Samsung Galaxy Z Fold 3 फुल रिव्यु

Main Image
  • Like
  • Comment
  • Share

2019 में स्मार्टफोन के बाज़ार जब एक जैसे दिखने वाले और सामान स्पेसिफिकेशन वाले स्मार्टफोनों से भरा पड़ा था, तब Samsung ने Galaxy Fold को लॉन्च किया, जिसने सभी का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित किया। ऐसा नहीं था कि इसका सिर्फ लुक या डिज़ाइन अलग था, बल्कि ये एक नया फॉर्म फैक्टर था जो उस समय के स्मार्टफोनों से अधिक सक्षम था। हालांकि टेक्नोलॉजी क्षेत्र में ये एक नया आविष्कार ज़रूर था, लेकिन सबसे पहला था तो ज़ाहिर है कि कुछ जगहों पर सुधार की गुंजाइश भी दिखी। Samsung ने भी इसकी कमियों को स्वीकारते हुए इसमें बदलाव किये और फिर सेकेंड-जनरेशन Galaxy Z Fold 2 लॉन्च किया गया। अब फिर साल भर बाद कंपनी ने और बेहतर बदलाव और कुछ बारीकियों से सुधार करने के बाद, इसका सक्सेसर Z Fold 3 लॉन्च किया है।

जी हाँ ! इस बार भी कंपनी ने वही फोल्डेबल टैबलेट फ़ोन का ही फॉर्मेट अपनाया है जिसे Z Fold 3 5G का नाम दिया है। साथ ही एक और फोल्डेबल फ़ोन भी कंपनी ने लॉन्च किया है जो एक छोटा फ्लिप फ़ोन है और इसका नाम Galaxy Z Flip 3 5G है। दोनों के ही अपने -अपने इस्तेमाल करने के तरीके हैं और किस ग्राहक को क्या चाहिए, उसके अनुसार वो इन दोनों स्मार्टफोनों में चयन कर सकता है। मुख्यत: Galaxy Z Fold 3 उन लोगों की पसंद होगा जिन्हें एक काफी बड़ा और बेज़ेल-लेस डिस्प्ले चाहिए। साथ ही इस वर्ष लॉन्च हुए इस फ़ोन में आपको S-Pen का सपोर्ट भी मिलेगा, जो Fold में आपको Galaxy Note सीरीज़ का फील भी दे सकेगा। इस स्मार्टफोन में और भी काफी कुछ दिलचस्प चीज़ें या फ़ीचर दिए गए हैं। Z Fold 3 में हाई-एन्ड फ़ीचर जैसे कि अंडर पैनल (डिस्प्ले) कैमरा, IPX8 वाटरप्रूफिंग रेटिंग, पहले से मज़बूत और बेहतर हिन्ज मैकेनिज़्म, मज़बूत, लेकिन अल्ट्रा-थिन ग्लास, और भी काफी कुछ।

सभी स्मार्टफोन जो जिस समय बाज़ार में हैं, की शुरूआती कीमत या तो वही रहती है या फिर साल-दर-साल कम होती जाती है। अपनी Q2 2021 की कमाई के बारे में बताते हुए, Samsung ने अपना उद्देश्य भी साफ़ किया और कहा कि वो फोल्डेबल स्मार्टफोन केटेगरी को मेनस्ट्रीम बनाकर प्रीमियम सेगमेंट में अपनी लीडरशिप को और मज़बूत करने का प्रयास कर रहे हैं।

लेकिन आपको क्या लगता है! क्या Samsung वाकई में फोल्डेबल डिवाइसों को आम जनता तक पहुंचाने या उन्हें आम जनता के लिए सुलभ बनाने में कामयाब रहा ? दुसरे सरल शब्दों में कहें तो, क्या ये नए फोल्डेबल स्मार्टफोन वास्तविक रूप में नए ज़माने के फ्लैगशिप फ़ोन बन सकते हैं ?

आइये इन सवालों का ज़वाब हम आपको अपने इस Galaxy Z Fold 3 के विस्तृत रिव्यु में देने की कोशिश करते हैं।

ये पढ़ें: Samsung Galaxy A22 5G डिटेल रिव्यु

Contents-

रिव्यु शुरू करने से पहले एक नज़र डालते हैं इसके बॉक्स में मिलने वाली सामग्री की तरफ-

Galaxy Z Fold 3 5G : अनबॉक्सिंग

Galaxy Z Fold 3 जितनी उम्मीद थी, उससे छोटे बॉक्स में आया है। इस गत्ते के बॉक्स के ऊपर काफी बड़ा Z प्रिंट किया गया है। इसके साइड़ों पर भी ब्रांड का नाम है। बॉक्स खोलते ही सबसे पहले ये प्रीमियम फ़ोन नज़र आता है और उसके बाद इसमें जो मिलता है-

  • USB Type-C-टू-C केबल
  • SIM इजेक्टर पिन
  • एक क्विक स्टार्ट गाइड

इसमें आपको बॉक्स में चार्जर नहीं दिया गया है।

Galaxy Z Fold 3 रिव्यु: डिज़ाइन

बॉक्स में ये डिवाइस अनफोल्ड होकर यानी कि बिना फोल्ड के सीधे ही आता है। अब ज़ाहिर कि आप इसे बॉक्स में से निकालकर फोल्ड करने की कोशिश करेंगे, और ऐसा करते ही आपको एक संतोषजनक अनुभव मिलेगा। और इसके बाद आपका ध्यान उस मज़बूत जोड़ की तरफ जाएगा जो बीच में मौजूद है। ये एक मज़बूती के साथ जुड़ता है और जो इसकी जगह है वहीँ ठहरता है। हम इसमें दिए गए ‘Hideway Hinge’ की ही बात कर रहे हैं। ये हिडवे हिन्ज और फ्रेम, दोनों ही बेहद मज़बूत ‘Armor Aluminum’ (आर्मोर एलुमिनियम) से बने हैं जो कि नियमित एल्युमीनियम के मुकाबले 10% अधिक मज़बूत है। कंपनी ने दावा किया है कि Z Fold 3 को 2,00,000 से अधिक बार फोल्ड करके टेस्ट किया गया है।

इस स्मार्टफोन को एक साथ से खोल पाना ज़रा मुश्किल रहा है, तो आपको भी यहां इसे खोलने के लिए दोनों हाथों का इस्तेमाल कर सकते हैं और उसके बाद आप इस बड़ी स्क्रीन का इस्तेमाल कर पाएंगे।

