मई महीने में Google ने अपना पहला मिड-रेंज पिक्सेल फोन इंडिया में लांच किया था जिसका मुख्य कारण है ज्यादा से ज्यादा यूजर को पिक्सेल फ़ोनों की तरफ आकर्षित करना। नए Pixel 3a फ़ोनों इंडिया में उतना किफायती साबित नहीं होते है लेकिन मिड-रेंज में अपनी स्पेसिफिकेशन के साथ काफी बेहतर ऑप्शन साबित होने के लिए काफी कड़ा मुकाबला करती है। (Google Pixel 3a XL Review Read in English)

स्पेसिफिकेशन और प्राइस कॉम्बिनेशन देखने पर तो डिवाइस OnePlus 7 और Asus 6Z से थोडा पीछे नज़र आता है लेकिन हम बात कर रहे है गूगल पिक्सेल फ़ोनों की जो बेस्ट कैमरा फोन साबित होते आये है तो चलिए इन्ही सवालों का जवाब ढूंढते है Google 3a XL के रिव्यु पर:

यह भी पढ़िए: Asus 6Z रिव्यु (समीक्षा): ऑलराउंडर फ़ोन पर क्या OnePlus 7 को टक्कर?

Pixel 3A और Pixel 3A की कीमत और स्पेसिफिकेशन

मॉडल  Pixel 3A Pixel 3A XL
डिस्प्ले 5.6-इंच, 18:9, AMOLED FHD+ 6.0-इंच, 18:9, AMOLED FHD+
प्रोसेसर 2.2GHz स्नैपड्रैगन 670 2.2GHz स्नैपड्रैगन 670
बैटरी 3000mAh 3700mAh
सॉफ्टवेयर एंड्राइड पाई एंड्राइड पाई
स्टोरेज 64GB 64GB
रैम 4GB 4GB
रियर कैमरा 12.2MP, f/1.8 12.2MP, f/1.8
फ्रंट कैमरा 8MP, f/2.0 8MP, f/2.0
माप और वजन 151.3 x 70.1 x 8.2 mm; 147 ग्राम 160.1 x 76.1 x 8.2 mm; 167 ग्राम
कीमत 39,999 रुपए 44,999 रुपए

Google Pixel 3a XL रिव्यु : डिजाईन एंड बिल्ड

जब बात करते है डिजाईन की तो Google Pixel 3a XL बिलकुल ही अलग सोच के साथ मैदान में मिलता है। आज के लेटेस्ट ग्लास-मेटल ट्रेंड से अलग Pixel में प्लास्टिक बॉडी ही देखने को मिलती है पर फिर भी देखने में काफी आकर्षक लगती है। ये डिजाईन प्रीमियम फील नहीं देता है लेकिन कोई कमी भी इसमें दिखाई नहीं देती है।

Pixel फोन का वही टू-टोन पैनल थोडा यूनिक लुक के साथ 3a XL को सबसे अलग खड़ा करता है जिसके साथ सामने AMOLED डिस्प्ले इसको और भी अच्छा लुक देती है।

बिना नौच की डिस्प्ले, ऊपर और नीचे मोटे बेज़ेल देखने में लगता है की काफी पुराना डिजाईन है लेकिन हाल के दिनों में OnePlus 7 Pro और Asus 6Z जैसे फुल-स्क्रीन फ़ोनों का इस्तेमाल करने पर हमको ऊपर की तरफ बेज़ेल की कमी लगती है साथ ही बिना नौच के पूरी स्टेटस बार देखने में अच्छी लगती है।

पर्याप्त टॉप और बॉटम बेज़ेल के बाद भी नए फ़ोनों की तुलना में Pixel वजन में हल्का और कॉम्पैक्ट नज़र आता है जो इसको काफी अलग और बेहतर बनाता है।

