50 करोड़ से ज्यादा मोबाइल नंबर यूजर को हो सकती है KYC से जुडी परेशानी

Main Image
  • Like
  • Comment
  • Share

50 करोड़ मोबाइल फोन कनेक्शन मतलब भारत के लगभग आधे सिम कार्ड यूजर को KYC से जुडी नयी समस्या सामने आ सकती है। कुछ दिन पहले प्राइवेट कंपनियों द्वारा आधार कार्ड की प्राइवेट डिटेल्स को ना इस्तेमाल करने वाली सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद यह समस्या एक बढ़ा रूप ले सकती है। (Read in English)

इस समस्या के तहत यूजर का सिम कार्ड वेरिफिकेशन में विफल होने पर डिसकनेक्ट भी किये जा सकते है। इस परेशानी से बचाव का कोई तरीका निकलने के लिए सरकार से भी उच्च-स्तरिय बातचीत भी की जा रही है।

क्या है पूरा मामला?

 जैसा ऊपर आपको बताया गया है की सुप्रीम कोर्ट ने कुछ दिन पहले फैसला दिया तथा की प्राइवेट कंपनिया, किसी भी तरह के वेरिफिकेशन के लिए UDI मतलब आधार कार्ड का इस्तेमाल नहीं कर सकते है। फोन कनेक्शन या बैंक खातों को अब आधार से लिंक कराने की जरूरत नहीं है। प्राइवेट कंपनियां यूजर्स से इसकी मांग भी नहीं कर सकती हैं। इस मुद्दे पर सरकार में उच्च स्तर पर विचार-विमर्श चल रहा है, क्योंकि अगर बड़ी संख्या में मोबाइल नंबर्स को डिसकनेक्ट किया जाता है तो नागरिकों के ऊपर इसका बड़ा प्रभाव पड़ सकता है।

आधार कार्ड से जुडी इस खबर का सबसे ज्यादा असर Reliance Jio के उपभोक्तओं पर पड़ने वाला है क्योकि कंपनी ने 2016 में जिओ के रूप में टेलिकॉम इंडस्ट्री में कदम रखते ही नए सिम के लिए सिर्फ बायोमेट्रिक का ही सहारा लिया था, जबकि अन्य कंपनियों ने काफी कम संख्या में सिर्फ आधार कार्ड के जरिये ही आईएम कार्ड जरी करे है।

बुधवार को टेलिकॉम सेक्रेटरी अरुणा सुंदरराजन ने मोबाइल कंपनियों से मुलाकात की। इस मीटिंग में केवाईसी से एक दूसरे विकल्प पर बातचीत हुई, जिससे इस परेशानी का कोई हल निकाला जा सके। टेलिकॉम डिपार्टमेंट भी इस बारे में यूनीक आईडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया के साथ इस मुद्दे पर बातचीत कर रहा है।

तो करना होगा दोबारा KYC?

सुन्दरराजन जी ने बताया है की सरकार इस मुद्दे को काफी गंभीरता से ले रही है और जल्द ही कोई हल निकला जायेगा। उन्होंने यह भी बताया है की अगर नयी KYC प्रक्रिया की जरूरत महसूस होती है तो यह काफी सरल और आरण रहेगी ताकि यूजर को किसी भी तरह की कोई परेशानी ना हो।

Related Articles

ImageiQOO Z7 5G vs Poco X5 5G: 20,000 रूपए में कौन सा स्मार्टफोन बेहतर ?

मार्च के महीने में ही भारतीय बाज़ार में दो नए बजट 5G स्मार्टफोन लॉन्च हुए। इनमें iQOO Z7 5G और Poco X5 5G के नाम शामिल हैं। दोनों की शुरूआती कीमत 20,000 रूपए से कम ही है और दोनों में दो स्टोरेज वैरिएंट पेश किये हैं। आइये जानते हैं कि इनमें से इस बजट में …

Imageजाने कैसे जोड़े DigiLocker में अपने आधार कार्ड और ड्राइविंग लाइसेंस को

आज के टेक्नोलॉजी से भरपूर समाज में लगभग सभी पब्लिक या सरकारी विभागों में अब डिजिटलाइजेशन की प्रक्रिया पाने चरम पर देखी जा सकती है। कही भी यात्रा करते समय अपने साथ पेपर-डॉक्यूमेंट को लेकर जाना हमेशा से ही थोडा परेशानी भरा साबित होता है क्योकि इनके खोने पर आपको काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ …

Imageजाने कैसे करे Airtel Wi-Fi Calling सर्विस का इस्तेमाल: साथ ही जाने इसके फायदे

Airtel ने कल इंडिया में अपने ब्रॉडबैंड और Xstream Fibre नेटवर्क यूजर के लिए Wi-Fi कालिंग फीचर को पेश कर दिया है। इस सर्विस को पेश करने वाली एयरटेल पहली टेलिकॉम सर्विस है क्योकि यह इंडिया में पहली VoWi-Fi या Wi-Fi आधारित VoIP टेक्नोलॉजी सर्विस है। इसके इस्तेमाल से यूजर को बेहतर इंनडोर कवरेज के …

Imageचोरी होने पर फ़ोन को कैसे ब्लॉक करें? जानें नहीं तो हो सकती है, जेल

यदि आपका फ़ोन चोरी हो गया है, तो उसे तुरंत ब्लॉक करें, क्यूंकि फ़ोन चोरी होने पर उसका उपयोग गलत कामों के लिए भी हो सकता है, साथ ही उसमें जो आपका सेंसिटिव डाटा है, उसका उपयोग आपको ब्लैकमेल करने या गलत तरीके से किया जा सकता है, जिससे आपको जेल का सामना भी करना …

ImageMobile से डिलीट हुए कॉन्टैक्ट नंबर कैसे रिकवर करें? (सबसे आसान तरीका)

अक्सर हम अपना फ़ोन बदलते हैं, या फॉर्मेट कर देते हैं, तो हमारे फ़ोन में सेव किये गए मोबाइल नंबर डिलीट हो जाते हैं, लेकिन एक तरीका है, जिससे डिलीट हुए कॉन्टेक्ट्स को आसानी से रिकवर कर सकते हैं। यदि आप भी अपने डिलीट हुए कॉन्टेक्ट्स को रिकवर करना चाहते हैं, तो इस लेख को …

Discuss

Be the first to leave a comment.