यहां कुछ एक नयी चीज़ों का भी इस बार इस्तेमाल कंपनी द्वारा किया गया है जैसे कि पिछले बार के Fold 2 पर प्लास्टिक का अनुभव देने वाले स्क्रीन गार्ड की जगह इस बार PET (Polyethylene Terephthalate) का उपयोग किया गया है। कंपनी को भी विश्वास है कि ये फ़ोन की डिस्प्ले सम्बन्धी डिज़ाइन के लिए काफी अधिक बेहतर है और इसीलिए उन्होंने Galaxy Z Fold 3 के साथ S-Pen उपयोग करने का मौका भी दिया है।

इसके स्क्रीन को और मज़बूती देने के लिए बाहर की तरफ की स्क्रीन पर कोर्निंग गोरिल्ला ग्लास विक्टस (Gorilla Glass Victus) की परत भी है, जिसे Z Fold 2 में दिए गए गोरिल्ला ग्लास 6 के मुकाबले 50% अधिक मज़बूत बताया जा रहा है।

वैसे अब ये तो समय ही बताएगा कि ये स्क्रीन कितनी मज़बूत है। लेकिन इस्तेमाल के दौरान ये काफी स्मूथ और काफी बेहतर रेस्पॉन्स देने वाली रही। इसके अलावा बाकी डिटेल नीचे डिस्प्ले सेक्शन में आपको बताएँगे।

दायीं साइड पर जो बटन आपको मिलती हैं, उनमें पावर की-कम-फिंगरप्रिंट स्कैनर, वॉल्यूम रॉकर शामिल हैं। ये आसानी से आपकी पहुँच में आ जाएंगी, अगर ये फ़ोन खुला हुआ है तब भी आप इनका इस्तेमाल आसानी से कर सकेंगे। हालांकि हल्की गीली उँगलियों के साथ फिंगरप्रिंट सेंसर कभी-कभी काम नहीं करता है। वैसे बेहतर अनलॉकिंग के लिए आप ऊँगली के निचले हिस्से को अवश्य और अच्छी तरह रजिस्टर करें। इसके अलावा आप फेस अनलॉक का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, जो यहां अच्छा काम करता है (अगर आपका फेस गलत एंगल में नहीं है तो)।

वहीँ दूसरी तरफ, एक सिम ट्रे है। हालांकि दो सिम का इस्तेमाल संभव हैं, लेकिन एक उनमें eSIM होनी चाहिए। वैसे अगर यहां रेगुलर वही दो सिम लगाने वाला कार्ड स्लॉट होता, तो और बेहतर होता।

नीचे और ऊपर की तरफ, दो स्टीरियो स्पीकर हैं। इसके अलावा USB Type-C (3.2) पोर्ट और माइक भी इसमें शामिल हैं। इसके अलावा पूरे स्ट्रक्चर में कोई भी चिंताजनक गैप नहीं है और अगर हैं भी तो उन्हें अच्छी तरह रबर और ग्लू के साथ बंद किया गया है। इसी तरह के समाधान के साथ कंपनी ने यहां IPX8 रेटिंग के साथ वॉटर प्रूफिंग को और पक्का करने का प्रयत्न किया है। और इस तरह के डिवाइस में वॉटर प्रूफिंग का सर्टिफिकेशन देना अपने आप में बहुत बड़ी बात है, जिसमें इस तरह के हिलने-डुलने वाले कॉम्पोनेन्ट लगाए गए हों। लेकिन यही सब इस फ़ोन की बाद में रिपेयर को और कठिन भी बना सकता है। तो अगर कभी आगे ज़रुरत पड़े तो हम यही सलाह देंगे कि इसे ठीक कराने के लिए पहली सलाह Samsung के सपोर्ट सेंटर से ही लें।

ये ज़रूर ध्यान रखें कि यहां आपको कोई डस्ट यानि कि धुल से सुरक्षा के लिए रेटिंग नहीं है। और अगर फिर भी कहीं धूल जाती है इसमें तो उम्मीद कीजिये कि अंदर के ब्रश ब्रिसल्स उन कणों को दूर करें। इस फ़ोन के रिव्यु के दौरान, घर में कंस्ट्रक्शन का काम जारी था और इसमें धुल ज़्यादा लगने की चिंता थी, लेकिन इसके विपरीत जो भी धुल-मिट्टी लगी, वो हम बेहद आसानी से साफ़ कर पाए।

साथ ही ये भी ज़रूर ध्यान रखें कि आप इसे किसी भी फ्लैट (चपटी) सतह के किनारे पर जैसे कि टेबल पर न रखें क्योंकि इसमें ग्लास बॉडी है, जिसके कारण ये आसानी से फिसल सकता है। पिछली तरफ गिलास पर आपको मैट टेक्सचर दिया हुआ है, लेकिन फिर भी ये आसानी से फिसल सकता है।

आखिर में यही कहेंगे कि ये एक सही ढंग से विकसित या डिज़ाइन किया गया फोल्डेबल डिवाइस है जिसे आप स्मार्टफोन और टैबलेट दोनों तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं। इसे आप Phantom Black (काले), Phantom Green (हरे), और Phantom Silver (सिल्वर) रंग के विकल्पों में चुन सकते हैं।

Galaxy Z Fold 3 रिव्यु: ऑडियोविज़ुअल

फ़ोन को अनफोल्ड करने पर ज़्यादातर हिस्से पर और बीचों-बीच आपको फ़ोन की डिस्पय मिलती है। सभी डिज़ाइन सम्बन्धी निर्णय इसी बात को ध्यान में रखकर लिए गए हैं कि उपयोगकर्ताओं का डिस्प्ले का अनुभव बेहतर हो। Z Fold 3 में मुख्य डिस्प्ले 7.6-इंच की है और बाहर की तरफ कवर डिस्प्ले 6.2-इंच की। आइये इनके बारे में एक-एक करके आपको बताते हैं।

