वीवो (Vivo) ने हमेशा ही अपने फोनों में कैमरा और फोटोग्राफी को विशेष प्रमुखता दी है, ‘वी 5’ श्रृंखला की लोकप्रियता (वी 5 प्लस, वी 5 एस और वी 5) किसी परिचय की मोहताज नहीं है। इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए वीवो ने अपना नया फोन वी 5S प्रस्तुत किया है, और इस फोन के जरिये भी वीवो ने जता दिया है कि वह अपने ‘सेल्फी गेम’ में कोई बदलाव नहीं करेगा। (Read in English)

इस स्मार्टफोन के साथ, वीवो ने उपयोगकर्ताओं को वी 5 स्मार्टफोन का आधुनिक संस्करण देने का प्रयास किया है।

हमने इस फोन के कैमरे, डिस्प्ले-डिज़ाइन और परफॉरमेंस को लेकर कुछ टेस्ट किये हैं, जिनके आधार पर हम आपको बताने जा रहे हैं इस फोन की खूबियां और खामियों के बारे में, आइये एक नज़र डालते हैं वीवो वी 5S के स्पेसिफिकेशन्स पर:

Vivo V5s के स्पेसिफिकेशन्स

Model Vivo V5s
Display 5.5-Inch, HD, 2.5D Corning Gorilla Glass
Processor MediaTek MT6750 Processor
RAM 4GB
Internal Storage 64GB, expandable up to 256GB
Software Android 6.0 Marshmallow-based Funtouch OS 3.0
Primary Camera 13MP, PDAF, LED Flash
Secondary Camera 20MP, f/2.0 aperture, Sony IMX376 sensor, 5P lens and Moonlight Flash
Dimensions and Weight 153.8 x 75.5 x 7.55mm, 154Grams
Battery 3,000mAh
Others 4G VoLTE, WiFi, Bluetooth, GPS, 3.5mm Audio Jack, microUSB 2.0, Fingerprint Sensor, Hi-Fi Audio
Price Rs. 18,990/-

Vivo V5s की बनावट, डिज़ाइन और डिस्प्ले

डिजाइन की बात करें तो यह स्पष्ट है कि कंपनी ने वी 5S को V5 प्लस की डिज़ाइन देने का प्रयास किया है। फोन के बैक साइड में ऊपर और नीचे की तरफ लगाए गए यू-आकार वाले एंटीना बैंड अच्छे दिखते हैं, इसी तरह का डिज़ाइन आईफोन 7 में भी प्रयोग किया गया है।

वीवो के अन्य फोनों से तुलना की जाए तो इस फोन को वी 5 प्लस का ‘लाइट’ संस्करण कहा जा सकता है। नए वी 5s में पीछे की तरफ मैटल डिज़ाइन नहीं दी गयी है, साथ ही इसमें दूसरा कैमरा भी नहीं है, ये दो बातें इसे वी 5 प्लस से अलग बनाती हैं।

डिस्प्ले की बात करें तो फोन 2.5D घुमावदार ग्लास के साथ आता है, इसमें 5.5 इंच की बड़ी डिस्प्ले होने के बाद भी आप इसे जेब में आसानी से रख सकते हैं। डिस्प्ले के नीचे एक होम बटन है जिसमें कुशल फिंगरप्रिंट स्कैनर जोड़ा गया है।

डिजाइन को लेकर एक और चीज जो हमें अच्छी लगी वह ये है, कि फोन को एक-हाथ से अच्छी तरह ऑपरेट किया जा सकता है , मतलब इसकी पूरी डिस्प्ले से लेकर होम बटन तक आसानी से अंगूठे को चलाया जा सकता है।

साथ ही दायीं ओर दिए गए वॉल्यूम रॉकर और पावर बटन भी फोन को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। बाईं ओर के किनारे पर हाइब्रिड सिम ट्रे है, जबकि बैक साइड में कैमरा और एलईडी फ्लैश को एक साथ रखा गया है।

डिस्प्ले में 720p HD रिज़ॉल्यूशन अच्छा काम करता है और डार्क ब्लैक, उचित डायनामिक रेंज और उच्च कंट्रास्ट के साथ रंगों का अच्छा मिश्रण प्रदर्शित करता है। घर के बाहर सूरज की रौशनी में भी फोन की डिस्प्ले आसानी से दिखाई देती है और इसे ऑपरेट करने में कोई दिक्क्त नहीं आती, इसके अलावा इसमें आई प्रोटेक्शन मोड की उपलब्धता एक स्वागत योग्य फीचर है।

यूं तो इसकी डिस्प्ले अच्छी है, लेकिन जिस प्रकार की प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है, उस पर विचार करते हुए वी 5S में अगर फुल HD रेसोलुशन होता तो बेहतर होता। साधारण उपयोगकर्ताओं को यह अनुभव नहीं होगा, लेकिन फुल HD रिज़ॉल्यूशन वाली डिस्प्ले के मुकाबले इसमें टेक्स्ट और आइकन हल्के दिखाई देते हैं।

Vivo V5s प्रदर्शन और सॉफ्टवेयर

वी 5 की तरह ही, वी 5S भी मीडियाटेक एमटी 6750 प्रोसेसर का उपयोग करता है, जिसे 4GB रैम के साथ जोड़ा गया है-फ़ोन में यह संयोजन बेहतरीन परफॉरमेंस देता है, रोज़ाना के सामान्य कार्यों के अलावा फोन में मल्टीटास्किंग अनुभव भी बेहतरीन है। वीडियो प्लेबैक का अनुभव भी अच्छा है।

