Samsung Galaxy Z Fold 4 रिव्यु का संक्षिप्त विवरण:

सम्पादक की रेटिंग: 4/5

डिज़ाइन

डिस्प्ले:

परफॉरमेंस

बैटरी

कैमरा

Rating: 4.5 out of 5.

Rating: 4 out of 5.

Rating: 4 out of 5.

Rating: 3 out of 5.

Rating: 4.5 out of 5.

खूबियाँ

  • फोल्डेबल डिज़ाइन
  • बेहतरीन डिस्प्ले
  • अच्छी कैमरा परफॉरमेंस
  • प्रोसेसिंग क्षमता अच्छी है।

Cons

  • फ़ास्ट चार्जिंग ज़्यादा नहीं है
  • कीमत ज़्यादा है

फोल्डेबल स्मार्टफोनों के बाज़ार में Samsung एक लीडर के रूप में उभरा है। कुछ बेहतरीन फोल्डेबल डिवाइस लॉन्च करने के साथ ही, इस मार्किट में कंपनी का शेयर भी सबसे ज़्यादा है। हाल ही में कंपनी ने अपनी फोल्डेबल स्मार्टफोन सीरीज़ के सक्सेसर पेश किये हैं जिनमें Samsung Galaxy Z Fold 4 और Galaxy Z Flip 4 शामिल हैं। हमें हाल ही में रिव्यु के लिए Galaxy Z Fold 4 मिला है, जो पिछले साल सामने आये Samsung Galaxy Z Fold 3 का सक्सेसर है।

सच कहूं तो, इस नए फोल्डेबल किंग का अनुभव काफी अच्छा रहा, ठीक वैसा ही जैसा हम और आप एक अल्ट्रा-प्रीमियम स्मार्टफोन से उम्मीद करते हैं। अब हमें फ़ोन को इस्तेमाल करते हुए एक सप्ताह से कुछ ज़्यादा हो चुका है और हम अब इसप्रेमियम फोल्डेबल का अनुभव एक रिव्यु द्वारा आपके साथ शेयर करने वाले हैं, जो इस डिवाइस को खरीदने के निर्णय में आपके लिए काफी मददगार साबित हो सकता है।

Samsung Galaxy Z Fold 4 की कीमतें और उपलब्धता

Samsung Galaxy Z Fold 4 भारत में 1,54,999 की कीमत पर उपलब्ध है और आप इसे ऑनलाइन रिटेल वेबसाइट और ऑफलाइन स्टोरों, दोनों जगहों से खरीद सकते हैं। इसके लिए आप Samsung India की ऑफिशियल वेबसाइट पर भी आर्डर दे सकते हैं। फ़ोन में 12GB+1TB स्टोरेज के साथ टॉप-वैरिएंट की कीमत 1,84,999 रूपए है।

Samsung Galaxy Z Fold 4 स्पेसिफिकेशन

मॉडल Samsung Galaxy Z Fold 4
डिस्प्ले 7.6-इंच QXGA+ LTPO AMOLED डिस्प्ले
6.2-इंच AMOLED कवर डिस्प्ले
रियर कैमरे 50MP + 12MP + 10MP
फ्रंट कैमरे 4MP अंडर डिस्प्ले सेंसर + 10MP का सेल्फी सेंसर (कवर डिस्प्ले पर)
प्रोसेसर Snapdragon 8+ Gen 1 चिपसेट
सॉफ्टवेयर Android 12L
बैटरी 4400mAh + 25W फ़ास्ट चार्जिंग सपोर्ट
कनेक्टिविटी eSIM, USB Type-C पोर्ट, NFC, ब्लूटूथ 5.0, Wi-Fi 802.11ac, 5G, और GPS
कीमतें 1,54,999 से शुरू

