आज के समय में जिस तरह गेमिंग फ़ोनों की तरफ यूजर का झुकाव देखने को मिल रहा है उसी को देखते हुए इंडियन मार्किट में गेमिंग-सेंट्रिक फ़ोनों को लांच करने का सिलसिला शुरू हो गया है। (Vivo Z1 Pro Review Read in English)

Vivo ने सबसे पहले गेमिंग परफॉरमेंस बेहतर करने के लिए बेहतर चिपसेट का इस्तेमाल करने की ओर ध्यान देते हुए अपने नए लेटेस्ट Z1 Pro को इंडियन मार्किट में आज लांच कर दिया है। यह नया Z1 Pro Vivo का अभी तक का सबसे अच्छे प्राइस एंड स्पेसिफिकेशन वाला स्मार्टफोन है जो इंडिया में भी उपलब्ध है। यह फ़ोनों ख़ास तौर पर गेमिंग को ध्यान में रखते हुए पेश किया गया है।

यह थोडा सही भी लगता है क्योकि Xiaomi, Realme और अब Samsung जैसे ब्रांड ने भी किफायती कीमत के साथ बेहतर हार्डवेयर पेश करना शुरू कर दिया है।

तो क्या यह Vivo का लेटेस्ट स्नैपड्रैगन 712 चिपसेट वाला फोन अपनी कीमत के हिसाब से बेहतर साबित हो पायेग? या इस सेगमेंट में Xiaomi और Realme की लोकप्रियता बनी रहेगी? चलिए इसका जवाब देखते है Vivo Z1 Pro के डिटेल्ड रिव्यु पर:

यह भी पढ़िए: Honor 20i रिव्यु: बेहतर डिजाईन और दमदार परफॉरमेंस

Vivo Z1 Pro की कीमत और स्पेसिफिकेशन

मॉडल Vivo Z1 Pro
डिस्प्ले 6.53-इंच, FHD+ LCD, 19.5:9 आस्पेक्ट रेश्यो
प्रोसेसर ओक्टा-कोर स्नैपड्रैगन 712 चिपसेट,  Adreno 616 GPU
रैम 4GB/6GB
इंटरनल स्टोरेज 64GB/128GB
सॉफ्टवेयर एंड्राइड 9 पाई आधारित FunTouch OS
रियर कैमरा 16MP (f/1.8) +8MP (f/2.2) +2MP (f/2.4)
सेल्फी कैमरा 32MP, f/2.0
अन्य  USB टाइप-C पोर्ट, डेडिकेटेड गूगल बटन, L1 सर्टिफिकेट, 3.5mm ऑडियो जैक, अल्ट्रा गेमिंग मोड और मल्टी टर्बो मोड
बैटरी 5000mAh, 18W फ़ास्ट चार्जिंग
इंडियन प्राइस 14,990 रुपए / 16,990 रुपए / 17,990 रुपए

Vivo Z1 Pro रिव्यु: बॉक्स में आपको क्या मिलता है?

  • हैंडसेट
  • प्री-इन्सटाल्ड स्क्रीन प्रोटेक्टर
  • ट्रांसपेरेंट केस कवर
  • हैडफ़ोन
  • 18W चार्जिंग एडाप्टर
  • चार्जिंग केबल
  • सिम एजेक्टर टूल

Vivo Z1 Pro रिव्यु: डिजाईन और बिल्ड

सबसे पहले डिवाइस को देखते ही यह वजन में भारी और बड़ी लगती है। डिवाइस की बैक थोडा घुमावदार है जो फोन पकड़ने पर अच्छी ग्रिप में मदद करती है।

फोन के डिजाईन की सबसे ख़ास बात इसमें दिया लेटेस्ट ट्रेंडी पंच-होल कटआउट है जिसमे फ्रंट कैमरे को जगह दी गयी है। पंच होल या विवो के लिए इन-डिस्प्ले कैमरा डिस्प्ले से डिवाइस 90.77% स्क्रीन-टू-बॉडी रेश्यो तक प्राप्त करती है जिसका सीधा मतलब है डिस्प्ले के चारों ओर काफी पतले बेज़ेल देखने को मिलते है।