फ़ोन के साथ समस्या ये है कि यह गर्म हो जाता है, लेकिन केवल लंबे गेमिंग या अत्यधिक मीडिया उपयोग के दौरान। लेकिन अगर आप अधिक भारी उपयोग के आदी नहीं है तो फोन के साथ आपको दिक्क्तें नहीं आएँगी।

बात ऑपरेटिंग सिस्टम की करते हैं, वीवो वी 5S में एंड्रॉइड 6.0 मार्शमॉलो पर आधारित वीवो फ़नटच ओएस 3.0 है, जो कि हमारे लिए थोड़ा हैरानी भरा था क्योंकि हम फोन पर एंड्रॉइड नोगाट की उम्मीद कर रहे थे। इसके बावजूद, फ़नटच ओएस अच्छी तरह से काम करता है और उपयोगकर्ता के लिए काफी सुविधा जनक है।

इसके अलावा इसमें स्मार्ट स्प्लिट 2.0 भी शामिल है जिसमें उपयोगकर्ता एक साथ दो एप्स चला सकते हैं, साथ ही सिंगल हैंड मोड है जो स्क्रीन को कम करके ऑपरेट करने में सुविधाजनक बनाता है, स्मार्ट क्लिक जिसके माध्यम से आप फ्लैशलाइट चालू कर सकते हैं या वॉल्यूम बटन को लॉन्ग प्रेस करके कैमरा खोल सकते हैं, साथ ही एक क्लोन ऐप मोड भी है, जिसमें आप लॉग-इन कर सकते हैं और एक साथ दो एकाउंट्स का उपयोग कर सकते हैं।

फोन के साथ एक तथ्य ये भी है कि इसके Bloatware (manager, iMusic, V-Appstore, Vivo Cloud, और iTheme जैसे एप्स) को हटाया नहीं जा सकता।

Vivo V5s कैमरा

क्यों कि कंपनी ने अपने फोनों में कैमरा को सबसे ज्यादा प्रचारित किया है, इसलिए इसके कैमरे की समीक्षा विशेष महत्वपूर्ण है।

सामने की तरफ, ‘मूनलाइट फ्लैश’ के साथ एक 20MP का कैमरा है, जो विशेष रूप से सेल्फी के लिए तैयार किया गया है। कैमरा का इंटरफ़ेस काफी आसान है, फोटो मोड्स को सिर्फ एक टैप में बदला जा सकता है।

फोन में ‘टेक सेल्फी’ और ‘फेस ब्यूटी मोड़’ के साथ साथ ग्रुप सेल्फी कैप्चर करने के लिए भी एक समर्पित मोड दिया गया है। हालांकि इसका वाइड एंगल शॉट काफी असंगत है, फिर भी बोके इफेक्ट (Bokeh) और एचडीआर(HDR) इफेक्ट को अच्छे से प्रयोग किया जा सकता है।

पीछे की तरफ, एक 13MP का कैमरा है, जो अच्छे फोटो कैप्चर करता है और साथ ही साथ तेज़ फोकस करता है। हालांकि कम रोशनी की स्थिति में, फोटो की गुणवत्ता में थोड़ी कमी आती है। मुख्य कैमरे के फीचर्स में एक प्रोफेशनल मोड, एक अल्ट्रा एचडी मोड, नाईट मोड आदि शामिल हैं।

Vivo V5s की बैटरी, ऑडियो व अन्य

3,000 mAh की पावर यूनिट वाला यह फोन चार्ज होने के बाद आराम से एक पूरे दिन (यदि आप हल्के उपयोगकर्ता हैं तो डेढ़ दिन) तक काम कर सकता है। लेकिन, गेमिंग के दौरान बैटरी बहुत तेजी से घटती है ।हालांकि कंपनी ने फोन के साथ फ़ास्ट चार्जिंग का कोई विशेष दावा नहीं किया है, फिर भी यह लगभग 90-100 मिनट के समय में पूरा चार्ज किया जा सकता है।

जहां तक ​​बैटरी ड्रेनेज की बात है, अधिकांश परिस्थितियों में यह प्रवाह काफी हद तक धीमा है मगर हाई एन्ड गेमिंग या सर्फिंग (या दोनों) के दौरान तेज हो जाता है।

ऑडियो आउटपुट के मामले में इसका ऑडियो हेडफ़ोन ही नहीं स्पीकर में भी बहुत अच्छा है। कॉलिंग के दौरान हमें ऑडियो से संबंधित किसी भी समस्या का अनुभव नहीं हुआ।

अंतिम फैसले

जबकि हम नवीनतम एंड्रॉइड ओएस चाहते हैं, और कम से कम एक फुल HD डिस्प्ले वाला फोन पसंद करते हैं, ऐसे में वी 5S अपने आप में एक व्यवहारिक विकल्प नहीं है।

सेल्फी-कैमरा को इसकी मुख्य खूबी के रूप में उजागर किया जा रहा है, मगर ध्यान देने वाली बात ये है कि यही कैमरा सेटअप Vivo V5 और Y66 में भी उपलब्ध है, और ये दोनों वी 5S से सस्ते फोन हैं। हां, यह वीवो के पोर्टफोलियो में तीन ‘‘परफेक्ट सेल्फी’ फोनों में से बेहतर है, लेकिन तीनों के बीच में कोई खास अंतर नहीं है। अगर आप एक सख्त बजट पर हैं तो आप वी 5 को विकल्प के तौर पर चुन सकते हैं।

खूबियां

प्रीमियम लग रहा है
बेहतर सेल्फी कैमरों में से एक
फास्ट फिंगरप्रिंट सेंसर

खामियां

हाइब्रिड सिम स्लॉट
सॉफ़्टवेयर बेहतर हो सकता था

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here