Samsung Galaxy Z Fold 4 रिव्यु: डिज़ाइन

हालांकि डिज़ाइन में आपको यहां बहुत अधिक बदलाव नज़र नहीं आएगा, लेकिन फिर भी कुछ छोटी-छोटी चीज़ें हैं, जो इस फोल्डेबल सीरीज़ के इस चौथे फ़ोन में बदली गयीं हैं। फ़ोन की बाहरी डिस्प्ले, Fold 3 के मुकाबले थोड़ी बड़ी और चौड़ी है। रियर पैनल पर भी बारीकियों से देखेंगे तो कुछ छोटे-मोठे बदलाव है, लेकिन वो आपको तभी समझ आएंगे, जब आप इस फ़ोन को इसके प्रेडेसर Fold 3 के साथ हाथों में पकड़कर देखेंगे।

फ़ोन में रियर पैनल और कवर डिस्प्ले, दोनों पर कोर्निंग गोरिल्ला ग्लास विक्टस+ की सुरक्षा है। फ़ोन का हिन्ज और बाकी बॉडी आरमोर एल्युमिनियम की बनी है। प्रेडेसर के मुकाबले इसका वज़न (263 ग्राम) भी यहां थोड़ा ही सही, लेकिन कम है। इसके 10 दिन तक इस्तेमाल करने के बाद, हम इतना तो कह सकते हैं कि ये एक स्क्रैच रेसिस्टेंट फ़ोन है, जो कि काफी अच्छी बात है। वैसे भी, 1.5 लाख रूपए के फ़ोन पर स्क्रैच कौन देखना चाहेगा। हालांकि डिज़ाइन में कई बदलाव हुए है, जो इसे बेहतर बनाते हैं, लेकिन फिर भी ये वो डिवाइस बिलकुल नहीं है, जिसे आप एक हाथ से चला सकें।

एक और चीज़, जो यहां काफी अच्छी है, कि इस फोल्डेबल फ़ोन की हिन्ज (जहां से ये मुड़ता है), Fold 3 के मुकाबले क़ाफी स्लिम है। फ़ोन में अंदर की यानि मुख्य स्क्रीन 7.6 इंच की है और इसके बेज़ेल पिछले फोल्डेबल फ़ोन से काफी पतले किये गए हैं। अगर आप इस पर और गौर करेंगे तो आपको 4MP का नया और बेहतर अंडर-डिस्प्ले कैमरा नज़र आएगा। लेकिन अच्छी बात ये है कि इस बार ये आसानी से नज़र नहीं आएगा और कुछ देखते या ऐप इस्तेमाल करते समय आपको एक सम्पूर्ण डिस्प्ले के साथ एक अच्छा अनुभव मिलेगा।

ये फ़ोन भी पहले आये सभी फोल्डेबल फोनों की तरह, किताब जैसे ही खुलता और बंद होता है। फ़ोन का डिज़ाइन और फंक्शन भी Fold 3 से मिलता-जुलता है। हालांकि बारीक बदलाव हैं, लेकिन वो किसी भी उपयोगकर्ता को तभी समझ आएंगे, अगर उसने Fold 3 का इस्तेमाल किया है। और अगर आप Fold 3 से Fold 4 पर अपग्रेड करते हैं, तो आपको इसकी 3mm बड़ी स्क्रीन, टाइपिंग के दौरान काफी अच्छी लगेगी। स्क्रीन के ज़रा से बढ़ जाने से और कीबोर्ड में थोड़े से अपडेट के साथ टाइपिंग का अनुभव आपको काफी अच्छा लगेगा। साथ ही स्क्रीन के बेज़ेल भी पतले हुए हैं, जो वीडियो स्ट्रीमिंग के दौरान काफी अच्छे लगते हैं।

