Vivo ने कल इंडिया में अपनी S-सीरीज को लांच कर दिया है जिसके लांच इवेंट में ही यह साफ़ हो गया ही की यह डिवाइस स्टाइल आइकन के तौर पर पेश की गयी है। Vivo S1 इंडिया में पहला S-सीरीज स्मार्टफोन है। एक ख़ास बात ये है की कंपनी ने S1 को जिस कीमत पर लांच किया है उसी पर अभी कुछ दिनों पहले ही Vivo Z1 Pro भी लांच किया गया है। (Vivo S1 Review Read in English)

तो Vivo S1, Z1 Pro से कितना अलग है? क्या Vivo S1 को Realme X या Note 7-सीरीज का एक अल्टरनेटिव कहा जा सकता है? क्या आपको यह स्मार्टफोन खरीदना चाहिए? चलिए इन्ही सवालों का जवाब ढूंढते है Vivo S1 के इस डिटेल्ड रिव्यु में:

यह भी पढ़िए: Vivo Z1 Pro रिव्यु (समीक्षा): बजट कीमत में दमदार गेमिंग

Vivo S1 की स्पेसिफिकेशन

मॉडल Vivo S1
डिस्प्ले 6.38-इंच, 1080 X 2340(FHD+), sAMOLED, 98% DCI-P3Schott Xensation 3D प्रोटेक्शन
चिपसेट 12nm 2.0 GHz MediaTek Helio P65 ओक्टा-कोर
रैम 4GB/6GB
स्टोरेज 64GB/128GB
रियर कैमरा 16MP (f/1.8) + 8MP वाइड-एंगल (f/2.2) + 2MP डेप्थ सेंसर (f/2.4)
फ्रंट कैमरा 32MP (f/2.0)
माप और वजन 159.53 x 75.23 x 8.13mm , 179 ग्राम
सॉफ्टवेयर एंड्राइड पाई आधारित FunTouch OS
अन्य ब्लूटूथ 5.0, ड्यूल-बैंड Wi-Fi, ड्यूल 4G VoLTE, इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर  USB 2.0, GPS, BeiDou, GLONASS, Galileo
बैटरी 4500mAh, 18W ड्यूल-इंजन फ़ास्ट चार्जिंग
कीमत 17,990 रुपए / 18,990 रुपए / 19,990 रुपए

Vivo S1 रिव्यु: बॉक्स में क्या मिलता है?

Vivo S1 के बॉक्स में आपको मिलता है:

  • हैंडसेट
  • 18W चार्जिंग एडाप्टर
  • चार्जिंग केबल
  • प्रोटेक्टिव केस और स्क्रीन प्रोटेक्टर
  • इयरफोन
  • सिम एजेक्टर टूल और पेपर-वर्क

Vivo S1 रिव्यु: डिजाईन एंड बिल्ड

Vivo S1 में आपको ग्लास-फिनिश बॉडी दी गयी है जो असली में प्लास्टिक है। हैंडसेट को Skyline Blue और Diamond Black कलर ऑप्शन में अपनी ग्रेडिएंट बैक के साथ काफी अच्छा नज़र आता है। हमारे पास इसका डायमंड ब्लैक वरिएन्त है जिसके पीछे की तरफ डायमंड पैटर्न और ट्रिपल कैमरा सेटअप के चारों तरफ गोल्डन रिंग दिया गया है। लेकिन S1 का Skyline Blue कलर और भी ज्यादा बेहतर नज़र आता है।

बैक-पैनल सपाट है और हाथ में डिवाइस पकड़ने पर यह थोडा सॉलिड और भारी नज़र आती है लेकिन हाँ S1 साफ़ तौर पर Z1 Pro से कॉम्पैक्ट और वजन में हल्की है जिसकी वजह है इसकी थोडा छोटी डिस्प्ले और कम बैटरी क्षमता।

सेल्फी कैमरा को वाटर-ड्राप नौच के तहत जगह दी गयी है जो आज के समय में पंच-होल या U/V-शेप नौच के ट्रेंड में थोड़ी पुरानी नजर आती है। यह AMOLED डिस्प्ले और इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर S1 को थोडा ट्रेंडी भी बनाती है। इसके अलावा Vivo S1 में अनलॉक एनीमेशन और ऑलवेज-ऑन डिस्प्ले के साथ आप इनको कस्टमाइज करके फोन के लूक में थोडा चेंज भी कर सकते है।

फोन में आपको चार्जिंग के लिए माइक्रो USB पोर्ट ही दिया गया है साथ में यहाँ 3.5mm ऑडियो जैक भी मिलता है। इस साल पेश किये गये लगभग सभी अन्य विवो फ़ोनों की तरह यहाँ पर भी आपको डेडिकेटेड गूगल अस्सिस्टेंट बटन भी उपलब्ध है जो काफी उपयोगी भी साबित होता है।

Vivo S1 रिव्यु: डिस्प्ले

Vivo S1 में आपको सामने की तरफ 6.38-इंच की AMOLED डिस्प्ले FHD+ रेज़ोलुशन के साथ बेहतर कंट्रास्ट और गहरा काला दिखाती है। जो चीज हमको सबसे ज्यादा पसंद आई है वो फोन में दी गयी अलग-अलग कलर प्रोफाइल प्रीसेट है जिनकी मदद से आप आसानी से डिस्प्ले प्रोफाइल में बदलाव कर सकते है।

अगर आप ब्लू यानि कोल्ड डिस्प्ले को कम पसंद करते है तो आपको इसका नार्मल मोड पसंद आएगा।

इसमें आपको ब्राइट मोड भी दिया गया है जो काफी अच्छे से कलर पेश करके के साथ कलर टेम्परेचर को भी काफी फाइन-ट्यून कर देता है। इसके अलावा सॉफ्टवेयर साइड से भी आपको यहाँ ऑलवेज-ऑन डिस्प्ले और डार्क मोड जैसे अच्छे फीचर देखने को मिलते है।

ऑडियो ब्राइटनेस अच्छे से कम करती है और मैक्सिमम ब्राइटनेस पर आप S1 को आसानी से आउटडोर में इस्तेमाल कर सकते है। FunTouch OS में आपको नौच को ऑफ करने का भी ऑप्शन दिया है लेकिन आपको एक-एक करके हर एप्लीकेशन के लिए यह प्रोसेस करनी होगी।

Vivo S1 रिव्यु: कैमरा

Vivo S1 में आपको Z1 Pro के जैसा ही कैमरा हार्डवेयर देखने को मिलता है जो परफॉरमेंस के मामले में भी काफी हद तक एक जैसा ही है।

कैमरा एप्प में आपको काफी अच्छे फीचर मिलते है लेकिन फीचर इतने सारे है की आपको सभी का इस्तेमाल करने में थोडा समय लगेगा। इन फीचर में AR स्टीकर, AI ब्यूटी मोड, पोर्ट्रेट मोड, प्रो मोड, लाइव फोटो के अलाव और भी फीचर दिखाई देते है।

डेलाइट में 16MP प्राइमरी कैमरा से काफी अच्छा इमेज आउटपुट वाइड-डायनामिक रेंज के साथ मिलता है। क्लिक की गयी इमेज को थोडा बड़ी स्क्रीन पर देखने पर कुछ आउटपुट में आपको डिटेल्स कम दिखाई पड़ती है। लो-लाइट में सॉफ्टवेयर इमेज को थोडा शार्प कर देता ही जिसकी वजह से डिटेल्स कम नजर आती है।

8MP वाइड-एंगल कैमरा आउटडोर में और पर्याप्त रौशनी में काफी अच्छा काम करता है। ख़ैर यूजर वाइड एंगल का इस्तेमाल थोडा कम ही करते है तो इसके परफॉरमेंस से ज्यादा उम्मीद भी नहीं की जा सकती है।

2MP का डेप्थ सेंसर अच्छे पोर्ट्रेट शॉर्ट्स लेता है। एज डिटेक्शन भी अच्छा है, लेकिन कीमत को देखते हुए इनको बस अच्छा ही कहा जा सकता है।

32MP के सेल्फी कैमरा से AR स्टीकर वाली अच्छी इमेज आप प्राप्त कर सकते है।

कुल मिलाकर, Vivo S1 का कैमरा परफॉरमेंस को सिर्फ एवरेज की कहा जा सकता है लेकिन इस प्राइस सेगमेंट में आपको ज्यादा बेहतर कैमरा परफॉरमेंस देखने को नहीं मिलत है तो यह यूजर पर कुछ ख़ास प्रभाव नहीं डालेगा।

Vivo S1 रिव्यु: परफॉरमेंस एंड सॉफ्टवेयर

VIvo S1 में 12nm प्रोसेस वाली MediaTek Helio P65 चिपसेट दी गयी है। फोन को 4GB+128GB स्टोरेज, 6GB+64GB और 6GB+128GB के 3 अलग-अलग वरिएन्त में पेश किया गया है।