और यहाँ डिवाइस को थोडा सा दबाने (एक्टिव एज फीचर) पर आप गूगल अस्सिस्टेंट का इस्तेमाल कर सकते है। इसके अलावा एक्टिव एज की सेंसिविटी को आप कम या ज्यादा भी कर सकते है। हमने डिवाइस को मैक्सिमम सेंसिटिविटी के साथ भी काफी देर इस्तेमाल किया लेकिन गलती से कभी गूगल अस्सिटेंट नहीं ओपन हुआ।

Ashai Dragon Trail ग्लास आपको सामने की तरफ दिया गया है वो गोरिल्ला-ग्लास की तुलना में थोडा कम स्क्रैच रेसिस्टेंट है साथ ही प्लास्टिक साइड फ्रेम भी मजबूती के हिसाब से थोडा कमज़ोर लगता है इसलिए हम एक अच्छे कवर और टेम्पर्ड ग्लास का इस्तेमाल करने का सुझाव जरुर देंगे।

Google Pixel 3a XL रिव्यु: डिस्प्ले क्वालिटी

गूगल ने कीमत में कमी करने के बावजूद डिस्प्ले में कोई एडजस्टमेंट नहीं किया है। Pixel 3a XL 6-इंच की डिस्प्ले FHD+ रेज़ोलुशन और काफी संतुलित पैनल देखने मिलता है। यहाँ पर आपको 3 कलर प्रोफाइल Natural, Boosted और Adaptive दी गयी है। नेचुरल में आपको कलर काफी संतुलित मिलते है जबकि Adaptive में DCI-P3 प्रोफाइल जैसा कलर टोन मिलता है जो यूजर की आँखों के लिए काफी बेहतर नज़र आता है।

डायरेक्ट सन-लाइट में डिस्प्ले पर कोई दिक्कत नहीं होती है और इंडोर में भी डिस्प्ले आँखों पर हार्श नहीं लगती है। Pixel में आपको DC Dimming का ऑप्शन नहीं मिलता साथ ही अन्य AMOLED स्क्रीन की तरह Pixel 3a XL में PWM के साथ ही ब्राइटनेस को डिम्म किया गया है और PWM फ्लिक्कर के प्रति सेंसिटिव लोगो के लिए यह एक परेशानी है।

सॉफ्टवेयर में डार्क थीम/ मोड का भी सपोर्ट मिलता है जिसके साथ ऑलवेज-ऑन डिस्प्ले Pixel 3a XL में काफी उपयोगी साबित होता दिखाई देता है।

Google Pixel 3a XL रिव्यु: परफॉरमेंस एंड सॉफ्टवेयर

Pixel 3a XL में आपको मिड-रेंज स्नैपड्रैगन 670 ओक्टा-कोर चिपसेट दिया गया है लेकिन दैनिक इस्तेमाल में डिवाइस का एक्सपीरियंस काफी स्मूथ मिलता है जो हम हाई-एंड फ़ोनों से उम्मीद रखते है। डिवाइस के इतने बेहतर प्रदर्शन की वजह एक बार फिर गूगल का सॉफ्टवेयर ही कहा जायेगा।

लेकिन गेमिंग एप्लीकेशन के लिए यह नहीं कहा जा सकता है। PUBG को High या HD सेटिंग पर तो खेल सकते है लेकिन मैक्सिमम सेटिंग पर यह जरा भी स्मूथ परफॉरमेंस नहीं देता है। सीधे शब्दों में कहे तो गेमिंग परफॉरमेंस आपको किसी भी तरह से स्नैपड्रैगन 855 चिपसेट जैसा नहीं मिलता है जो इस प्राइस सेगमेंट में आसानी से देखा जा सकता है। इसके अलावा परफॉरमेंस आपको काफी अच्छा मिलता है।

सॉफ्टवेयर एक्सपीरियंस तो हमेशा से ही Pixel फ़ोनों की खासियत रही है। ये डिवाइस लेटेस्ट एंड्राइड सॉफ्टवेयर पर रन करती है और आने वाले सालो में भी लेटेस्ट अपडेट प्राप्त करती रहेगी वो भी सबसे पहले।

स्टॉक एंड्राइड और लेटेस्ट वर्जन से भी ज्यादा ख़ास है क्योकि इसपर गूगल काम करती है। डिवाइस को सबसे अलग रखने के लिए कंपनी ने काफी अलग-अलग पिक्सेल फीचर डिवाइस में दिए है जो सॉफ्टवेयर में आसानी से देखे जा सकते है।

अगर आप लेटेस्ट एंड्राइड और प्रायोरिटी एक्सेस को लेकर ज्यादा उत्साहित नहीं रहते है तो भी यह सॉफ्टवेयर सबसे बेहतर OS में से एक है।

इसी के साथ अगर आप काफी कस्टम इंटरफ़ेस को ही पसंद करते है तो स्टॉक एंड्राइड में इस बात की कमी दिखाई देती है।  अभी के लिए कॉल रिकॉर्डिंग के लिए थर्ड-पार्टी एप्लीकेशन का इस्तेमाल करना पड़ता है लेकिन फोटोज एप्लीकेशन गैलरी की तुलना में काफी उपयोगी है खासकर तब जब आप एक से ज्यादा डिवाइस इस्तेमाल करते हो।

Pixel 3a XL में eSim और SIM स्लॉट मिलता है लेकिन अभी के लिए यह एक सिंगल सिम फोन ही साबित होता है। एंड्राइड Q बीटा अपडेट में ड्यूल सिम सपोर्ट शुरू किया था लेकिन फिर इसको हटा दिया गया। तो अगर आप एक से ज्यादा सिम इस्तेमाल करते है तो आपको थोडा सोचना जरुर पड़ सकता है।

कनेक्टिविटी ऑप्शन के मामले में Pixel 3a XL काफी अच्छा नज़र आता है। बेसिक कनेक्टिविटी ऑप्शन के अलावा यहाँ पर HD स्ट्रीमिंग का सपोर्ट भी मिलता है। फेस अनलॉक नहीं है लेकिन रियर-फिंगरप्रिंट सेंसर काफी ज्यादा तेज़ है। हमारे एरिया में कॉल क्वालिटी भी काफी अच्छी मिलती है।

Google Pixel 3a XL रिव्यु: कैमरा परफॉरमेंस

Pixel 3a XL का कैमरा उसकी सबसे बड़ी USP है। इसको परफेक्ट नहीं कह सकते है लेकिन उसके बावजूद ये इस सेगमेंट का बेस्ट कैमरा फोन कहा जा सकता है। Google ने यहाँ Pixel 3 जैसा ही रियर कैमरा और फोटो प्रोसेसिंग का इस्तेमाल किया है। 3a XL में वैसे विजुअल कोर नहीं दी गयी है इसलिए इमेज प्रोसेसिंग में एक एक्स्ट्रा सेकंड देखने को मिलती है।

डे-लाइट में Pixel 3a XL आपको बेहतर अच्छी मीटरिंग वाले शॉर्ट्स थोडा अंडर-एक्सपोज्ड इमेज सब्जेक्ट के साथ मिलते है जिस वजह से कभी कभी आपको शैडो एरिया में डिटेल्स कम मिलती है।

आउटडोर में क्लिक इमेज में आपको शानदार डायनामिक रेंज देखने को मिलती है। फोन कैमरा की शटर स्पीड भी काफी तेज़ है जो एक्सपीरियंस को और बेहतर बना देती है।

लो-लाइट या डार्क सीन में Pixel 3a XL एक बार फिर बेहतरीन रिजल्ट देता है। इसके साथ आप नाईट-साईट का भी इस्तेमाल कर सकते है ताकि रिजल्ट और भी बेहतर प्राप्त हो।

और पोर्ट्रेट शॉर्ट्स तो गूगल फोन से बेहतर कोई क्लिक करता ही नहीं है।

कैमरा एप्लीकेशन में आपको Photoshere और Playground जैसे कुछ एक्स्ट्रा फीचर भी देखने को मिलते है।