Samsung Galaxy Z Fold 4 रिव्यु: डिस्प्ले

Samsung Galaxy Z Fold 4 डिस्प्ले

डिस्प्ले की बात करें तो, Samsung Galaxy Z Fold 4 में 7.6-इंच की QXGA+ LTPO AMOLED डिस्प्ले है, जो 120Hz अडैप्टिव रिफ्रेश रेट के साथ मिलती है। वहीँ फ़ोन की बाहरी यानि कवर डिस्प्ले भी 6.2-इंच की है, ये एक AMOLED पैनल है, जो 120Hz रिफ्रेश रेट के साथ यहां लगाई गयी है। फ़ोन पर वीडियो स्ट्रीमिंग या कुछ भी देखने का अनुभव काफी अच्छा रहा। और ये अनुभव हमें पहले दिन से ही महसूस हुआ है। फ़ोन की मुख्य डिस्प्ले बाहर की रौशनी में भी 1200 निट्स ब्राइटनेस के साथ काफी अच्छी नज़र आयी। इस ब्राइटनेस ने भी हमारा अनुभव और थोड़ा बेहतर ही किया है।  

इस बार नए फोल्डेबल फ़ोन में उपयोगकर्ताओं का अनुभव और बेहतर करने के लिए, कवर डिस्प्ले भी Fold 3 से थोड़ी चौड़ी और हल्की-सी छोटी की गयी है। लेकिन वहीँ दूसरी तरफ, इस फ़ोन को फोल्ड करना, एक लड़ाई लड़ने से कम नहीं है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि आपको इसमें थोड़ी ताकत लगानी पड़ती है, ये इतने आराम से नहीं खुलता। साथ ही यहां Samsung की पॉपुलर Note सीरीज़ का अनुभव देने के लिए S-Pen सपोर्ट भी है।

हमने यहां दोनों डिस्प्ले पर कुछ देर She-Hulk देखा। अच्छी बात ये रही कि कवर और मुख्य डिस्प्ले, दोनों ही सूरज की रौशनी में भी आराम से देखी जा सकती हैं, जो किसी भी स्मार्टफोन यूज़र के लिए एक ज़रूरी फ़ीचर है। हमने इस पर Netflix द्वारा भी कंटेंट देखा। बाहर की कवर डिस्प्ले पर कंटेंट अच्छा चलता है, लेकिन मुख्य स्क्रीन चौकोर होने के कारण उसमें ऊपर और नीचे काली स्क्रीन नज़र आती है, जो इस अनुभव में हल्की-सी रूकावट बनती है। कुल मिलाकर कहें तो, Samsung का ये फोल्डेबल फ़ोन बाज़ार में उपलब्ध बाकी फोल्डेबल फोनों के मुकाबले कहीं बेहतर अनुभव देता है।

Samsung Galaxy Z Fold 4 रिव्यु: परफॉरमेंस

ये फ़ोन अपने आप में एक बेस्ट- परफ़ॉर्मर फ़ोन है, जो Snapdragon 8+ Gen 1 चिपसेट के साथ आएगा। ये चिपसेट 4nm फेब्रिकेशन नोड पर आधारित है। इस समय ये ओक्टा कोर चिपसेट, इंडस्ट्री में बेस्ट परफॉरमेंस देने वाला फ्लैगशिप चिपसेट है और इससे जैसी उम्मीद लगाई जाती है, ये फ़ोन भी वैसी ही परफॉरमेंस देता है। हालांकि इसका मतलब ये बिलकुल नहीं है, कि Samsung का ये फ़ोन इस समय का सबसे तेज़ और बेहतर एंड्राइड फ़ोन है। इसके साथ ही इसमें 12GB तक की रैम और 512GB तक की स्टोरेज मौजूद है।

अब इस कॉन्फ़िगरेशन को वास्तव में इस्तेमाल करते समय, हमने इस फ़ोन पर थोड़ा लोड बढ़ाने के लिए Play Store से Genshin Impact एफपीएस मोबाइल गेम इनस्टॉल किया। और जैसे हमें उम्मीद थी, ये गेम, इस Galaxy Fold 4 पर काफी समय तक बिना किसी लैग या गर्म होने जैसी समस्या के बिना चलता रहा। साथ ही इस फ़ोन पर मल्टी-टास्किंग करना भी काफी स्मूथ और मज़ेदार है। आपको कई ऐप्स एक साथ चलाने में कोई समस्या नज़र नहीं आएगी।  