इसके साथ Vivo ने यहाँ पर पीछे पॉलीकार्बोनेट का इस्तेमाल किया है जो ग्लास-फिनिश ग्रेडिएंट बैक के साथ काफी आकर्षक लगता है। लेफ्ट कार्नर में ऊपर की तरफ ट्रिपल कैमरा सेटअप और फिंगरप्रिंट सेंसर भी एक दम सही जगह दिया गया है जिसको आसानी से इस्तेमाल कर सकते है। Sonic Blue कलर के साथ इसका ग्रेडिएंट पैटर्न काफी चमकदार मिलता है तो जिन यूजर को ये कम पसंद आएगा उनके लिए Mirror Black और Sonic Black काफी अच्छे विकल्प साबित हो सकते है।

अच्छी बात है की यहाँ Vivo ने अपनी डिवाइस में डेडिकेटेड कार्ड स्लॉट और 3.5mm ऑडियो जैक को जगह दी है लेकिन नीचे किनारे पर माइक्रो-USB पोर्ट ही देखने को मिलता है।

डिवाइस का साइज़ बड़ा होने पर भी आप वॉल्यूम बटन और पॉवर बटन को आसानी से इस्तेमाल कर सकते है। यह ये बटन प्लास्टिक के है जो बस एवरेज फीडबैक ही देते है। इसके अलावा बायीं तारक आपको डेडिकेटेड गूगल अस्सिस्टेंट बटन दिया गया है तो अगर आप गूगल अस्सिस्टेंट का काफी इस्तेमाल करते है तो यह आपको काफी ज्यादा पंसद आएगा साथ ही इसको आप अपनी पसंद के अनुसार कस्टमाइज़ भी कर सकते है।

कुल मिलाकर, Vivo Z1 Pro में आपको आज के लगभग सभी ट्रेंडी डिजाईन एलिमेंट देखने को मिलते है लेकिन कुछ छोटी कमी भी देखी जा सकती है। डिवाइस के बड़े साइज़ की वजह से यहाँ बड़ी स्क्रीन मिलती है साथ में 5000mAh की बड़ी बैटरी भी दी गयी है जो गेमिंग में काफी फायदेमंद साबित होती है।

Vivo Z1 Pro रिव्यु: डिस्प्ले

Vivo Z1 Pro में सामने की तरफ 6.53-इंच की आकर्डिषक डिस्प्ले दी गयी है। इस बड़ी साइज़ IPS LCD पैनल में 2340×1080 रेज़ोलुशन के साथ दी गयी है जो इसको काफी शार्प बनाता है।

इस सेगमेंट के अन्य फ़ोनों की ही तरह डिफ़ॉल्ट मोड में डिस्प्ले का वाइट-बैलेंस थोडा सा कूल-साइड दिखाई देता है लेकिन डिस्प्ले सेटिंग्स के तहत अपनी पसंद के अनुसार कलर एडजस्टमेंट स्लाइडर का इस्तेमाल करके इसमें बदलाव कर सकते है। डिफ़ॉल्ट फोंट्स साइज़ देखने में थोडा बड़ा लगता है तो इस्तेमाल करने के शुरुआत में हमने 1-साइज़ फॉण्ट को कम किया है। इसके साथ ही सेटिंग्स में आपको डार्क मोड और आई-प्रोटेक्ट मोड भी दिया गया है।

डिस्प्ले पर कलर काफी अच्छे और चमकदार दिखाए देते है, कंट्रास्ट थोडा ज्यादा है जो इसको मीडिया कंटेंट देखने और गेम खेलने के लिए काफी बेहतर डिवाइस बनाते है। आउटडोर विजिबिलिटी ठीक है लेकिन बहुत ज्यादा अच्छी भी नहीं कही जा सकती।

Vivo Z1 Pro रिव्यु (समीक्षा): परफॉरमेंस एंड सॉफ्टवेयर

डिवाइस इस्तेमाल करने पर हम यह जरुर कहेंगे की 20,000 रुपए से कम कीमत में यह बेस्ट चिपसेट ऑप्शन में से एक है जिसमे 6GB रैम और 128GB स्टोरेज का सपोर्ट है। इस रैम और चिपसेट कॉम्बिनेशन के साथ यह गेमिंग के लिए एक बेहतरीन डिवाइस साबित होती है।