यूजर के लिए पिक्सेल का कैमरा इसको खरीदने की सबसे बड़ी वजह साबित होता आया है। Pixel 3a XL के साथ आप जायदा कुछ ना करके भी शानदार आउटपुट प्राप्त कर सकते है। और सबसे जरूरी बात, यह इस सेगमेंट के बेस्ट कैमरा फोन में सबसे आगे नज़र आता है।

Google Pixel 3a XL रिव्यु: बैटरी और ऑडियो

3750mAh की बैटरी आपको काफी बेहतर बैकअप देने में सक्षम है। हमने डिवाइस को आउटस्टेशन ट्रिप में इस्तेमाल किया है। ट्रिप में हमने डिवाइस का काफी इस्तेमाल किया जैसे GPS नेविगेशन, 4G ब्राउज़िंग, इमेज क्लिक, विडियो शूट जैसे टास्क परफॉर्म किये और डिवाइस का बैकअप उम्मीद से बेहतर प्राप्त होता है।

हैंडसेट में फ़ास्ट चार्जिंग का सपोर्ट मिलता है और 2A रेगुलर पॉवर बैंक के साथ भी डिवाइस काफी तेज़ी से चार्ज हो जाती है। वायरलेस चार्जिंग का सपोर्ट तो नहीं मितला है लेकिन इसका कोई ख़ास इस्तेमाल भी देखने को नहीं मिलता तो इसको कमी नहीं कह सकते है।

स्टीरियो स्पीकर काफी तेज़ ऑडियो आउटपुट देते है और आसानी से आस-पास की आवाजो में भी साफ़-साफ़ सुनाई देता है। मैक्सिमम वॉल्यूम में आउटपुट थोडा क्वालिटी में कम कहा जा सकता है लेकिन यह एवरेज से बेहतर है। Pixel 3 से अलग 3a XL में ऑडियो जैक दिया गया है जो काफी बेहतरीन आउटपुट देता है।

गूगल ने बॉक्स में बेसिक इयरफ़ोन दिए है जिनकी क्वालिटी बस एवरेज ही कही जा सकती है। यहाँ पर Pixel सीरीज की तरह अनलिमिटेड फुल-साइज़ फोटो बैकअप की सुविधा नहीं दी गयी है।

यह भी पढ़िए: Samsung Galaxy Note 10 होगा 7 अगस्त को लांच: S-Pen होगा और भी बेहतर?

Google Pixel 3a XL रिव्यु: निष्कर्ष

छोटी-मोटी कमी और गूगल का बेहतरीन कैमरा इस डिवाइस की सबसे अच्छा विकल्प बनाती है। डिवाइस का एक्सपीरियंस काफी स्मूथ है। डिवाइस को जितना ज्यादा इस्तेमाल करते है यह उतनी ही आकर्षक नज़र आती है और उतना ही एक्सपीरियंस भी अच्छा लगता है।

सॉफ्टवेयर काफी अच्छे से ऑप्टीमाइज़्ड किया गया है साथ ही आपको गूगल का प्रायोरिटी एक्सेस भी मिलता है। बैटरी बैकअप सामान्य है, स्टीरियो स्पीकर के साथ ऑडियो जैक भी दिया गया है। हैंडसेट पतला और वजन में हल्का भी है।

कमी की बात करे तो स्नैपड्रैगन 670 800-सीरीज की तुलना में उतना तेज़ नहीं साबित होता है जो की इस बजट में आपको आसानी से मिल जाता है। इम्पोर्ट ड्यूटी के बात डिवाइस की इंडियन प्राइस 44,999 रुपए हो जाती है जो आप किसी सेल में Pixel 3 के लिए खर्च कर सकते है।

खूबियाँ

  • शानदार कैमरा परफॉरमेंस
  • बिना नौच की डिस्प्ले
  • वजन में हल्का
  • अच्छा बैटरी बैकअप
  • अच्छा सॉफ्टवेयर
  • स्टीरियो स्पीकर और ऑडियो जैक

कमियाँ

  • लो-गेमिंग परफॉरमेंस
  • ड्यूल सिम सपोर्ट नहीं
  • आफ्टर-सेल्स सपोर्ट
  • इंडियन प्राइस

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here