ये फोल्डेबल फ़ोन, Samsung का पहला ऐसा फ़ोन है, जिसमें Android 12L आधारित OneUI 4.1.1 स्किन मौजूद है। Android 12L वो ऑपरेटिंग सिस्टम है, जिसे ख़ास तौर से बड़े स्क्रीनों के लिए डेवेलप किया गया है। इस एंड्राइड वर्ज़न का काम ड्यूल डिस्प्ले परफॉरमेंस को अच्छे से ऑप्टिमाइज़ करना है 

Samsung Galaxy Z Fold 4 सॉफ्टवेयर

इस सॉफ्टवेयर की सबसे अच्छी बात यही है, कि ऐप्स कवर और मेन डिस्प्ले के अनुसार एडजस्ट करने में सक्षम है। यानि कोई ऐप आपने कवर डिस्प्ले पर खोली और फ़ोन को अनफोल्ड यानि खोला तो बड़ी स्क्रीन पर वही ऐप उस स्क्रीन के अनुसार नए इंटरफ़ेस के साथ नज़र आएगी। साथ ही कंपनी ने इस फ़ोन पर 4 नए एंड्राइड अपडेट और 5 साल तक सिक्योरिटी अपडेट का वादा भी किया है।

अब जब डिस्प्ले के फोल्ड- अनफोल्ड की बात चली है, तो ये ज़रूर ध्यान रखिये कि बड़ी स्क्रीन से कॉल करते समय फ़ोन के लाउडस्पीकर का उपयोग करें।

इसके अलावा फ़ोन की परफॉरमेंस को और बढ़ाने के लिए यहां टास्कबार भी है। इस टास्कबार में आप उन ऐप्स को रख सकते हैं, जिन्हें सबसे ज़्यादा इस्तेमाल करते हैं। यहां आप अपने अनुसार ऐप्स को डाल सकते हैं, या हटा सकते हैं। ये काम करने के लिए बस इस टास्क-बार में ऐप को ड्रैग करें या यहां से ड्रैग करके बाहर छोड़ दें। इसके अलावा आप एक ही समय पर इस स्क्रीन में तीन फ्लोटिंग विंडोज़ में अलग-अलग ऐप्स का इस्तेमाल, एक ही समय पर कर सकते हैं। हमने तीन विंडोज़ खोलीं और ऐप्स का इस्तेमाल भी किया, और ये फ़ोन इस दौरान स्मूथली काम करता रहा।

हालांकि ये सभी फ़ीचर इस डिवाइस के अनुसार काफी अच्छे हैं, सॉफ्टवेयर को भी ख़ासतौर से बड़ी स्क्रीन के अनुसार ही डेवेलप किया गया है। लेकिन फिर भी, इस डिवाइस में कुछ कमियाँ हैं, जिन्हें शायद जाने में और समय लगेगा। जैसे कि पहले ही Galaxy Fold से अब तक Instagram जैसी प्रचलित ऐप इस डिवाइस के अनुसार ऑप्टिमाइज़ नहीं की गयी है। साथ ही इस पर Amazon Prime Video भी Flex mode सपोर्ट नहीं करती है।

Samsung Galaxy Z Fold 4 रिव्यु: कैमरा

Galaxy Fold 4 कैमरा

Samsung Galaxy Z Fold में ट्रिपल रियर सेंसर मौजूद हैं, जिनमें 50MP का प्राइमरी सेंसर, 12MP का उल्ट्रा-वाइड एंगल लेंस, और एक 10MP का टेलीफ़ोटो सेंसर, जो 3x ऑप्टिकल ज़ूम और 30x डिजिटल ज़ूम के साथ आएगा, शामिल हैं। सच कहें तो, फ़ोन के प्राइमरी सेंसर से ली गयीं तस्वीरें, काफी आकर्षित करने वालीं हैं और उम्मीद से बेहतर हैं। ये 50MP का कैमरा टेट्रा बाइनिंग टेक्नोलॉजी पर आधारित है, जो 12MP रेज़ॉल्यूशन की तस्वीर क्लिक करता है। वहीँ इस फ़ोन में भी पिछले साल आये Fold 3 की तरह ही मुख्य स्क्रीन पर 4MP का अंडर-डिस्प्ले सेल्फी कैमरा और कवर स्क्रीन पर 10MP का सेल्फी कैमरा मौजूद है।

इस स्मार्टफोन का मुख्य 50MP का कैमरा आपको किसी भी तरह की रौशनी या लो-लाइट की परिस्थिति में बेस्ट शॉट क्लिक करके देता है। आप चाहे इससे वाइड-एंगल शॉट लें या पोर्ट्रेट, ये सेंसर आपको बेहतरीन परिणाम ही देगा। अब इसके 12MP अल्ट्रा-वाइड कैमरे की बात करें, ये सेंसर भी एक तस्वीर में ाको अच्छी मात्रा में डिटेल देने में सक्षम है। वहीँ टेलेफोटो लेंस भी प्राइमरी सेंसर जीतें तो नहीं, लेकिन काफी अच्छे फोटो ले पाता है।  

इसमें एक और अनोखा फ़ीचर भी है। आप इस नए Galaxy Z Fold 4 के प्राइमरी कैमरे को सेल्फी कैमरे की तरह भी इस्तेमाल कर सकते हैं। ये फ़ीचर काफी अच्छा है, और इसने हमें थोड़ा हैरान भी किया।

वीडियो रिकॉर्ड करने के बारे में कहें तो, ये फ़ोन इस मामले में भी आपको निराश नहीं करता और अपना काम ठीक से करता है। इसमें वीडियो रिकॉर्डिंग के लिए Director मोड भी है, जिसे अक्सर ब्लॉगर या अन्य प्रोफेशनल लोग वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए इस्तेमाल करते हैं। इसमें एक ही वीडियो की शूटिंग के दौराब आप तीनों कैमरों के बीच में बदल बदल कर शूटिंग कर सकते हैं।  

इसमें HDR mode भी है, जो तस्वीरों में क्लिक हुए शैडो यानि छाया वाले एरिया को बहुत अच्छे से रिकवर करके देता है। फोन का Night portrait मोड भी रात या शाम में ली गयीं तस्वीरों में नॉइज़ को कम करने का काम करता है। हालांकि इसका अल्ट्रा-वाइड कैमरा, कम रौशनी में थोड़ा निराश करता है और दिन के मुकाबले तस्वीरों में डिटेल काफी कम नज़र आती हैं।

फ़ोन में प्राइमरी स्क्रीन पर मौजूद 4MP के अंडर-डिस्प्ले सेंसर से भी आप ज़्यादा उम्मीदें ना ही लगाएं, तो बेहतर है। इससे आप अच्छी सेल्फी नहीं ले पाएंगे। साथ ही कंपनी ने भी साफ़ कहा है कि ये कैमरा मात्र वीडियो कॉल करने के उद्देश्य से ही यहां लगाया गया है।

Samsung Galaxy Z Fold 4 रिव्यु: बैटरी

Samsung Galaxy Z Fold 4 में 4400mAh की बैटरी है और ये 25W फ़ास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ यहां दी गयी है। और यही इस फ़ोन की सबसे बड़ी कमी के रूप में नज़र आती है। अब जहां अधिकतर फ्लैगशिप जैसे OnePlus 10 Pro 80W, Xiaomi 12 Ultra 120W और OnePlus 10R 150W तक की फ़ास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ आते हैं, वहीँ ये 1.5 लाख का फ़ोन मात्र 25W चार्जिंग सपोर्ट के साथ बाज़ार में आया है, जो कि आज के समय को देखते हुए काफी धीमी है। ऐसे में अगर आप इस फ़ोन की बड़ी डिस्प्ले का उपयोग ज़्यादा करते हैं, तो बैटरी जल्दी जाती है और ऐसे में चार्जर साथ होना आवश्यक है। इस स्मार्टफोन की ये 4400mAh की बैटरी 0 से 100% तक चार्ज होने में लगभग 1 घंटे और 40 मिनटों का समय लेती है।