इस फ़ोन की मुख्य स्क्रीन में Dynamic AMOLED 2X पैनल है जो 22.5:18 एस्पेक्ट रेश्यो और QXGA+ (2208 x 1768) रेज़ॉल्यूशन के साथ दिया गया है। ये काफी बड़ा है और 1200 nits ब्राइटनेस के साथ ये स्क्रीन काफी अच्छी और सुन्दर भी लगती है। वीडियो कंटेंट देखने के लिए ये एक बेहतर विकल्प है (Netflix और अन्य OTT प्लैटफॉर्म पर HDR स्ट्रीमिंग के लिए Widevine L1 compliant), टीम एप्लीकेशनों के साथ मल्टी-टास्किंग की जा सकती है, गेम और ने सभी काम जो आप फ़ोन या टैब पर करते हैं, इसमें आसानी से कर पाएंगे। और इन-डिस्प्ले कैमरा भी आपको इस 88.57 % स्क्रीन-टू-बॉडी-रेश्यो के साथ आने वाली डिस्प्ले में परेशान नहीं करता है। ज़्यादातर समय ये आपको नहीं दिखेगा। हाँ! कुछ कलर बैकग्राउंड हैं जहां ये स्पष्ट होता है, जहां से इसे ऑफ-एक्सिस से देखा जा सकता है। कुल मिलाकर इसकी डिस्प्ले काफी अच्छी है।

इस बार कम्पनी ने कुछ ऐसा इस्तेमाल किया है जिसे Eco2OLED पैनल कहते हैं। इस टर्म का मतलब है Efficient power Consumption (पावर का कुशलता या और बेहतर ढंग से इस्तेमाल) + Eco-friendly Component (पर्यावरण के अनुकूल जो कॉम्पोनेन्ट हैं उनका इस्तेमाल)। इस फ़ोन की प्रेस रिलीज़ में Samsung Display ने हाईलाइट किया है कि किस तरह इस स्क्रीन पर अपनी तरह का पहला पोलरिज़र (first-of-its-kind integrated polarizer) है। ये डार्क पोलरिज़र की परत को हटाकर स्क्रीन को 29% तक और ब्राइट, लाइट ट्रांसमिशन को 33% तक और ज़्यादा और पावर या बिजली की खपत को 25% तक और कम करता है।

इसकी डिस्प्ले दोनों ही सूरतों में फिर चाहे वो इंडोर हो या आउटडोर, अच्छी और साफ़ दिखती है, लेकिन ये अंडर डिस्प्ले कैमरा को भी अधिक रौशनी देता है। Under-Panel Camera (UPC) के ऊपर जो पिक्सल डेंसिटी का एरिया है वो काफी कम होने के कारण इसका काम और आसानी हो जाता है।

अंदर की तरफ काफी पतले (Ultra-Thin Glass) ग्लास का PET फिल्म के साथ उपयोग किया गया है। स्क्रीन के काम के दौरान हमें कहीं पर कुछ अनुचित नहीं लगा। यहां स्क्रीन में 120Hz अडैप्टिव रिफ्रेश रेट भी काफी इस सन्दर्भ में काफी मदद करता है। लेकिन इस पर उँगलियों की चाप या कोई निशान आसानी से ठहर जाता है।

अगर आप S-Pen Pro या S Pen Fold एडिशन खरीद रहे हैं, तो उसे भी यहां इस्तेमाल कर सकते हैं। ये नस्टाइलस ख़ासतौर से बेहतर टिप और लेटेंसी के साथ Z Fold 3 डिस्प्ले के लिए ही बनाये गए हैं।

अब ये एक Infinity Flex डिस्प्ले है जिसे आप टेबल पर क्लैमशेल फॉर्म में रख सकते हैं। इस तरह आप इसे अंडर-पैनल कैमरा द्वारा वीडियो कॉलिंग, वीडियो कंटेंट देखने, कुछ पढ़ने, गेम खेलने और नीचे आने वाले की-बोर्ड द्वारा टाइप करने में इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन अगर आप टाइपिंग करते हैं तो उँगलियों को थोड़ा कष्ट होगा

जबकि बाहर की तरफ वाली डिस्प्ले पर टाइपिंग या कुछ और करना अंदर वाली डिस्प्ले की तुलना में आपकी उँगलियों के लिए आसान होगा। क्योंकि बाहर की डिस्प्ले लगभग रेगुलर स्मार्टफोनों जैसी ही है, लेकिन थोड़ी पतली है। इसमें आपको 120Hz रिफ्रेश रेट सपोर्ट भी मिलता है। तो कोई भी वो काम जिसमें ज़्यादा ध्यान देने की ज़रुरत नहीं है, या ज्यादा लम्बा कोई काम नहीं है, तो ये डिस्प्ले ठीक है। आगे आपको बताते हैं कि बड़ी डिस्प्ले के साथ हमारा इंटरेक्शन कैसा रहा।

और जब आप बड़ी स्क्रीन से रूबरू होना चाहते हैं या उस पर कुछ देखते हैं तो ऑडियो आपको इसके ऊपर और नीचे मौजूद दो स्टीरियो स्पीकरों द्वारा सुनाई देगा। ये स्पीकर काफी लाउड हैं और Dolby Atmos सपोर्ट के साथ आते हैं और हमारे ख़याल से ये किसी भी तरह की ऑडियो के लिए काफी हैं। और इसमें Type-C ऑडियो का भी विकल्प है, लेकिन 3.5mm ऑडियो जैक नहीं है।

Galaxy Z Fold 3 रिव्यु: परफॉरमेंस

Samsung ने Galaxy Z Fold 3 में Snapdragon 888 चिप का इस्तेमाल किया है। इस बार यहां कंपनी की Exynos नहीं बल्कि Qualcomm चिपसेट ऑफर किया गया है। ये एक ओक्टा-कोर CPU है जिसे 5nm आर्किटेक्चर पर तैयार किया गया है। इसमें एक Cortex-X1 प्राइम कोर (2.84Ghz), तीन Cortex-A78 परफॉरमेंस कोर और चार Cortex-A55 एफिशिएंसी कोर सम्मिलित हैं। ग्राफ़िक्स के लिए आपको यहां Adreno 660 GPU दिया गया है। अंदर स्टोरेज में 12GB तक की LPDDR5 RAM और 512GB तक की UFS 3.1 स्टोरेज मौजूद है।

ये स्पेक्स-शीट पर एक काफी अच्छी स्पेसिफिकेशन है, जो काम करते हुए या इस्तेमाल के दौरान भी उतना ही अच्छा है। इस चिपसेट के साथ रोज़मर्रा के काम काफी तेज़ी और आसानी से हम कर पाए। हालांकि कभी-कभी ऐप बंद करते समय एनीमेशन उतने स्मूथ थे। Apps are retained in the memory for a very long time. There is an option to lever up performance by enabling the Enhanced Processing mode within Settings. I reckon this overclocks the system but at the expense of battery life. Not advisable, hence.

