रिलायंस ने आज अपनी 43वीं वार्षिक जनरल मीटिंग में काफी आकर्षक घोशनाएँ की है। कंपनी के मालिक मुकेश अम्बानी ने आज Jio 5G की घोषण की है। इवेंट में साफ़ किया है की यह Made in India, Made For India की टैग लाइन के साथ पेश किया जायेगा। कंपनी 5G स्पेक्ट्रम

के शुरू होने के बाद यानि साल 2021 में इस पर काम करना भी शुरू कर देगी।

बेहतर कनेक्टिविटी के साथ कंपनी आने वाले समय में क्लाउड सर्विस, डिवाइस, ऑपरेटिंग सर्विस AI,AR और कंप्यूटर विज़न के डिपार्टमेंट में नए आयाम देने वाली है। कंपनी ने यहाँ पर लगभग 20 नए स्टार्टअप से पार्टनरशिप भी की है।

मुकेश अम्बानी के अनुसार यह सर्विस असिर्फ़ इंडियन मार्किट तक ही सीमित नहीं रखी जाएगी। रिलायंस आने वाले दिनों में 5G कनेक्टिविटी के क्षेत्र में एक ग्लोबल स्तर पर नए लेवल को सेट कर सकने में सक्षम है।

Jio 5G सर्विस इंडियन मार्किट में बेहतर कनेक्टिविटी के साथ साथ ग्लोबक्ल मार्किट में भी इस लेटेस्ट सर्विस का इस्तेमाल करेगी।

Reliance Google Deal, मिलेगा जल्द 5G स्मार्टफोन?

मिस्टर अम्बानी ने मीटिंग में लभग 350 मिलियन 2G फीचर फोन का इस्तेमाल करने वाले यूजरों को एक किफायती स्मार्टफोन की तरफ मोड़ने को लेकर भी बात की है। तो उम्मीद यही की जा रही है की आने वाले कुछ महीनो में जिओ और गूगल की डील के तहत किफायती 4G या 5G स्मार्टफोन देखने को मिल सकते है।

जैसा की आप जानते ही है गूगल ने हाल ही में रिलायंस में 33,737 करोड़ रुपए के साथ जिओ सर्विसों में 7.7% शेयर खरीद लिया है।

यहाँ पर अम्बानी जी ने मीटिंग में हाल ही हुई में डीलों का भी जिक्र किया है। हाल ही में क्वालकॉम ने जिओ में 97 मिलियन डॉलर इन्वेस्ट के साथ 0.15% स्टेक खरीदे है। पिछले लगभग 12 हफ्तों में कंपनी ने अपनी 25.2% हिस्सेदारी के बदले 15.7 बिलियन डॉलर यानि 1.17 लाख करोड रुपए की राशी को प्राप्त किया है।

मीटिंग में रिलायंस ने Jio mart, Jio Glass, JioTV Plus और JioMeet सर्विसों के बारे में भी जानकारी दी है।

 

 

 

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here