मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) ने ई-कॉमर्स मार्केट में कदम रख दिया है। कंपनी ने अमेजन और फ्लिपकार्ट को टक्कर देने के लिए माय जियो मार्ट को पेश किया है। RIL ने कुछ महीने पहले अपना न्यू कॉमर्स प्लान जगजाहिर किया था। यह कंपनी के लिए 700 अरब डॉलर का एक नया प्लेटफार्म बताया जा रहा है।

अभी के लिए इस Jio Mart अपने शुरूआती चरण में है। इसमें कंपनी के एक अधिकारी के हवाले से कहा गया है कि My Jio Mart अभी चुनिंदा जगहों पर उपलब्ध होगा, इनमें नवी मुंबई, थाणे और कल्याण शामिल हैं।

RIL के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने 42वीं वार्षिक जनरल मीटिंग में कहा था कि कंपनी की रिटेल सब्सिडियरी की योजना 3 करोड़ छोट कारोबारियों को अपने प्लेटफॉर्म के जरिए सशक्त बनाने की है। न्यू कॉमर्स 700 अरब डॉलर का एक बड़ा बिजनेस अवसर है जो छोटे दुकानदारों तक को फायदा पंहुचा सकता है।

न्यू कॉमर्स का मुख्य उद्देश्य असंगठित रिटेल मार्केट को पूरी तरह से बदलने का है। भारत की असंगठित रिटेल इंडस्ट्री की कुल भारतीय रिटेल में लगभग 80 फीसदी भागीदारी है।

अगर रेवेन्यू की बात करे तो रिलायंस इंडस्ट्रीज की रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) भारत की सबसे बड़ी रिटेल चेन्स में से एक है। वह देशव्यापी आधार पर उत्पादकों, ट्रेडर्स, छोटे कारोबारियों, कंज्यूमर ब्रांड्स और शॉपर्स को जोड़ने के लिए न्यू एज टेक्नोलॉजीस का इस्तेमाल कर रही है।

कंपनी भारत के कॉमर्स मार्केट के लिए एक इकोसिस्टम तैयार करने के लिए मर्चेंट प्वॉइंट ऑफ सेल (POS) सॉल्यूशन पर भी काम कर रही है। रिलायंस रिटेल के इस वक्त पूरे देश में 10000 से ज्यादा स्टोर हैं, जो लगभग 6500 शहरों में फैले हुए हैं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें