश्चित करेगा।

इसी तरह उपभोक्ता टेक्नोलॉजी जैसे स्मार्टवॉच, वर्चुअल रियलिटी हेडसेट्स, पीसी और स्मार्ट होम डिवाइसेस, इन सभी डिवाइसों के प्रदर्शन में सुधार करेगा। यहाँ तक की दैनिक काम जैसे वीडियो कॉल करना या कुछ सर्च करने में भी आपको बेहतर परिणाम मिलेंगे।

4. क्लाउड स्टोरेज के सुधार

जब आपको नेटवर्क डाटा स्पीड इतनी तेज़ मिलेगी तो आपके फ़ोन की इंटरनल स्टोरेज आपके लिए कम पड़ सकती है ऐसे में स्मार्टफोन निर्माता फ़ोन में 5G सपोर्ट देने पर आपको कम स्टोरेज देकर क्लाउड स्टोरेज का उपयोग करने के लिए बाध्य कर सकता है।

इस पर उपयोगकर्ता भी ज्यादा माना नहीं कर पाएंगे क्योकि डाटा स्पीड इतनी तेज़ होगी की उपयोगकर्ता को जो फाइल जब चाहिए तब डाउनलोड करके यूज़ कर सकते है।

यह भी पढ़े: Moto Z2 Force VS OnePlus 5T Specification Comparison (हिंदी में)

5. 5G में कुछ विविध सुविधाएं

5G के तेज़ नेटवर्क को इस्तेमाल करने के लिए आपको थोड़ा अधिक कीमत चुकानी पड़ेगी क्योकि इतनी अधिक सुविधा आपको आज के सामान्य कीमत में तो नहीं मिल पायेगी। क्वालकॉम के मुताबिक,”5G की शुरुआत होने के बाद ऑनलाइन आने वाली डिवाइसों की वजह से डाटा की कीमत में थोड़ा कमी भी आएगी जो उपभोक्ता के लिए अच्छी बात होगी। लेकिन इसके लिए कोई समय-सीमा निर्धारित नहीं है।

एक और बात कहा जा रहा है की इस टेक्नोलॉजी को यूज़ करने वाले स्मार्टफोन/डिवाइसों में बैटरी बैकअप का मुद्दा जरूर आ सकता है क्योकि यह उपकरण थोड़ा बैटरी का थोड़ा ज्यादा उपयोग करेंगे। इसी कारण धीरे-धीरे पावर-मैनेजमेंट में सुधार होना चाहिए।

5G इंटरनेट: आपके जानने योग्य बाते

जैसे जैसे हम 5G टेक्नोलॉजी की तरह बढ़ रहे है, क्वालकॉम द्वारा एक नया 4G LTE मॉडेम भी पेश किया है। स्नैपड्रैगन X24 नाम से पेश किया गया मॉडेम चिपसेट आपको 2Gbps की डाउनलोड स्पीड देने में समर्थ है। X24 युक्त डिवाइस उपभोक्ताओं तो उसी समय के आस पास मिलेगी जब पहला 5G फोन पेश किया जायेगा, जिस से नयी टेक्नोलॉजी की तरफ रुख करने में कोई कठिनाई ना हो।

 

 

 

Related Articles

ImageUPI: गलत UPI आईडी पर भेजे गए पैसे कैसे वापस पाएं ? जानिए यहाँ

यूपीआई ने हमारे जीवन को आसान बना दिया है। यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) ने भारतीय डिजिटल भुगतान प्रणाली को बदल दिया है। लोग अपने स्मार्टफोन का उपयोग करके किसी भी समय सीधे बैंक खातों में पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। यूपीआई प्रणाली काफी हद तक सुरक्षित है, लेकिन आए दिन डिजिटल गेटवे में त्रुटियों देखने …

Image5G तो आ गया, लेकिन भूलकर भी अभी इन कारणों से ना करें अपग्रेड

5G इस समय भारत के काफी शहरों में आ चुका है और Jio, Airtel बहुत तेज़ी से इसका विस्तार पूरे देश में कर रहे हैं। 5G नेटवर्क के साथ फ़ोन में अच्छी इंटरनेट स्पीड मिलती है और जिन्होंने अभी तक 5G का अनुभव नहीं किया है, उन्हें मिनटों में जब आसानी से डाउनलोड होता नज़र …

Image5G नेटवर्क ने कारण ग्राहकों को हो रही कॉल ड्रॉप की परेशानी को कंपनियों को करना होगा दूर, वरना सरकार लेगी उनकी ख़बर

दिल्ली एनसीआर में 5G नेटवर्क जहां जहां ठीक से चालू है, ज़्यादातर वहाँ सभी लोग कॉल अचानक बीच में ही कॉल कट जाने या अचानक आवाज़ आनी बंद हो जाने की शिकायत कर रहे हैं। मेरे फ़ोन पर भी 5G नेटवर्क आने के बाद से कॉलिंग की समस्या काफी ज़्यादा बढ़ गयी है। एक कॉल …

ImageSnapdragon chipset गाइड : बाज़ार में हर दूसरे स्मार्टफोन में मौजूद Snapdragon प्रोसेसरों के बारे में जानें सब कुछ

Qualcomm के Snapdragon चिपसेट आपको लगभग हर दूसरे स्मार्टफोन में देखने को मिलेंगे, फिर चाहे वो किसी भी स्मार्टफोन ब्रैंड का हो। Samsung Galaxy S सीरीज़ के स्मार्टफोन से लेकर Xiaomi, OnePlus तथा अन्य ब्रैंडों के फ्लैगशिप फोनों तक और साथ ही मिड-रेंज व बजट रेंज फोनों भी आपको Qualcomm के Snapdragon प्रोसेसर नज़र आएंगे। …

Imageभारतीय ई-कॉमर्स बाज़ार में Amazon, Flipkart का राज खत्म करने के लिए सरकार ने लॉन्च की है ONDC, जानें इसके बारे में सब कुछ

भारत में ई-कॉमर्स के क्षेत्र में Amazon और Flipkart का ही राज रहा है। लेकिन अब भारत सरकार ने अप्रैल में तेजी से बढ़ते ई-कॉमर्स के बाज़ार में इन कंपनियों को टक्कर देने के लिए अपना Open Network for Digital Commerce (ONDC) लॉन्च किया। लेकिन अब ताज़ा खबर ये कि Flipkart, Reliance और Amazon जैसे …

Discuss

Be the first to leave a comment.