क्या है NREGA और अपना नाम NREGA जॉब कार्ड लिस्ट में ऑनलाइन कैसे चेक करें (2023)

Main Image
  • Like
  • Comment
  • Share

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act) जिसे ज़्यादातर लोग MGNREGA या NREGA के नाम से जानते हैं, एक राष्ट्रीय योजना है जो भारत की केंद्र सरकार द्वारा संचालित है। इस योजना से जुड़े ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को एक साल में कम से कम 180 दिनों के लिए रोज़गार की गारंटी मिलती है या कह सकते हैं कि 180 दिनों के लिए काम मिलता है। हालांकि इसके लिए पहले आपको इस योजना में अपना रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता है और फिर आपका नाम NREGA Job Card List में शामिल होता है। इस सूची में अगर आपका नाम आ जाता है , तो हो आपको NREGA Job Card मिलेगा। 

NREGA योजना को सरकार ने 2006 में शुरू किया था और सरकार प्रति वर्ष नए NREGA जॉब कार्ड बनाती है। इनके साथ लोगों को 180 दिनों का रोज़गार मिलता है, जिसके लिए मज़दूरी हर राज्य द्वारा अलग अलग है। तो आइये जानते हैं कि NREGA Job Card के लिए कैसे अप्लाई किया जाए और NREGA जॉब कार्ड लिस्ट में अपना नाम कैसे ढूंढें। 

ये पढ़ें: खो गया आधार कार्ड ? इन आसान स्टेप्स के साथ डुप्लीकेट आधार कार्ड के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन

NREGA Job Card के लिए कैसे अप्लाई करें ?

  • सबसे पहली बात कि ये भारतीय ग्रामीणों के लिए है और इसके लिए आपको स्थानीय ग्राम पंचायत जाकर ही आवेदन देना होगा या अप्लाई करना होगा 
  • नरेगा जॉब कार्ड पाने के लिए ग्राम पंचायत दफ्तर जाकर इससे सम्बंधित फॉर्म मांगें। 
  • नरेगा जॉब कार्ड के इस फॉर्म में आपको नाम, आयु, लिंग, गाँव, ग्राम पंचायत और ब्लॉक का नाम, जाति, परिवार में NREGA के सभी आवेदकों के नाम इत्यादि भरने होंगे।
  • इसमें दी गयी जानकारी को प्रमाणित करने के लिए राशन कार्ड, आधार कार्ड, पैन कार्ड इत्यादि की कॉपी भी देनी होंगी। 
  • अब इस फॉर्म को भरकर इन दस्तावेज़ों के साथ ग्राम पंचायत कार्यालय में जमा करें और खुद को रजिस्टर करवाएं। 
  • आपके द्वारा फॉर्म में दी गयी जानकारी को पूरी तरह से वेरीफाई करने के बाद ही आपका NREGA जॉब कार्ड बनाया जायेगा, जिसमें लगभग 15 दिन का समय लगता है। 

NREGA Job Card List में अपना नाम कहाँ और कैसे देखें ?

  • ग्राम पंचायत में नरेगा जॉब कार्ड के लिए आवेदन देने के 15-20 दिन के बाद, आप इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर अपना नाम इस सूची में देख सकते हैं। भारत के सभी राज्यों के लिए यहां अलग अलग लिस्ट होती हैं। 
  • सबसे पहले नरेगा (NREGA) की वेबसाइट पर जाएँ। 
  • यहां आपको सबसे ऊपर बीच में Search बटन के पास Site Map का विकल्प दिखेगा, उस पर क्लिक करें। 
  • अब इस पेज पर Transparency (ट्रंसपरेंसी) सेक्शन में Job Card के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने राज्यों की एक लिस्ट आएगी, इसमें से जिस राज्य में आपने NREGA जॉब कार्ड के लिए आवेदन भरा था, उसे पर क्लिक करें। 
  • अब ग्राम पंचायत मॉड्यूल रिपोर्ट खुलेगा, जिसमें आपको अपने जिला, ब्लॉक, पंचायत की जानकारी भरनी है और फिर Proceed का बटन दबा दें। 
  • अब आपके सामने नरेगा जॉब कार्ड जिन्हें मिला है, उन सभी आवेदकों की लिस्ट नज़र आएगी। इस लिस्ट में आपको अपना नाम ढूँढना है। 
  • नाम मिल जाने पर अपने नाम के आगे के जॉब कार्ड नंबर या NREGA Card Number पर क्लिक करें और अब आपका जॉब कार्ड खुल जायेगा। इस कार्ड को आप यहां से डाउनलोड भी कर सकते हैं और इसका प्रिंट आउट या हार्ड कॉपी लेकर अपने पास सुरक्षित रखें। 

NREGA Job Card किसके लिए है?

  • NREGA जॉब कार्ड देश के ग्रीन या ग्रामीण लोगों के रोज़गार के लिए बनायी गयी योजना है। 
  • इस कार्ड को बनवाने के लिए व्यक्ति की उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। 
  • एक परिवार के अधिकतम 5 सदस्य ही NREGA Job Card के लिए आवेदन दे सकते हैं। 
  • नरेगा जॉब कार्ड हर राज्य में चलाई जा रही है।  
  • आप इसका आवेदन केवल ऑफलाइन ही भर सकते हैं। 
  • इसके लिए आपको पहचान पत्र (आधार, वोटर कार्ड) और आय जानने के लिए पैन कार्ड जैसे प्रमाण पत्र और अपनी पासपोर्ट साइज़ फोटो भी आपके लेकर जाने होंगे। 

NREGA Job Card अलग अलग रंगों में दिखते हैं, लेकिन इन रंगों का भी मतलब है –

हरे रंग का नरेगा कार्ड मतलब फोटो के साथ जॉब कार्ड जिसे रोज़गार मिल गया। 

ग्रे या सलेटी रंग का नरेगा जॉब कार्ड मतलब फोटो वाला जॉब कार्ड, जिसे रोज़गार नहीं मिला। 

नारंगी या सनफ्लॉवर रंग का जॉब कार्ड मतलब उस पर फोटो नहीं है, लेकिन रोज़गार मिल गया। 

लाल रंग का नरेगा जॉब कार्ड मतलब बिना फोटो वाला कार्ड और रोज़गार भी अब तक नहीं मिला

ये पढ़ें: आयुष्मान कार्ड कैसे बनवाएं, जिसमें सरकार द्वारा मिलता है 5 लाख का बीमा

अधिक जानकारी के लिए आप Smartprix को TwitterFacebookInstagram, और Google News पर फॉलो कर सकते हैं। मोबाइल फोन, टेक, गाइड या अन्य खबरों के लिए आप Smartprix पर भी विज़िट कर सकते हैं।

Pooja ChaudharyPooja Chaudhary
Pooja has been covering technology and gadgets for more than 5 years. Most of her work has been centred around smartphones and smartphone apps, but she occasionally likes to dabble with content on people and relationships. She is also a bit of a TV junkie and is often trying to make time to catch up with her favourite shows and classic movies.

Related Articles

Imageएक्सक्लूसिव: Samsung Galaxy Z Fold 6 के 360-डिग्री वीडियो और 5K रेंडरों में देखें आकर्षक डिज़ाइन

Galaxy Z Fold 6 के लीक और अफवाहें और धीरे धीरे ज़ोर पकड़ रहे हैं। हाल ही में ये भी सामने आया है कि Samsung इस बार अपने फोल्डेबल फोनों की नयी जनरेशन, Galaxy Ring और Galaxy XR को अगस्त नहीं बल्कि जुलाई में ही लॉन्च कर सकती है। पिछले साल आया Galaxy Z Fold 5, …

Imageआयुष्मान कार्ड कैसे बनवाएं, जिसमें सरकार द्वारा मिलता है 5 लाख का बीमा

आयुष्मान भारत – प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) एक राष्ट्रीय जीवन बीमा योजना है, जो स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा शुरू की गयी है। इस MoHFW (Ministry of Health and Family Welfare) योजना को भारत सरकार द्वारा 2018 में पेश किया गया जो भारत की गरीब जनता के इलाज के लिए आयुष्मान कार्ड …

Imageकैसे पायें दिल्ली में ट्रेवल के लिए लॉकडाउन के दिनों में e-Pass

24 मार्च को इंडिया में लॉकडाउन की घोषणा करने के बाद से ही जो जहाँ है उसको वही रुकने की सलाह दी गयी है। दिल्ली में भी हर तरह के मूवमेंट पर रोक लगाई जा चुकी है ताकि कोरोना वायरस के फैलने पर रोक लगाई जा सके। इसके बाद अब दिल्ली सरकार आने जाने के लिए …

Imageप्रधान मंत्री आवास योजना में कैसे करें अप्लाई और स्टेटस कैसे चेक करें

प्रधान म्नत्री आवास योजना केंद्र सरकार दद्वारा शुरू की गयी वो पहल है, जिससे आर्थिक रूप से कमज़ोर, कम और माध्यम आय वाले लोगों को पहली बार अपना खुद का घर देने की कोशिश की जा रही है। पहले इस योजना में आप 2023 तक ही आवेदन दे सकते थे, लेकिन अब सरकार ने इसकी …

Imageक्या है e-SIM? Android और iPhones में कैसे एक्टिवेट करें e-SIM?

भारत में धीरे धीरे e-SIM का उपयोग बढ़ रहा है और धीरे धीरे कंपनियां भी अपने फ़ोन में एक फिजिकल सिम और एक ई-सिम का चलन बढ़ा रही हैं। eSIM को फिज़िकल सिम की जगह पर इस्तेमाल किया जाता है और इसके काफी फायदे भी हैं। सबसे पहले तो ये फ़ोन में फिज़िकल सिम के …

Discuss

Be the first to leave a comment.