वैसे, इस फ़ोन ने सिंथेटिक टेस्ट भी भी अच्छा प्रदर्शन दिया है। स्कोर फ्लैगशिप फ़ोन वाले ही हैं, लेकिन इस श्रेणी में सर्वोत्तम नहीं कहे जा सकते।

ये पढ़ें: Chipset FAQ : चिपसेट या प्रोसेसर क्या है? जानिये चिपसेट से जुड़े अपने सभी सवालों के जवाब

इनके परिणाम आप नीचे देख सकते हैं :

Samsung Galaxy Z Fold 3 Benchmark (Unfolded state)Scores
Antutu726533
Geekbench 5 Single | Multi1134 | 3401
PCMark Work 3.014178
3DMark Wild Life Extreme | Wild Life1362 | 5751 | 6202
Androbench Sequential R/W (MB/s)1778.77 | 786.38
Androbench Random R/W (MB/s)271.02 | 244.53
GFXBench Aztec Ruins Open GL (High Tier) | Car Chase | Manhattan 3.125 FPS | 31 FPS | 41 FPS
Conversion of 2:35min 1080p 60fps MP4 video to MKV using Video Transcoder app5 mins
CPU Throttling test (15 mins)72% of its max performance

जैसे कि हमने आपको कहा ये टेस्ट मुख्य बड़ी डिस्प्ले पर किये गए हैं। मुमकिन है कि बाहर वाली छोटी डिस्प्ले पर इसका प्रदर्शन रेज़ॉल्यूशन, एस्पेक्ट रेश्यो, इत्यादि बदल जाने के कारण अलग हो।

हमने कुछ गेम भी यहां खेले हैं –

BGMI अधिकतम Ultra HD ग्राफ़िक्स और अल्ट्रा फ्रेम रेट पर, जबकि COD Mobile Graphics में very high और फ्रेम रेट में Max तक जाता है। Asphalt 9 को भी हमने 60 FPS पर चलाया। ये सभी गेम बड़ी डिस्प्ले पर खेलना बेहद अच्छा और मज़ेदार रहा।

इसके अलावा मेरे रूटीन काम के दौरान यहां काफी कुछ नया आज़माने को मिला। काफी कुछ आसान रहा, जबकि कुछ में बड़ी डिस्प्ले के साथ थोड़ी प्रैक्टिस की ज़रुरत पड़ी। क्योंकि ये सिर्फ फ़ोन नहीं है, बल्कि टेबलेट भी है या कहें कि उन दोनों के बीच में कुछ या उनसे भी ज़्यादा। लेकिन आपके अनुभव के लिए यहां सॉफ्टवेयर का भी काफी महत्वपूर्ण रोल है।

इसमें OneUI 3.5 है जो Android 11 पर आधारित है, और ये दिखाता है कि Samsung ने इस स्मार्टफोन में हार्डवेयर से सॉफ्टवेयर को मैच कराने के लिए काफी म्हणत की है। ये नया वर्ज़न Samsung के फोल्डेबल डिवाइसों के लिए कुछ ख़ास सुविधाएं साथ लाया है। इनमें से काफी फ़ीचर Settings > Advanced Features > Labs में आपको मिलेंगे। हालांकि ये काफी अजीब है कि ये बाय डिफ़ॉल्ट Disable हैं। तो आपको यहां जाकर इन्हें ऑन या इनेबल करना होगा।

इसमें हमारा पसंदीदा फ़ीचर रहा ‘Customize app aspect ratios’,, जिसके नाम से आप समझ गए होंगे कि ये क्या काम आएगा। इसके द्वारा हमने Instagram को फुल डिस्प्ले पर इस्तेमाल किया। और हम ये कह सकते हैं कि बड़ी डिस्प्ले पर इसे इस्तेमाल करना काफी अच्छा रहा।

हम आपको इस डिस्प्ले के अनुसार कुछ ऐप्स का सुझाव देना चाहेंगे : Google Earth, Tachiyomi, Kindle, क्रोम के लिए ‘Desktop-like tab system’ ।

इसके अलावा यहां सभी एप्लीकेशनों के लिए मल्टी-विंडो भी है, जो कि इस तरह के डिवाइस पर ज़रूर होना चाहिए। इसके अलावा आप एंड्राइड ने बिल्ट-इन ऐप कॉन्टिनुइटी फ़ीचर (App Continuity feature) की मदद से दोनों स्क्रीन के बीच ऐप को इस्तेमाल करते रह सकते हैं या कहें कि एक स्क्रीन से दूसरे स्क्रीन पर जाते समय ऐप को वैसे ही इस्तेमाल कर सकते हैं। वैसे हमारा ये रिव्यु यूनिट जून 01, 2021, Google प्ले सिस्टम अपडेट और जुलाई 01, 2021 के एंड्राइड सिक्योरिटी पैच पर चल रहा है।

चलिए वापस इसके फोल्ड से सम्बंधित फ़ीचरों की चर्चा पर आते हैं। अगर आप Fold को 90 डिग्री एंगल पर फोल्ड करते हैं, तो स्क्रीन के ऊपर के आधे हिस्से में आप विज़ुअल देख सकते हैं और निचले आधे में कंट्रोल रख सकते हैं। Flex panel को आप कैमरा ऐप और गेमिंग के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप हमसे पूछें तो ये एक ऐसा फ़ीचर है जो फोल्डेबल फ़ोन का एक और एप्लीकेशन दर्शाता है, लेकिन ऐसा नहीं लगता कि कोई भी इसे ज़्यादा इस्तेमाल करेगा।

और भी कुछ ट्रिक इसमें इस्तेमाल की जा सकती हैं जैसे कि ज़्यादा इस्तेमाल होने वाली एप्लीकेशनों को साइड-बार में पिन कर सकते हैं, जो इसके बाद आपके स्क्रीन पर ही रहेंगी, जैसे कि बाकी के स्मार्टफोन सॉफ्टवेयर में होता है। इसे ऐप्स को आप जल्दी एक्सेस भी कर पाएंगे और केवल एक क्लिक के साथ 3 ऐप्स को मल्टी-विंडो में भी यहीं से खोल सकेंगे। इस तरह आप ऐप्स को फ्लोटिंग विंडोज़ में इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसके और अनोखे फ़ीचरों की सूची में Link to Windows (अपने फ़ोन और उसकी एप्लीकेशनों को Windows यानि कि लैपटॉप या PC पर चलाना), Samsung Dex, स्लाइड स्क्रीनशॉट और उसमें एडिटिंग के विकल्प, काफी सारे मोशन, जेस्चर, Game Launcher, इत्यादि भी शामिल हैं। इसके अलावा हाल ही में आये iOS और Android के बीच Whatsapp Backup transfer विकल्प के फ़ीचर के साथ आने वाला ये पहला डिवाइस है।

