24 मार्च को इंडिया में लॉकडाउन की घोषणा करने के बाद से ही जो जहाँ है उसको वही रुकने की सलाह दी गयी है। दिल्ली में भी हर तरह के मूवमेंट पर रोक लगाई जा चुकी है ताकि कोरोना वायरस के फैलने पर रोक लगाई जा सके। इसके बाद अब दिल्ली सरकार आने जाने के लिए e-पास के जरिये थोडा ढील दे रही है।

ग्रोसरी, मेडिकल, ट्रांसपोर्ट और हॉस्पिटल स्टाफ के लिए यह इ-पास जारी किये जा रहे है। चीजो को थोडा सरल बनाने के लिए गवर्मेंट ने Whatsapp के जरिये भी अप्लाई करने की सुविधा शुरू कर दी है।

कैसे करे इ-पास के लिए अप्लाई

दिल्ली सरकार ने इसके लिए एक अलग से डेडिकेटेड वेबसाईट बनाई है जो इ-पास जारी करेगी। इसके साथ यूजर व्हाट्सएप्प नंबर के जरिये भी पास के लिए अप्लाई कर सकते है।

ऑनलाइन एप्लीकेशन में इ-पास किस लिए चहिये यही पूछा जाता है जैसे फ़ूड, राशन, पेंशन और ट्रेवल आदि लिस्ट किये गये है जिनको आप सेलेक्ट कर सकते है। एक बार

आपकी रिक्वेस्ट सबमिट हो जाती है तो आप अपना नाम एड्रेस और मोबाइल नंबर भी सबमिट कर सकते है। इसके बाद आपके डिपार्टमेंट में कॉल करके वेरिफिकेशन की जाएगी।

Whatsapp के जरिये इ-पास के लिए एप्लीकेशन

कुछ यूजर वेबसाईट से ज्यादा इस तरीके को पसंद करेंगे। दिल्ली सरकार ने हर जोन के लिए दो-दो नंबर शुरू किये है। इन नंबरों पर यूजर अपनी रिक्वेस्ट सबमिट कर सकता है। एप्लिकेंट से उसका नाम, एड्रेस, जरूरत, टाइमिंग और आईडी की फोटो को सेंड करने के लिए कहा जायेगा। इसके अलावा और जानकरी के लिए 1031 हेल्पलाइन नंबर भी दिया गया है।

इस सिस्टम के जरिये इ-पास बनने के लिए बाद सिटी में जल्द ही इमरजेंसी आइटम की डिलीवरी का काम शुरू किया जा सकेगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here