Vivo Z1 Pro front punch-hole display

Vivo ने Z1 Pro में दमदार हार्डवेयर के साथ कुछ नए कूल गेमिंग फीचर भी डिवाइस में दिए है। हम साफ़ तौर पर कह सकते है की इस सेगमेंट में उपलब्ध अन्य फ़ोनों की तुलना में PUBG का एक्सपीरियंस काफी बेहतर है। इसके गेमिंग मोड और 4D वाइब्रेशन इसको और ज्यादा अच्छी गेमिंग डिवाइस बनाती है।

सॉफ्टवेयर की बात करे तो Z1 Pro एंड्राइड पाई आधारित FunTOuch OS पर रन करते हुए मिलता है। नया FunTouch OS आपको थोडा बेहतर नए डिजाईन के साथ आता है लेकिन इसमें अभी और सुधार की जरूरत है।

फोन का यूजर इंटरफ़ेस काफी हद तक iOS जैसा ही दिखाई देता है। यहाँ कोई एप्प ड्रावर नही है , डिफ़ॉल्ट की-बोर्ड मुझे जरा भी पसंद नहीं आया साथ में एप्लीकेशन काफी जल्द क्लोज हो जाती है और सबसे ज्यादा दिक्कत आती है सेटिंग्स में कोई भी ऑप्शन खोजने में जबकि टॉप पर एक सर्च बार भी दी गयी है।

एंड्राइड पाई आधारित सॉफ्टवेयर होने की वजह से इंटरफ़ेस में कुछ अच्छी चीजे भी प्राप्त कर सकते है जिनका आप ज्यादातर इस्तेमाल करते है जैसे लांचर आदि। लेकिन यहाँ सुधार की काफी अधिक गुंजाईश है।

हमारी रिव्यु यूनिट में Widewine L3 सर्टिफिकेट मिलता है जिसके साथ डिवाइस HD स्ट्रीमिंग सपोर्ट नहीं करती है। लेकिन लांच इवेंट में ही Vivo ने साफ कहा ही की रिटेल यूनिट में L1 सर्टिफिकेट दिया जायेगा।

कॉल क्वालिटी काफी अच्छी है लेकिन कभी कभी आपको बात करते इयरपीस को कान पर एडजस्ट करना पड़ता है ताकि आवाज साफ़ आये। हैंडसेट में ड्यूल 4G VoLTE, और ड्यूल-बैंड Wi-Fi का सपोर्ट भी मिलता है।

निजी रूप से कहूँ तो डिवाइस को अनलॉक करना एक काफी अच्छा एक्सपीरियंस है। फिंगरप्रिंट सेंसर काफी तेज़ है और फेस अनलॉक भी इतना तेज़ है की आपको शायद ही कभी लॉक-स्क्रीन देखने को मिले।

यह भी पढ़िए: Redmi K20 Pro Marvel Hero Limiter Edition हुआ लांच: जाने क्या है इसमें ख़ास?

Vivo Z1 Pro कैमरा रिव्यु

किफायती कीमत में अभी भी ड्यूल कैमरा सेटअप को एक अच्छा फीचर कहा जाता लेकिन हाल ही के कुछ समय में अब इस प्राइस सेगमेंट में आपको ट्रिपल कैमरा सेटअप भी देखने को मिल जाते है जैसा ही Z1 Pro मी दिया गया है।

16MP का प्राइमरी सेंसर के अलावा रियर कैमरा सेटअप में 8MP वाइड-एंगल शूटर और 2MP का डेप्थ सेंसर भी दिया गया है।

अगर आपके लिए मेगापिक्सेल काफी मायने रखते है तो यहाँ सामने की तरफ 32MP का सेल्फी कैमरा दिया है जो 32MP का ही इफेक्टिव आउटपुट देता है। कैमरा एप्लीकेशन में काफी अलग-अलग फीचर देखने को मिलते है लेकिन हमेशा उनका इस्तेमाल करना उतना आसान नहीं रहता है।

तो चलिए रियर कैमरा सैंपल पर नज़र डालते है:

16MP का कैमरा इनडोर प्रॉपर लाइटिंग या बेहतर डेलाइट में अच्छा आउटपुट देता है। हाँ, थोडा ट्रिकी लाइटिंग में परफॉरमेंस क्वालिटी के लिहाज़ से थोडा कम हो जाता है।

लो-लाइट और थोडा अँधेरे में कैमरा थोडा परेशान करता है लेकिन कुछ प्रयास के बाद आप संतोषजनक आउटपुट प्राप्त कर सकते है।

फ़ोन का नाईट मोड काफी बार काम आता है और लो-लाइट में अच्छा शॉर्ट्स कैप्चर करता है। अन्य फ़ोनों की तरह Z1 Pro का नाईट मोड का इस्तेमाल हम कम करते है क्योकि इसका ऑटो मोड ही काफी बेहतर आउटपुट देने में सक्षम है।

वाइड-एंगल कैमरा परफॉरमेंस के मामले में बस सही ही कहा जा सकता है लेकिन इस कीमत में आप ज्यादा उम्मीद नहीं करते पर डे-लाइट में कैप्चर किये शोर्ट अच्छे लगते है।

पोर्ट्रेट मोड का परफॉरमेंस एवरेज कहा जा सकता है। एज डिटेक्शन और ब्लर-क्वालिटी के बारे में यहाँ कहने को कुछ ज्यादा नहीं है।

अच्छी बात ये है की कैमरा एप्लीकेशन में ब्यूटी एनहांसमेंट को एक अलग मोड में दिया है। कैमरा इंटरफ़ेस में प्रो मोड, AR स्टीकर, फन विडियो मोड के अलावा और भी फीचर दिए गये है।

सेल्फी कैमरा फुल-रेज़ोलुशन में इमेज क्लिक करता है लेकिन आउटडोर में यह अच्छी क्लिक होती है। इसी के साथ अगर इनडोर में लाइटिंग अच्छी हो तो भी आपको बेहतर सेल्फी प्राप्त होती है।

कुल मिलाकर, Z1 Pro कैमरा परफॉरमेंस में कोई नया बेंचमार्क सेट नहीं करता है लेकिन इस कीमत के साथ इस कैमरा आउटपुट को बेहतर कहा जा सकता है।

Vivo Z1 Pro रिव्यु: बैटरी और ऑडियो

बैटरी बैकअप Z1 Pro के लिए उसकी बड़ी खासियत में से एक है। 5000mAh की बड़ी बैटरी आपको आसानी से एक दिन से ज्यादा का बैकअप देने में सक्षम है चाहे आप गेमिंग ही क्यों ना कर रहे हो। हेंडसेट में 18W ड्यूल इंजन फ़ास्ट चार्जिंग सपोर्ट भी देखने को मिलता है।

Vivo Z1 Pro का ऑडियो आउटपुट इस सेगमेंट के अन्य फ़ोनों की तुलना में काफी तेज़ है जो गेमिंग के लिए काफी बेहतर चीज है। हैडफ़ोनों से ऑडियो आउटपुट कीमत के हिसाब से अच्छा मिलता है लेकिन वायरलेस हैडफ़ोन से आउटपुट उतना बेहतर नहीं मिलता जितना हम उम्मीद करते है।

Vivo Z1 Pro रिव्यु: क्या साबित होती है बेस्ट गेमिंग डिवाइस?

Z1 Pro के साथ Vivo ने अपनी मिड-रेंज लाइन-अप में काफी बदलाव कर दिए है। अगर आप काफी गेमिंग करते है और 15,000 रुपए से कम कीमत में Vivo Z1 Pro आपके लिए बेस्ट स्मार्टफोन में से एक साबित हो जाता है। यह हैंडसेट आपको बेहतर हार्डवेयर, डेडिकेटेड कार्ड स्लॉट के साथ ऑडियो जैक भी देता है।

फोन का बड़ा साइज़ और ज्यादा वजन उन यूजर को पसंद नहीं आएगा जो कॉम्पैक्ट डिवाइस चाहते है। पिछले साल तक हम विवो फ़ोनों में सॉफ्टवेयर में कमी, टाइप-C पोर्ट नहीं या HD स्ट्रीमिंग का सपोर्ट ना होना जैसे पॉइंट्स सबसे ऊपर रखते थे लेकिन Z1 Pro में आपको इनमे से काफी चीजे देखने को नहीं मिलती है।

खूबियाँ

  • शानदार परफॉरमेंस
  • बेहतर गेमिंग
  • डेडिकेटेड कार्ड स्लॉट
  • ट्रेंडी डिजाईन
  • लम्बा बैटरी बैकअप

कमियाँ

  • बड़ा और भारी
  • USB टाइप-C पोर्ट का ना होना

Vivo Z1 Pro Video Review in Hindi

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here