इस फ़ोन में सब कुछ भी आसान नहीं है। कई बार कुछ केस ऐसे भी हैं जिनको कुछ ऐप (उदहारण के लिए Spotify) इस्तेमाल करने के दौरान मैसेज आएगा कि ये ऐप आपके फ़ोन के अनुसार ऑप्टिमाइज़ नहीं है। Stumble Guy जैसे गेम में स्क्रीन कट होना और कुछ गेम एस्पेक्ट रेश्यो खिंच जाने के कारण पिक्सलटेड (pixelated) नज़र आते हैं। YouTube में भी इस फ़ोन पर चलाने के लिए सभी टूल जो ज़रूरी हैं, नहीं मिल पाते हैं। कई बार YouTube प्लेबैक बार को स्क्रॉल करना भी काफी दिक्कत देता है। कई बार सभी विकल्प रीच में नहीं होते हैं।

वैसे Samsung ने यहां उपयोगकर्ता के लिए चीज़ों को आसान और पहुँच में बनाने की हर संभव कोशिश की है। उदहारण के लिए, लॉक स्क्रीन पैटर्न को एक थंब से इस्तेमाल करने के लिए अंगूठे के पास ले जाय जा सकता है। डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड स्प्लिट मोड में आता है और डेवलपरों को अपनी ऐप्स को फोल्डेबल स्क्रीन के हिसाब से ऑप्टिमाइज़ करना होगा। हालांकि ये स्प्लिट कीबोर्ड बड़ी स्क्रीन पर टाइपिंग में जो परेशानी आती है, उसे पूरी तरह दूर नहीं कर पाताl

Galaxy Z Fold 3 रिव्यु: कैमरा

Z Fold 3 में मुख्यत: तीन 12MP के कैमरा पिछली तरफ मौजूद हैं। इनमें प्राइमरी कैमरा वाइड एंगल लेंस, OIS, ड्यूल पिक्सेल PDAF के साथ दिया गया है। वहीँ दूसरा 12MP का सेंसर 123° अल्ट्रा-वाइड एंगल लेंस के साथ और तीसरा 12MP का कैमरा 2x ऑप्टिकल ज़ूम लेंस, OIS और PDAF के साथ मौजूद हैं। आप 10x मैग्निफिकेशन तक डिजिटल शूटिंग कर सकते हैं। यहां कैमरा सेटअप काफी हद तक इसके प्रेडेसर जैसा ही हैं। लेकिन SK Hynix Hi-1337 सेंसर जो टेलीफ़ोटो लेंस के साथ दिया गया है वो नया है।

कवर डिस्प्ले पर आपको इसमें 10MP का सेल्फी कैमरा दिया है और अंदर बड़ी 7.6 इंच की डिस्प्ले में 4MP का सेल्फी कैमरा डिस्प्ले के अंदर है, जिसने इस बार काफी सुर्खियां बटोरी हैं। इस नए फोल्डेबल के रियर कैमरा सेटअप के साथ अधिकतम 4K@60fps तक और फ्रंट कैमरा से 4K@30fps तक वीडियो शूटिंग या रिकॉर्डिंग की जा सकती है। दूसरी तरफ UPC (अंडर पैनल कैमरा) के साथ FHD@30fps तक आप शूट कर पाएंगे। लेकिन सेल्फी कैमरा में OIS नहीं है।

नीचे आप इसके रियल कैमरा सैंपल देख सकते हैं।

दिन की रौशनी में, फोटो काफी अच्छे और बारीकियों के साथ आते हैं। तस्वीरों में रंग भी काफी अच्छे और वाइब्रेंट हैं। अगर आप प्राकृतिक या बिना किसी छेड़छाड़ के तस्वीर चाहते हैं तो इसमें एक ऑटो सीन ऑप्टिमाइज़र (auto scene optimizer) का विकल्प है, उसे अवश्य disable (बंद) कर लें।

कैमरा ऐप काफी तेज़ी से खुल जाती है और viewfinder सामने आपको दिखता है। आप viewfinder के तौर पर कवर डिस्प्ले का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, क्योंकि शूटिंग के दौरान unfold करके आप जिसका भी फोटो ले रहे हैं वो उसे कवर डिस्प्ले पर viewfinder में देख पायेगा और बेहतर पोज़ कर पायेगा।

Dual PDAF के साथ ये फोकस करने भी काफी तेज़ है। हालांकि अगर फ्रेम में कई सारे ऑब्जेक्ट एक साथ नज़र आते हैं तो फोकस करना थोड़ा दिक्कत का काम है।

कैमरों के बीच में स्विच करना भी बेहद आसान है। अलग-अलग लेंस या कैमरों से तस्वीरें कैसी आती हैं, आप देख सकते हैं –

अल्ट्रा वाइड एंगल लेंस और रेगुलर कैमरा से तस्वीर लेने पर रंग दोनों में सामान ही नज़र आते हैं। 2x हार्डवेयर ज़ूम भी वैसे ही नतीजा देता है जैसे कि हमने उम्मीद की थी। हालांकि 4x और 10x तक बढ़ाई गयी तस्वीरें भी हमारी उम्मीद से अच्छी डिटेलिंग के साथ आयी हैं। ऊपर दी गयी तस्वीर में आप देख पाएंगे कि ज़ूम करने के बाद भी डिटेल काफी अच्छी नज़र आ रही हैं।

अब अगर बात करें कि ये कैमरा ह्यूमन यानि कि इंसानी ऑब्जेक्ट की तस्वीरों में कैसे नतीजे देता है तो, पोर्ट्रेट शॉट्स इससे काफी बेहतर आते हैं जिनमें सही तरीके और मात्रा से ब्लर और एज डिटेक्शन होता है। और पोर्ट्रेट शॉट, रेगुलर तस्वीरों के मुकाबले थोड़े ज़ूम होते हैं। अगर आप बहुत ज़्यादा आलोचना करने वाले नहीं हैं, तो आपको Z Fold 3 का कैमरा काफी पसंद आएगा। नीचे कुछ और कैमरा सैंपल आप देख सकते हैं।

साधारणत: रात में लिए गए फोटो भी काफी डिटेल दिखाते हैं। जब आप Night Mode के साथ तस्वीरें लेते हैं तो भी परिणाम काफी अच्छे हैं। नाईट मोड के साथ एक्सपोज़र पहले से बेहतर नज़र आता है और टेक्स्ट जैसी चीज़ें भी और साफ़ दिखती हैं।

तो कुल मिलाकर आप Galaxy Z Fold 3 के सभी कैमरों से काफी शानदार तस्वीरें ले सकते हैं। लेकिन चीज़ें थोड़ी इधर-उधर नज़र आ सकती हैं। हालांकि एक छोटी सी समस्या ये भी आती है कि इसे पूरा खोलकर यानि कि अनफोल्ड करके तस्वीरें लेते समय इसे पकड़ना थोड़ा मुश्किल रहता है। और फोल्ड करके तस्वीरें लेते हैं तो कवर डिस्प्ले पर viewfinder थोड़ा सिकुड़ा सा दिखता है। आप ये काम Flex mode भी कर सकते हैं, में लॉन्ग-एक्सपोज़र शॉट्स को लेना काफी आसान हो जाता है।

हमने यहां मुख्य स्क्रीन पर मिलने वाले 4MP के अंडर-डिस्प्ले कैमरा का ज़िक्र नहीं किया क्योंकि फोटोग्राफी इसका उद्देश्य नहीं है, या कहें कि ये यहां फोटोग्राफी के लिए दिया ही नहीं है। ये कम रेज़ॉल्यूशन के साथ आता है, हालांकि एक Under Panel Camera होने के नाते ये चर्चा का विषय ज़रूर बना है। यदि आप इसे वेबकैम के तौर पर इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो ये भरपूर लाइटिंग में अच्छा रहेगा।

इसके अलावा यहां और भी कई कैमरा फ़ीचर हैं जिनमें Single Take, AR Doodle, Pro Mode, Portrait Video, Pro Video, Super Slow-Mo, HyperLapse, Director’s View, और QR Code scanner शामिल हैं। इनमें से कई फ़ीचर काफी उपयोगी हैं।

Galaxy Z Fold 3 रिव्यु: कनेक्टिविटी

Galaxy Z Fold 3 काफी अच्छे कनेक्टिविटी विकल्पों के साथ बाज़ार में आया है। इसके कनेक्टिविटी विकल्पों में ड्यूल सिम VoLTE (एक सिम फिज़िकल और दूसरा eSIM), VoWiFi, ड्यूल-बैंड WiFi-6e, ब्लूटूथ 5.2 (aptX HD के साथ), NFC, GPS, UWB (अल्ट्रा वाइडबैंड) और 5G शामिल हैं। हमें ब्लूटूथ, WiFi स्पीड, स्टेबिलिटी, और लेटेंसी में कोई समस्या नहीं आयी। Google Maps navigation को बड़ी स्क्रीन पर देखना भी काफी अच्छा अनुभव रहा और इस नए फोल्डेबल फ़ोन में आपको 16 बैंड का 5G सपोर्ट मिलता है।

Z Fold 3 5g Bands

तो ये कहा जा सकता है कि ये डिवाइस भविष्य और वर्तमान दोनों के लिए अच्छी कनेक्टिविटी या नेटवर्किंग रखता है। हमारे फ़ोन में कॉल और एयरटेल सिम द्वारा मोबाइल डाटा इस पर सही चला।

Galaxy Z Fold 3 रिव्यु: बैटरी

Samsung Galaxy Z Fold 3 में 4480 mAh की बैटरी है जो दो भागों में बाँट दी गयी है। एक सेल 2280mAh का है और दूसरा सेल 2120mAh का है। बैटरी को दो भागों में विभाजित करने का कारण है चेसिस को पतला रखना। लेकिन कंपनी ने यहां बॉक्स में चार्जर नहीं दिया है जिसका कारण है पर्यावरण को बचाये रखने की एक कोशिश। तो आपको यहां या तो नया चार्जर अलग से खरीदना पड़ेगा या घर पर उपलब्ध कोई भी PD सपोर्ट के साथ वाली USB केबल और चार्जर का उपयोग कर सकते हैं। फ़ोन में 25W फ़ास्ट चार्जिंग, 10W वायरलेस चार्जिंग और 4.5W रिवर्स वायरलेस चार्जिंग का सपोर्ट भी मिलता है।

इस पर हमने हाथ भी आज़माया, दोनों डिस्प्ले पर हमने काफी कुछ किया और इस दौरान हमने स्क्रीन को 120Hz रिफ्रेश रेट मोड इस्तेमाल किया, तो हमें 5 घंटे का स्क्रीन टाइम मिला। PCMark Work 3.0 बैटरी टेस्ट में, 120Hz रिफ्रेश रेट के साथ Z Fold 3 6 घंटे और 52 मिनटों तक चला, वहीं 60Hz पर इसका प्रदर्शन 10 घंटे और 4 मिनट का रहा।

इस फोन में दिया गया चिपसेट प्रेडेसर Z Fold 2 के मुकाबले यहां 25% बेहतर बैटरी एफिशिएंसी की पेशकश करता है। बैटरी की सेटिंग में आपको एक फ़ीचर भी मिलेगा जिसे ‘Protect Battery’ का नाम दिया गया है। इस फ़ीचर को ऑन करने के बाद बैटरी लाइफ को बढ़ाने के लिए फ़ोन की अधिकतम चार्ज होने की क्षमता 85% तक ही रहती है। वैसे अगर आप इस फ़ीचर का इस्तेमाल नहीं करते हैं तो फ़ोन की बैटरी 0 से 100% तक चार्ज होने में 1 घंटे 45 मिनटों का समय लेती है। लेकिन नोट करें कि हमने यहां 18W के चार्जर का इस्तेमाल किया, अगर आप 25W का चार्जर इस्तेमाल करते हैं, तो ये थोड़ा और कम समय लेगा।

वर्डिक्ट: क्या आपको Galaxy Z Fold 3 खरीदना चाहिए ?

Samsung के इस शानदार फ़ोन Z Fold 3 की कीमत ₹1,49,999 है और यही इसके प्रेडेसर की भी कीमत रही है। लेकिन इस कीमत पर आपको ऐसा स्मार्टफोन मिल रहा है, जैसे अभी तक भारतीय बाज़ार में कोई भी उपलब्ध नहीं है। ये फ़ोन ऐसा है जिसको लेकर लोगों के बीच उत्सुकता है और वो इसके बारे में बात करना चाहते हैं। Samsung का ये तीसरी जनरेशन का फोल्डेबल फ़ोन हैं जिसमें सभी ज़रूरी सुधार कंपनी ने कर दिए हैं और ये पहले दोनों के मुकाबले काफी बेहतर है। Snapdragon 888 चिपसेट, बड़ी स्टोरेज, नवीनतम कनेक्टिविटी विकल्प, 5G जैसे हाई-एन्ड फीचरों के अलावा भी आपको इसमें एक मज़बूत और पहले से कहीं बेहतर स्क्रीन, मज़बूत हिन्ज मैकेनिज़्म, अंडर-डिस्प्ले कैमरा और S-pen सपोर्ट जैसे नए फ़ीचर दिए गए हैं।

क्या आप जानते हैं कि ये पहला वॉटर रेसिस्टेंट फोल्डेबल फ़ोन है जो IPX8 रेटिंग के साथ रिलीज़ हुआ है और ये डिवाइस की मज़बूती को लेकर ग्राहक के मन में विश्वास को बढ़ाता है। स्टाइलस एक उपयोगी एक्सेसरी ज़रूर है, लेकिन जिन्हें ये चाहिए, उनके लिए महंगी है। लेकिन जिन्हें ये चाहिए उन्हें इसे खरीदने के साथ साथ इसके कैरी केस को ख़रीदने में भी कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए। वहीँ Galaxy Note के जो चहेते हैं उनके लिए ये एक वैल्यू एडीशन ही होगा। लेकिन जो भी इसमें नयी चीज़ें या फ़ीचर जोड़े गए हैं उनमें अंडर-पैनल कैमरा एक विवादग्रस्त या कहें कि उपयोगी नहीं है। हाँ, लेकिन अगर आप इसे वेबकैम के तौर पर इस्तेमाल करना चाहते हैं तो ये Samsung द्वारा दी गयी एक सही चीज़ है।

इसमें विभिन्न ज़रूरतों के लिए विभिन्न कैमरों का एक सेट मौजूद है। इन सभी कैमरों से लिए गए तस्वीरों में जो परिणाम मिले हैं, वो भी काफी अच्छे हैं। परफॉरमेंस भी इसी तरह अच्छी है, हालांकि अपने तबके में बेस्ट नहीं है, लेकिन फिर भी काफी अच्छी है। और इन दोनों ही जगहों पर सॉफ्टवेयर भी मुख्य भूमिका अदा करता है। जैसे कि हमने पहले भी कहा था, फोल्डिंग हार्डवेयर और इसके साथ फ़ोन से मिलने वाले अलग-अलग अनुभवों के बीच सॉफ्टवेयर कड़ी का काम करता है।

अब सवाल ये है कि क्या इस फोल्डेबल फ़ोन की ये सब विशेषताएं उन मेनस्ट्रीम दर्शकों को लुभाने के लिए काफी हैं जो अब तक iPhone या प्रीमियम रेंज के एंड्राइड फोनों को इस्तेमाल कर रहे हैं। उनके लिए इस फ़ोन की मज़बूती (ये कितना टिक पाता है) और क्या मटेरियल इस्तेमाल हुआ है, ये मायने रखता है। लेकिन हम ये ज़रूर मानते हैं कि आप चाहेंगे कि ये एक प्रीमियम फ़ोन है जो एक अलग डिज़ाइन के साथ आया है और आप चाहेंगे कि इस कीमत पर ये लम्बे समय तक चल सके और आपके पास उपलब्ध बेहतरीन उपकरणों में शुमार हो।

तो अगर आप इस कीमत पर एक अनोखे फोल्डेबल डिवाइस में दिलचस्पी रखते हैं, तो Z Fold 3 5G सर्वोत्तम विकल्प है। इस समय इससे टक्कर लेने लायक कोई और बेहतरीन फ़ोन उपलब्ध है ही नहीं। और अपने Z Fold 3 स्मार्टफोन लॉन्च के साथ ही कंपनी ने फोल्डेबल डिवाइस के बाज़ार में अपनी जगह सुनिश्चित कर दी है।

क्यों खरीदें ?

  • मल्टी-टास्किंग के लिए बेहतर डिवाइस
  • शानदार ऑडियोविज़ुअल सेटअप
  • आकर्षक डिज़ाइन
  • अच्छा और तेज़ परफॉरमेंस
  • 5G सपोर्ट और नए कनेक्टिविटी के विकल्प
  • वॉटर रेजिस्टेंस
  • S-Pen सपोर्ट

क्यों ना खरीदें ?

  • धुल-मिट्टी से सुरक्षा के लिए कोई रेटिंग नहीं है।
  • ऑडियो जैक नहीं है
  • बॉक्स में चार्जर नहीं मिलता
  • 4MP अंडर पैनल कैमरा कुछ ख़ास नहीं है।

Galaxy Z Fold 3 FAQ (सवालों के ज़वाब)

Q. क्या Galaxy Z Fold 3 में डेडिकेटेड माइक्रो एसडी स्लॉट है ?

A. नहीं, मेमोरी को बढ़ाने के लिए Galaxy Z Fold 3 में कोई माइक्रो-एसडी स्लॉट नहीं है।

Q. Galaxy Z Fold 3 की SAR वैल्यू क्या है ?

A. Galaxy Z Fold 3 की SAR वैल्यू :0.803 W/kg @ 1gm (हेड) है।

Q. क्या Galaxy Z Fold 3 में गोरिल्ला ग्लास की सुरक्षा मिलती है?

A. हाँ! Galaxy Z Fold 3 की बाहर वाली डिस्प्ले पर कोर्निंग गोरिल्ला ग्लास विक्टस की सुरक्षा मिलती है और कैमरों पर भी गोरिल्ला ग्लास DX मौजूद है।

Q. क्या Galaxy Z Fold 3 में VoWiFi और WiFi कॉलिंग का सपोर्ट मिलता है?

A. हाँ! Galaxy Z Fold 3 में ये फ़ीचर उपलब्ध है।

Q.क्या Galaxy Z Fold 3 में Samsung DeX का सपोर्ट है?

A. हाँ! आप Z Fold 3 पर Samsung Dex वायर के साथ और वायरलेस दोनों तरीकों से चला सकते हैं।

Q. Galaxy Z Fold 3 में कौन-सा Android अपडेट मिलता है?

A. Galaxy Z Fold 3 में Android 11 वर्ज़न है। इस समय इसमें जुलाई, 01 2021 का सिक्योरिटी अपडेट और Google Play System का मई 01, 2021 मौजूद है।

Q. Galaxy Z Fold 3 किस कीमत पर भारत में उपलब्ध है?

A. भारत में इसकी कीमत निम्नलिखित हैं –

Galaxy Z Fold3 (12+256GB): Rs. 1,49,999
Galaxy Z Fold3 (12+512GB): Rs. 1,57,999

Q. क्या Galaxy Z Fold 3 अपने प्रेडेसर के मुकाबले सस्ता है या और महंगा है ?

A. Galaxy Z Fold 3 की कीमत अपने प्रेडेसर Z Fold 2 के समान है। इसे आप ₹1,49,999 की शुरूआती कीमत पर खरीद सकते हैं, जितनी कि Z Fold 2 की है।

Q. Galaxy Z Fold 3 में कुल कितनी डिस्प्ले मिलती हैं ?

A. Galaxy Z Fold 3 में 6.2-इंच की कवर डिस्प्ले और 7.6-इंच की मुख्य डिस्प्ले मिलती है।

Q. Galaxy Z Fold 3 में NFC पेमेंट की सुविधा है?

A. Z Fold 3 में NFC-आधारित Samsung Pay और अन्य पेमेंट सिस्टम मौजूद हैं।

Q. Galaxy Z Fold 3 की कौन-सी डिस्प्ले पर S-Pen सपोर्ट मिलता है ?

A. केवल मुख्य 7.6 इंच की डिस्प्ले पर ही आपको S-Pen सपोर्ट मिलेगा।

Q. Z Fold 3 पर कितने सॉफ्टवेयर अपडेट मिलेंगे ?

A. Samsung ने अपने सभी प्रीमियम स्मार्टफोनों पर तीन Android अपडेट देने का वादा किया है। इसका मतलब Galaxy Z Fold 3 पर Android 12, Android 13, और Android 14 अपडेट आने चाहिए।

Q. क्या Samsung Galaxy Z Fold 3 पर Google Assistant सपोर्ट मिलता है ?

A. हाँ।

Q. क्या Galaxy Z Fold 3 पर Netflix और Amazon Prime पर HD स्ट्रीमिंग की जा सकती है ?

A. Galaxy Z Fold 3, DRM L1 सर्टिफिकेशन के साथ आता है और हमने खुद इस पर Prime Video और Netflix पर उपलब्ध कंटेंट को HD रेज़ॉल्यूशन में चला कर देखा है। इसमें HDR10-HEVC सपोर्ट भी है।

Q. Galaxy Z Fold 3 पर कौन-से 5G बैंड का सपोर्ट उपलब्ध है?

A. Galaxy Z Fold 3 में 16 5G बैंड का सपोर्ट है: 8 MIMO (1,n78, 3,n78, n78, n1, n3, n78, 40, n78, 3,40,n78) and 8 ENDC (1A-n78A, 3A-n78A, 5A-n78A, 8A-n1A, 8A-n3A, 8A-n78A, 40A-n78A, 3A-40A-n78A).

Pooja ChaudharyPooja Chaudhary
Pooja has been covering technology and gadgets for more than 5 years. Most of her work has been centred around smartphones and smartphone apps, but she occasionally likes to dabble with content on people and relationships. She is also a bit of a TV junkie and is often trying to make time to catch up with her favourite shows and classic movies.

Related Articles

ImageSamsung Galaxy S24 रिव्यु: कॉम्पैक्ट प्रीमियम फ़ोन

छोटे स्मार्टफोनों को पसंद करने वाले लोग अब भी काफी हैं, लेकिन बदलते चलन के साथ बाज़ार में फिलहाल स्टैण्डर्ड साइज़ 6.7-इंच है। ऐसे में बाज़ार में जो मिलता है, उन्हें लेना पड़ता है। फिलहाल Samsung, Apple, और Google, यही तीन कम्पनियां हैं, जो छोटे और प्रीमियम स्मार्टफोन लेकर आती हैं और इन सभी में …

Image2023 में उपलब्ध बेस्ट फोल्डेबल स्मार्टफोन (Best Foldable Smartphones in 2023)

स्मार्टफोन की दुनिया में तेज़ी से विकास करती जा रही टेक्नोलॉजी का परिणाम है बेहतरीन फोल्डेबल स्मार्टफोन। आज से कुछ साल पहले जब Galaxy Fold के साथ ये चलन शुरू हुआ था, तब बेहद कम फोल्डेबल फ़ोन थे और उनमें भी कुछ कमियां नज़र आ रही थीं, लेकिन हर बदलते साल के साथ फोल्डेबल स्मार्टफोन …

ImageSamsung ने SDC 2019 में दिखाई एक और फोल्डेबल फोन की झलक: हो सकता है Galaxy Fold 2

Samsung Developer Conference 2019 इवेंट को San Jose Convention Center में आयोजित किया। इवेंट में कंपनी ने अपने एक नए फोल्डेबल फोन डिजाईन को शो-ऑफ किया जिसमे इस बार वर्टीकल डायरेक्शन में डिवाइस को फोल्ड किया गया है। देखने में ये डिजाईन आपको फ्लिप फोन की याद दिलवाता है। सैमसंग ने अभी इसके आधिकारिक रूप …

ImageSamsung Galaxy Z Fold 5 रिव्यु: बेहतर परफॉरमेंस, लेकिन कोई सरप्राइज़ नहीं

Samsung की यात्रा फोल्डेबल स्मार्टफोन की दुनिया में काफी संघर्ष भरी रही है। हालांकि सबसे पहले Galaxy Fold में कई कमियां थीं, लेकिन फिर भी उसे लॉन्च करना, वाकई एक बड़ा कदम था। Samsung ने Galaxy Z Fold 2 के साथ पहले Fold की समस्याओं को सुलझाने की कोशिश की और वो पहले फोल्ड के …

Imageलॉन्च इवेंट से कुछ घंटों पहले Samsung Galaxy Z Fold 5 और Samsung Galaxy Z Flip 5 की कीमत लीक

Samsung के Galaxy Unpacked event में बस अब कुछ ही घंटे शेष बचे हैं। सारी तैयारियां हो चुकी हैं। कंपनी लॉन्च इवेंट में Samsung Galaxy Z Fold 5, Samsung Galaxy Z Flip 5, Samsung Galaxy Watch 6 सीरीज़, Samsung Galaxy Buds 3 के साथ Samsung Galaxy Tab S9, Samsung Galaxy Tab S9 Plus और Samsung …

Discuss

Be the first to leave a comment.