हमारे पास 6GB रैम और 128GB स्टोरेज वरिएन्त है। MediaTek चिपसेट दैनिक इस्तेमाल के लगभग सभी टास्क काफी अच्छे से पूरे करता है जबकि हाई-एंड गेमिंग में भी इसको कोई खास परेशानी नहीं होती है। PUBG आप इसमें आसानी से बैलेंस्ड और हाई ग्राफ़िक्स में खेल सकते है जबकि HD और High सेटिंग्स पर भी आप इसको मामूली से फ्रेम ड्राप के साथ खेल सकते है।

बेंचमार्क की जहाँ तक बात है Helio P65 को टेस्ट करने पर यह स्नैपड्रैगन 700-सीरीज या स्नैपड्रैगन 600-सीरीज से पीछे ही नज़र आता है जो आपको Vivo Z1 Pro में या इस प्राइस में कुछ अन्य फ़ोनों में देख सकते है।

सॉफ्टवेयर के तौर पर FunTouch OS 9.0 मिलता है जो iOS से काफी प्रेरित है। वैसे तो यह इंटरफ़ेस हमको ख़ास पंसद नहीं है लेकिन इसमें कस्टमाइज़ ऑप्शन काफी ज्यादा दिए गये है।

फोन में आपको काफी ज्यादा प्री-इन्सटाल्ड मिलती है जिनको आप आसानी से अन-इनस्टॉल कर सकते है। रैम मैनेजमेंट काफी एग्रेसिव है जो कभी कभी परेशानी भी देता है।

अभी के लिए यूनिट में आपको DRM L3 सर्टिफिकेट मिलता है तो आपको अभी के लिए HD स्ट्रीमिंग की सुविधा नहीं मिलती है लेकिन लांच इवेंट में ही साफ़ कर दिया गया है की अगस्त महीने के अपडेट में आपको DRM L1 सर्टिफिकेट देखने को मिल जायेगा।

इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर Vivo S1 पर काफी तेज और सटीक है। इसी के साथ फोन में अलग-अलग अनलॉक एनीमेशन देखने को मिलते है। IR फेस अनलॉक भी काफी तेज़ और सरल है।

Vivo S1 में आपको ड्यूल-सिम ड्यूल VoLTE का सपोर्ट मिलता है साथ ही कॉल क्वालिटी पर भी कोई समस्या नहीं होती है।

यह भी पढ़िए: 20,000 रुपए से कम कीमत में 10 बेस्ट फ़ास्ट चार्जिंग सपोर्ट वाले स्मार्टफोन

Vivo S1 रिव्यु: बैटरी और ऑडियो

बैटरी बैकअप Vivo S1 पर काफी अच्छा प्राप्त होता है। ऑप्टीमाइज़्ड सॉफ्टवेयर और पॉवर-एफ्फिसिएंट चिपसेट की वजह से 4500mAh की बैटरी आसानी से एक दिन से ज्यादा का बैकअप मिलता है। इसके साथ ही 18W का फ़ास्ट चार्जिंग ड्यूल इंजन सपोर्ट डिवाइस को काफी तेज़ी से चार्ज करता है।

बॉटम में दिए गये स्पीकर से ऑडियो आउटपुट काफी तेज़ तो है लेकिन क्वालिटी में थोडा कमी लगती है साथ ही हैडफ़ोन से आउटपुट भी एवरेज कहा जा सकता है।

यह भी पढ़िए: Vivo Z1 Pro (FAQ): Vivo Z1 Pro से जुड़े सभी सवालों का जवाब

Vivo S1 रिव्यु: निष्कर्ष

विविड डिस्प्ले, बेहतरीन बैटरी एक्सपीरियंस के साथ Z1 Pro एक काफी अच्छा अच्छा किफायती फोन साबित होता है। अगर कुल मिलाकर पूरे एक्सपीरियंस की बात करे तो एक्सपीरियंस अच्छा है। MeditaTek Helio P65 की जहाँ तक बात है तो अगर अप सिर्फ गेमिंग को ज्यादा पसंद करते है तो Z1 एक अच्छा ऑप्शन साबित होगा।

यह बात भी ध्यान देने वाली है की Vivo Z1 Pro से अलग Vivo S1 ऑफलाइन मार्किट में भी बिक्री के लिए उपलब्ध होगा। यह ऑनलाइन एक्स्क्लुसिस तो नहीं है लेकिन इस प्राइस सेगमेंट के लिए यह अन्य ऑफलाइन ऑप्शन की तुलना में बेहतर साबित होगा।

खूबियाँ

  • AMOLED डिस्प्ले
  • इन-डिस्प्ले सेंसर
  • फेस अनलॉक
  • लम्बा बैटरी बैकअप
  • डिसेंट परफॉरमेंस
  • डेडिकेटेड कार्ड स्लॉट

कमियाँ

  • HD स्ट्रीमिंग ना होना
  • टाइप-C पोर्ट ना होना

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here