प्रशंसकों और आलोचकों के भारी दबाव से होते हुए, वनप्लस का नया फ्लैगशिप OnePlus 5 बाजार में आ चुका है ।अगर आप इसकी कीमत और स्पेसिफिकेशन्स को देखते हैं तो पहली ही नज़र में ये एक फायदे का सौदा मालूम होता है। लेकिन दुनिया में ‘सबकुछ परफेक्ट’ वाली कोई चीज़ होती ही नहीं। हर स्मार्टफ़ोन में कुछ न कुछ ऐसी बातें मिल ही जाती हैं, जो उसकी सम्पूर्णता पर सवाल खड़े करती हैं। उसी प्रकार OnePlus 5 में भी खूबियां और सीमितताएं दोनों मौजूद हैं। इसीलिए आज हम बात करेंगे वनप्लस 5 के कुछ ख़ास बिंदुओं पर और जानेंगे कि यह फोन हमें “पैसा वसूल” वाली फीलिंग देगा या नहीं। (Read in English)

यह भी पढ़ें: 15,000 रुपये से कम कीमत में उपलब्ध 4 जीबी रैम वाले बेस्ट स्मार्टफोन्स

OnePlus 5 को खरीदने के कारण

एक तेज फोन

बेंचमार्क हेराफेरी वाले विवाद के बावजूद वनप्लस 5 इस दौर का सबसे तेज़ फोन है, 5वीं पीढ़ी का यह फोन क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 835 प्रोसेसर और एड्रेनो 540 जीपीयू के साथ मिलकर बना है, जो कि अब तक केवल चुनिंदा स्मार्टफोनों में ही उपलब्ध है।

साथ ही फोन 6GB और 64GB तथा 8GB और 128GB (UFS 2.1) स्टोरेज विकल्पों के साथ आता है, जिनकी कीमतें सचमुच आकर्षक हैं। अगर इसकी परफॉरमेंस की बात करें तो यह फोन हैंडलिंग में बेहद तेज़ है और हैंग होने जैसी कोई भी स्थिति नहीं आती चाहे आप कितने भी एप्स एक साथ कैश कर लें।

इंटेलीजेंट ऑक्सीजन ऑपरेटिंग सिस्टम

वनप्लस 5 स्टॉक एंड्रॉइड के करीब काम करता है, जो आपको इसे मनचाहे ढंग से कस्टमाइज करने के लिए विभिन्न फीचर्स और विकल्प प्रदान करता है। OnePlus अपने बेहतरीन गेस्चर्स के लिए जाना जाता है और यह फोन इस खूबी से जुदा नहीं है। यह अलग-अलग गेस्चर अनुकूलन , नेविगेशन बटन और ऑन-स्क्रीन नेविगेशन बटन जोड़ने के विकल्प प्रदान करता है। इसके अलावा Reading mode और गहरे रंग की थीम जैसी विशेषताएं इसे और बेहतर बनाती हैं।

इसके अलावा भारत में सैमसंग पे का मुकाबला करने के लिए, वनप्लस ने पेटीएम आधारित क्विक पे सुविधा शुरू करने के बारे में विचार कर रहा है। कुल मिलाकर कहें, वनप्लस 5 का ओएस काफी शानदार है।

यह भी पढ़ें: 20,000 रूपये से कम कीमत वाले बेस्ट लुकिंग फ़ोन

उत्कृष्ट फिंगरप्रिंट सेंसर

OnePlus के पिछले फोनों – OnePlus 3 और 3T दोनों में ही विश्वसनीय और तेज फिंगरप्रिंट सेंसर दिए गए थे, जो कि वनप्लस 5 में भी मौजूद है। फोन में एक सटीक और तेज फिंगरप्रिंट सेंसर दिया गया है।

इसे टेस्ट करने के लिए हमने कई बार फोन को फिंगरप्रिंट द्वारा अनलॉक किया मगर एक बार भी अनलॉकिंग फेल नहीं हुई। यह उपयोगकर्ताओं को पांच फिंगरप्रिंट्स तक सेव करने की सुविधा देता है, जिसके द्वारा आप अपनी किसी भी उंगली के जरिये पलक झपकते ही डिवाइस को अनलॉक कर सकते हैं।

निर्माण की गुणवत्ता

वनप्लस 5 डिज़ाइन के बारे में लोगों ने जरूर सवाल उठाया होगा लेकिन इसके निर्माण की गुणवत्ता के आधार पर कोई प्रश्न नहीं लगाया जा सकता। वनप्लस 5 स्मार्टफोन वनप्लस 3T की तुलना में काफी स्लिम और हल्का है, पीछे की तरफ अल्युमीनियम से बने इस फोन के किनारों पर यू-आकार वाले एंटीना बैंड दिए गए हैं। इसकी बनावट ऐसी है कि इसपर पानी की बूंदें ठहर नहीं सकतीं। 5.5 इंच की डिस्प्ले और मेटल बॉडी के साथ यह फोन काफी प्रीमियम लगता है।