हालांकि अगर आप इस्तेमाल करते समय, इसमें मौजूद Protect Battery mode (प्रोटेक्ट बैटरी मोड) को ऑन करते हैं, तो ये बैटरी थोड़ी लम्बी चल सकती है। Samsung से फ़ास्ट चार्जिंग के क्षेत्र में और बेहतर करने की उम्मीद काफी समय से की जा रही है। ऐसे में इस स्लो चार्जिंग स्पीड के अलावा, ये फ़ोन और भी निराश तब कर देता है, जब बॉक्स खोलने पर इसके साथ चार्जर नहीं मिलता। अब फ़ोन इतना महंगा है, तो कम-से-कम चार्जर तो साथ में मिलना ही चाहिए।

इसकी बैटरी टेस्टिंग के लिए, हमने इसे फुल चार्ज किया और इसके बाद इस पर कई काम किये जैसे कि कॉल करना, OTT ऐप्स द्वारा शो या फिल्में देखना, हैवी गेमिंग और इंटरनेट सर्फिंग। इस सबके साथ ये फ़ोन लगभग 7 से 8 घंटे तक चला और इसके बाद इसमें 10% बैटरी बची थी। लगभग 1 घंटे वीडियो देखने के बाद इसकी वीडियो 14% तक कम हुई और हैवी मोबाइल गेम खेलते समय इसकी बैटरी 1 घंटे में लगभग 17% तक जाती है।

रिव्यु वर्डिक्ट: क्या आपको Samsung Galaxy Z Fold 4 खरीदना चाहिए ?

इस बात में कोई दोराहे नहीं है कि फोल्डेबल की दुनिया में Samsung के ये फ़ोन बेहतरीन हैं और काफी अच्छी परफॉरमेंस भी देते हैं। पिछले चार सालों में कंपनी ने इस फोल्डेबल फ़ोन में कई सुधार किये हैं, जिसके बाद Samsung Galaxy Z Fold 4 उन लोगों की पहली पसंद बन सकता है, जिन्हें एंड्राइड फ़ोन में ही अल्ट्रा-प्रीमियम अनुभव चाहिए। हालांकि अभी भी, ज़्यादातर स्मार्टफोन उपभोक्ताओं के लिए फोल्डेबल फ़ोन का कॉन्सेप्ट अभी भी नया ही है।

तो, यहां अपेक्षा कर सकते हैं कि ये नया सैमसंग का फोल्डेबल डिवाइस, इस बार ज़्यादा लोगों को आकर्षित करेगा। साथ ही ये उन लोगों के लिए बेस्ट फ़ोन है, जो फ़ोन के साथ साथ एक पॉकेट टैबलेट की तलाश में हैं। साथ ही इसमें 8K वीडियो रिकॉर्डिंग सपोर्ट, बेहतर नाईट फोटोग्राफी जैसे फ़ीचर भी इसे अन्य फोल्डेबल फोनों के मुकाबले प्रतियोगिता में आगे रखते हैं।

हालांकि, इसकी कीमत एक बहुत बड़ा कारण है, जिस वजह से ज़्यादातर जनता की पहुँच से बाहर है, या लोग लोग इसे ना खरीदें। इसके अलावा सॉफ्टवेयर साइड पर आने वाले बग्स, जैसे इंस्टाग्राम और Prime वीडियो का फ़ोन की स्क्रीन के अनुसार नहीं चलना भी इसकी कमी है। हालांकि उम्मीद यही है कि ये लोगों को Fold 3 के मुकाबले ज़्यादा पसंद आएगा, क्योंकि कंपनी ने इस नए फ़ोन में छोटे-छोटे बदलावों के साथ इसे और बेहतर बनाते हुए, फोल्डेबल की दुनिया में एक कदम आगे और रखा है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें