Google के Chromecast ने मार्किट में एक किफायती डोंगल के रूप में पेश किया गया था जो एक सामान्य से टीवी सेट को थोड़ा स्मार्ट बनाने के साथ-साथ आकर्षक फीचर भी उपलब्ध करवाता है। गूगल हर साल अपने Chromecast को अपग्रेड और कुछ सुधार करने के साथ पेश करता है लेकिन कीमत में कोई बढ़ोतरी नहीं की जाती है। आज के समय में टेलीविज़न भी काफी अपग्रेड हो गये है और अलग-अलग कीमत वर्ग में उपलब्ध है जिनमे से कुछ में तो आपको Chromecast बिल्ट-इन भी मिलता है। (Read in English)

तो क्या Chromecast अभी भी एक उपयोगी डिवाइस है? क्या यह Amazon Fire TV स्टिक से बेहतर है? हम Chromecast को एक हफ्ते से इस्तेमाल कर रहे है ताकि Chromecast से जुड़े सभी सवालो और इसकी उपयोगिता के बारे में जान सके। तो चलिए शुरू करते है Google Chromecast का रिव्यु:

यह भी पढ़िए: Amazon Echo Dot (3rd जेनरेशन) का रिव्यु हिंदी में 

Chromecast 3 के बॉक्स में क्या मिलता है?

Google Chromecast 3 की इंडिया में कीमत 3,499 रुपए रखी गयी है। आपको यह डिवाइस फ्लिप्कार्ट पर बिक्री के लिए मौजूद है। भारत में Chromecast सिर्फ चारकोल कलर में उपलब्ध है। Chromecast के बॉक्स में आपको:

  • Chromecast डोंगल
  • USB केबल
  • चार्जिंग अडाप्टर

*Ganna एप्लीकेशन और Sony Liv के विशेष स्क्रैच कोड भी दिए गये है।

Chromecast में क्या है विशेष?

इस नए लांच किये गये Chromecast में बाहरी डिजाईन में काफी सुधार किये गये है। Chromecast 2 के ग्लॉसी-प्लास्टिक बाहरी आवरण की जगह मेट-फिनिश टेक्सचर वाला बाहरी आवरण आज के समय के अन्य होम डिवाइसों से काफी मेल खाता है। Chromecast को एक बार प्लग-इन करने के बाद आप इसपर ज्यादा ध्यान नहीं देंगे क्योकि यह आपको किसी भी तरह से अलग-फील नहीं देगी और आपको देखने में काफी आकर्षक महसूस होगी। Chromecast 2 की ग्लॉसी-प्लास्टिक बॉडी पर आपको स्क्रैच और निशान देखने को मिलते है और देखने में थोडा सस्ती लगती है। इसके अलावा यहाँ पर अब HDMI कनेक्टर डिवाइस की बॉडी से मैग्नेटिक रूप से चिपकी हुई नहीं है।

इनके अलावा Chromecast 3 में आपको गोलाकार आकार के साथ HDMI केबल दी गयी है जिसके साथ में एक रिसेट बटन भी दिया गया है। इसके अलावा यह माइक्रो-USB पॉवर इनपुट से चार्ज भी की जा सकती है जैसे चार्जिंग एडाप्टर या TV में दिया USB पोर्ट आदि।

इसके अलावा आपको यहाँ पर कुछ छोटे सुधार भी देखने को मिलते है जैसे ऐन्टेना में 50% की तेज़ी आदि। नए Chromecast में हमको स्ट्रीमिंग के दौरान किसी भी तरह की कोई परेशानी देखने को नहीं मिलती है, पुरे टेस्ट के दौरान हमको एक बार भी डिवाइस को दोबारा कनेक्ट नहीं करना पड़ा। गूगल ने यहाँ पर दावा भी किया है की Chromecast 3 में 15% तक का प्रदर्शन सुधार देखने को मिलता है लेकिन निजी रूप से हमको इतना भी कोई ख़ास फर्क नज़र नहीं आता है।

सॉफ्टवेयर का प्रदर्शन भी समान ही प्राप्त होता है. तो हम यह कह सकते है की अगर आप पहली या दूसरी पीढ़ी के Chromecast का इस्तेमाल कर रहे है तो इस नए वर्जन में कोई ज्यादा ख़ास एक्स्ट्रा फीचर देखने को नहीं मिलेंगे। आप आराम से पुराने वर्जन को इस्तेमाल कर सकते है।

अगर आपने गूगल के स्मार्ट होम डिवाइस में निवेश किया है तो आप गूगल होम से Chromecast कनेक्टेड TV को इस्तेमाल कर सकते है। ये सुविधा आपको पिछले Chromecast वर्जन में भी उपलब्ध होगी।

डोंगल के इस्तेमाल करने पर आप आसानी से 1080p कंटेंट को 60fps पर स्ट्रीम कर सकते है लेकिन आपको कोई ख़ास दिखाई नहीं देता है तो पिछले डिवाइसें भी इस्तेमाल में समान एक्सपीरियंस ही देती है। Chromecast 3 अभी भी 4K कंटेंट को स्ट्रीम नहीं कर सकती है। गूगल ने पिछले साल 4K सपोर्ट वाला Chromecast लांच किया था लेकिन यह इंडिया में उपलब्ध नहीं है।

यह भी पढ़िए: Amazon Echo Plus (2nd जेनरेशन) का हिंदी में रिव्यु

Google Chromecast 3 बनाम Amazon Fire TV स्टिक?

अभी तक हम Chromecast 2 और 1 के बारे में काफी बात कर चुके है और Chromecst 3 का असली मुकबला इन से नहीं Amazon Fire TV स्टिक से है। Amazon Fire TV Stick आपको इसी कीमत में 4K स्ट्रीमिंग की सुविधा के साथ पेश की गयी है।

Amazon की स्टिक के साथ एक रिमोट और TV एक्सपीरियंस को बेहतरकरने के लिए काफी यूजर फ्रेंडली इंटरफ़ेस दिया गया है। दूसरी तरफ Chromecast 3 में आपको अपने स्मार्टफोन को एक रिमोट की तरह इस्तेमाल करने की सुविधा मिलती है। इसके अनुसार आप सिर्फ एक बड़ी स्क्रीन और तेज़ आवाज के लिए टीवी का इस्तेमाल करेंगे बाकि सब आपके स्मार्टफोन द्वारा क्न्त्रल किया जा सकता है।

दोनों डिवाइसों में मुख्य अंतर इनमे पेश किये गये कंटेंट में है। आप Chromecast 3 की सहायता से अपने टीवी पर Amazon Prime Videos नहीं देख सकते और इसी तरह आप Fire TV स्टिक से टीवी पर YouTube को कास्ट नहीं का सकते है (इसके एक दूसरा तरीका है की आप टीवी में YouTube के ब्राउज़र-वर्जन का इस्तेमाल कर सकते है)।

Smart TV के इस्तेमाल से आप इन दोनों के बीच के इस अंतर को पूरा कर सकते है।

भारत में आपको गूगल की तुलना में Amazon का इको-सिस्टम बेहतर देखने को मिलता है जिसका कारण है किफायती दरों पर प्राइम मेम्बरशिप का उपलब्ध होना। लेकिन निजी रूप से मैं आपको Chromecast 3 का सुझाव दूंगा क्योकि मैं प्राइम विडियो से ज्यादा YouTube कंटेंट का इस्तेमाल ज्यादा करता हूँ।

Google Chromecast 3 रिव्यु- क्या यह है आपके लिए एक बेहतर स्मार्ट डिवाइस?

भारत में उपलब्ध लगभग सभी स्मार्ट टीवी आपको एक परफेक्ट एक्सपीरियंस देने में सक्षम नहीं है और Chromecast 3 जैसी डोंगल अभी भी काफी आकर्षक विकल साबित होती है। अगर आपके पास Chromecast 2 पहले है मौजूद है तो हम आपको अपग्रेड करने की सलाह नहीं देंगे लेकिन अगर आप पहली पीढ़ी की डिवाइस इस्तेमाल कर सकते है तो एक बेहतरीन रेज़ोलुशन और साउंड क्वालिटी के लिए आपको अपग्रेड करने का ही सुझाव  देंगे।

अगर आप डोंगल से मीडिया कंटेंट स्ट्रीम करते है तथा ऑनलाइन एप्लीकेशन जैसे Netflix, YouTube, Ganna आदि का निरंतर इस्तेमाल करते है तो गूगल के इस स्मार्ट होम एको-सिस्टम में आपको जरुर एक बेह्तर अनुभव के साथ सरल एक्सपीरियंस भी प्राप्त होगा।

खूबियाँ

  • बेहतर डिजाईन
  • गूगल असिस्टेंट का सपोर्ट
  • अच्छा एप्लीकेशन सपोर्ट
  • तेज़ और सटीक प्रदर्शन

कमियाँ

  • 4K सपोर्ट ना होना
  • प्राइम विडियो सपोर्ट नहीं

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here