अब लम्बे तारों वाले ईयरफ़ोन नहीं, बल्कि पूरी तरह से बिना तारों वाले यानि कि ट्रू वायरलेस (TWS) बड्स का ज़माना है। लेकिन ये जितने सुविधाजनक होते हैं, उतने ही छोटे होने के कारण, ये आसानी से खो भी जाते हैं। इस मामले में मेरा भी अनुभव ऐसा ही है, मेरे TWS का भी एक बडखोया, जो अब तक मिला नहीं है। लेकिन TWS के खोने का जो किस्सा हम आपको सुनाने वाले हैं, वो आपने आज तक नहीं सुना होगा। Apple के AirPods भी काफी छोटे हैं। हाल ही में USA में एक घटना घटित हुई, जहां एक महिला ने गलती ने AirPods निगल लिया।

ये पढ़ें: Snapdragon 898 नहीं, बल्कि ये होगा नए Snapdragon फ्लैगशिप चिपसेट का नाम; 30 नवंबर को होगा लॉन्च

एक TikTok वीडियो में बॉस्टन की एक महिला ने ये दावा किया है कि उसने गलती से AirPods को निगल लिया। उसने बताया कि उसके एक हाथ में ब्रूफिन (Ibuprofen) की गोली थी और दूसरे हाथ में AirPod था। उस महिला ने दवाई की जगह गलती से AirPod को निगल लिया। जब उसे अपनी गलती का एहसास हुआ, तो उसने AirPod को बाहर निकालने की कोशिश की, लेकिन ऐसा करने में सक्षम नहीं थी। नीचे आप इस महिला के टिकटोक वीडियो के स्क्रीनशॉट भी देख सकते हैं।

यूएसए की महिला ने गलती से निगले AirPod

इसके बाद इस महिला ने जांचने के लिए एक्स-रे भी करवाया और उसे ये ईयरबड अपने पेट में नज़र आया। दिलचस्प बात ये है कि महिला के पेट में जाने के बाद भी AirPod का नेटवर्क टूटा नहीं और वो उसके iPhone के साथ कनेक्टेड ही रहा। इस बड ने इस महिला के पेट के अंदर की आवाज़ें भी रिकॉर्ड की हैं। हालांकि ये वाक्या उस महिला के लिए काफी डरा देने वाला था और उसने कहा कि वो अब कभी AirPod का इस्तेमाल नहीं करेगी। लेकिन अच्छी बात ये है कि अब ये महिला सुरक्षित है।

वैसे ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। इससे पहले भी USA में Massachusetts में रहने वाले एक व्यक्ति ने भी सोते-सोते गलती से AirPods को निगल लिया था और वो उसके खाने की नली में जाकर अटक गया था, जिसे बाद में सर्जरी द्वारा निकाला गया। इसके अलावा चीन में भी एक सात साल के बच्चे ने AirPods को गलती से मुँह में डाल लिया था और निगल भी गया था, लेकिन उसे भी सुरक्षित बचा लिया गया।

अब ये तो हम सभी जानते हैं कि TWS काफी छोटा यंत्र है और Apple के AirPods और भी छोटे हैं। हालांकि कंपनी ने लोगों की सुविधा के लिए ही इनके आकार को छोटा किया है और इस तरह के हादसों के लिए कंपनियों को दोष देना सही नहीं है। बताया जा रहा है कि आगे आने वाले समय में Apple नैनो टेक्नोलॉजी द्वारा और भी अन्य प्रोडक्ट्स के आकारों को छोटा करने की कोशिश कर रहा है, तो जितनी सुविधा हमें मिलेगी, उतनी ही सावधानी भी हमें बरतनी होगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here