डैश चार्जिंग

वनप्लस 5 में 3,300mAh की बैटरी दी गयी है जो कि एक सामान्य उपयोगकर्ता के लिए एक पूरी चार्जिंग में कम से कम एक दिन तक प्रयोग की जा सकती है। फोन में फास्ट चार्जिंग के लिए डैश चार्ज सपोर्ट दिया गया है, जिससे सिर्फ 30 मिनट में फोन को 50 प्रतिशत चार्ज किया जा सकता है।

आकर्षक कीमतें

वनप्लस 5 के निर्माताओं ने जब इसकी कीमत की घोषणा की तो उन्हें कुछ लोगों की नाराज़गी का सामना करना पड़ सकता था क्यों कि जब आप इस फोन की निर्माण गुणवत्ता और स्पेसिफिकेशन को देखते हैं, तो आप पाएंगे कि बाजार में यह सबसे सस्ता प्रीमियम स्मार्टफोन है। OnePlus के 6GB रैम और 64GB स्टोरेज संस्करण की कीमत महज़ 32999 रूपये है, जबकि 8Gb रैम और 128GB स्टोरेज वाले संस्करण की कीमत सिर्फ 38,999 रुपये है।

वनप्लस 5 क्यों न खरीदें ?

अभी भी फ्लैगशिप की श्रेणी से बाहर

वनप्लस 5 निश्चित रूप से एक बेहतरीन प्रीमियम स्मार्टफ़ोन है, लेकिन यह अभी भी फ्लैगशिप फोनों की श्रेणी में नहीं गिना जा सकता। इसका उद्देश्य सैमसंग गैलेक्सी एस 8, गूगल पिक्सेल और एप्पल आईफोन के साथ प्रतिस्पर्धा करना है।

लेकिन इनोवेशन और उपयोगकर्ता अनुभव के मामले में यह पीछे रह जाता है। इसका कैमरा अभी भी फ्लैगशिप मानकों से कम है और इसकी आईफोन जैसी डिज़ाइन भी कोई ख़ास प्रभावशाली नहीं है।

यह भी पढ़ें: Samsung ने लांच किये Galaxy J3 ,J5,और J7, जानिये इनके बारे में

कम डिस्प्ले रेसोलुशन

इस समय में गैलेक्सी एस 8 से लेकर एलजी जी 6 और एचटीसी यू 11 से सोनी एक्सपीरिया एक्सजेड प्रीमियम तक सभी बड़े एंड्रॉइड फोन Quad HD display के साथ आते हैं, जबकि वनप्लस 5 सिर्फ Full एचडी डिस्प्ले के साथ लांच किया गया है। यह वही पैनल है जो OnePlus 3T में इस्तेमाल किया गया था। 5.5 इंच का यह ऑप्टिक AMOLED डिस्प्ले पैनल ऊपर उल्लिखित फ्लैगशिप फोनों के मुकाबले काफी पीछे रह जाता है।

पूरी तरह वाटर रेसिस्टेंट नहीं

2017 में लॉन्च किए गए फ्लैगशिप फोनों में से अधिकांश जल और धूल प्रतिरोधी हैं, सिर्फ वनप्लस 5 को छोड़कर। कार्ल पाई के वनप्लस ने इसके लिए आईपी प्रमाणीकरण मानकों की अनदेखी करना जारी रखा है।

यदि यह फोन IP68 सर्टिफिकेशन प्राप्त कर लेता तो चीज़ें इसके पक्ष में हो सकती थीं। हालांकि, यह कहा जाता है कि वन प्लस 5 में पानी से बचाने वाला नैनो कोटिंग मौजूद है। फिर भी, चूंकि कंपनी आईपी प्रमाणीकरण का दावा नहीं करती, आप पानी से खराब हुए फोन पर वारंटी का दावा नहीं कर सकते।

OIS का अभाव

OnePlus 5 में Electronic Image Stabilization (EIS) का इस्तेमाल किया गया है जो कि OnePlus 3T में दिए गए optical image stabilization (OIS) से कमतर है। OIS के न होने से, कम रोशनी की स्थिति में की फोटो क्वालिटी पर असर पड़ता है और साथ ही 4K वीडियो रिकॉर्डिंग को भी प्रतिकूल रूप से प्रभावित करता है।

यूनिक डिज़ाइन का अभाव

वनप्लस 5 एप्पल आईफोन 7 प्लस से काफी प्रेरित है। ड्यूल कैमरा प्लेसमेंट, माइक्रोफोन प्लेसमेंट और LED नोटिफिकेशन्स प्लेसमेंट, और एंटीना बैंड्स सभी आईफोन 7 प्लस के जैसे हैं। इसके बावजूद, वनप्लस 5 , एस 8, या एचटीसी यू 11 या एलजी जी 6 जैसा अनोखा लुक नहीं देता है।

यह भी पढ़ें: नोकिया 3 या शिओमी रेडमी 4 , कौन सा फ़ोन है बेहतर?

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here