Vivo के द्वारा पेश किया गया एक क्रिएटिव फ्लैगशिप Vivo Nex आज इंडिया में लांच कर दिया गया है। हाई-एंड स्पेसिफिकेशन के अलावा अगर डिवाइस की बात करे तो यहाँ मिलता है आपको 92% स्क्रीन-टू-बॉडी रेश्यो, इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर और पॉप-अप कैमरा जैसे नए और आकर्षक फीचर के साथ पेश किया गया है। (Read in English)

इतनी खूबियाँ वाला यह स्मार्टफोन वैसे तो काफी आकर्षक लगता है लेकिन क्या आपको इसको इस कीमत पर खरीदना चाहिए या बजट में इसका कोई और विकल्प इस से बेहतर है? चलिए इसी सवाल का जवाब ढूंढते है Vivo Nex के विस्तृत रिव्यु में:

Vivo Nex S के स्पेसिफिकेशन

मॉडल Vivo Nex
डिस्प्ले 6.59-इंच की FHD+ (2316×1080), AMOLED डिस्प्ले, 19.3:9 स्क्रीन रेश्यो, 91.2% स्क्रीन-टू-बॉडी रेश्यो
प्रोसेसर स्नैपड्रैगन 845 चिपसेट, Adreno 630 GPU
रैम 8GB LPDDR4
इंटरनल स्टोरेज 128GB/ 256GB
सॉफ्टवेयर एंड्राइड ओरेओ 8.1 आधारित FunTouch OS 4.0
प्राइमरी कैमरा 12+5MP, 4-axis OIS, ड्यूल-पिक्सेल सेंसर
सेकंड्री कैमरा 12MP ड्यूल पिक्सेल सेंसर
बैटरी 4000mAh, 22.5 फ़ास्ट चार्जिंग
अन्य ड्यूल-सिम, 4G LTE, Wi-Fi, ब्लूटूथ 5.0, USB 2.0, GPS+GLONASS, इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर
कीमत 44,990 रुपए

Vivo Nex रिव्यु : डिजाईन और बिल्ड

Vivo द्वारा पेश किये गये Vivo Nex का डिजाईन ही इसकी सबसे बड़ी खासियत है. इतना सब करने के बाद आखिरकार कंपनी ने 92% स्क्रीन-टू-बॉडी रेश्यो के साथ लगभग एक बिना बेज़ेल वाला बिना नौच वाला स्मार्टफोन पेश किया है जिसको सामने से देखने पर सिर्फ डिस्प्ले ही नज़र आती है जो काफी आकर्षक लगती है।

फोन में 6.59-इंच की डिस्प्ले दी गयी है लेकिन फोन को हाथ में पकड़ने पर यह इतना भी बड़ा नहीं लगता है। कंपनी ने फोन के किनारों पर बिलकुल पतला बेज़ेल दिया है जो इसके डिवाइस के आकार को बिना बढाये एक बड़ी और बेहतर डिस्प्ले देने पर सफल रही है। हम पिछले एक हफ्ते से इस डिवाइस का इस्तेमाल कर रहे है और साइज़ बड़ा होने पर भी कोई परेशानी महसूस नहीं होती है।

पीछे की तरफ ग्लास बेक आपको काफी पसंद आएगी। मेटल फ्रेम और घुमावदार किनारे और होलोग्राफिक पैटर्न भी काफी आकर्षक कहा जा सकता है और फोन को काफी अच्छा लुक देता है।

हम लगभग 1 हफ्ते से डिवाइस को इस्तेमाल कर रहे है और जब से डिवाइस को लांच किया गया है तभी से फोन को काफी अच्छे रिव्यु मिल रहे है जिसका सबसे बड़ा कारण है इसकी बड़ी बिना नौच वाली डिस्प्ले। इसके अलावा फोन में दिया गया पॉप-अप कैमरा अभी तक का सबसे क्रिएटिव इनोवेशन साबित हुआ है।

Vivo Nex का सेल्फी कैमरा लगभग 1 सेकंड से भी कम समय में कैमरा एप्लीकेशन पर फ्रंट कैमरा को सेलेक्ट करने पर बाहर आ जाता है। कैमरा के बाहर आने पर आपको बहुत ही हल्की आवाज आती है जिसको अप सेटिंग में जाकर बदल भी सकते है।

पॉप-अप कैमरा कांसक्ट पर काम करने वाले Oppo Find में आपको फ्रंट और रियर दोनों कैमरा सेंसर स्लाइडर पर मिलते है जबकि Vivo Nex में सिर्फ सेल्फी पॉप-अप कैमरा सेंसर दिया गया है। तो अगर आप रियर कैमरा का इस्तेमाल करते है तो यह कैमरा बाहर नहीं आएगा और सामान्य रूप से इमेज क्लिक की जा सकती है बस डिवाइस में दिए गये फेस-अनलॉक फीचर की वजह से डिवाइस अन-लॉक करते समय कैमरा काफी कम देर के लिए बाहर आता है।

स्लाइडर कैमरा होने पर लगता है की फोन की मजबूती पर असर पड़ेगा लेकिन ऐसा नहीं है हमने डिवाइस के कैमरा की मज्बूओति को भी टेस्ट किया है और लगता है फोन की लाइफ के साथ कैमरा लाइफ भी काफी अच्छी है। अगर फ़ोन गिरता भी है तो आपको डिस्प्ले या गिलास बॉडी की चिंता करनी चाहिए ना की पॉप-अप कैमरा की क्योकि यह डिवाइस के अंदर सुरक्षित है।

  • यह एक बड़ी डिस्प्ले और ग्लास बॉडी वाला स्मार्टफोन लेकिन स्क्रीन साइज़ बड़ा होने पर भी यह चलाने में आरामदायक है।
  • 199 ग्राम वजन के साथ यह थोडा भारी लगता है लेकिन इस्तेमाल करने में आपको कोई परेशानी नहीं होती है. डिवाइस काफी संतुलित है।
  • हैंडसेट के साथ आपको एक प्रीमियम केस/कवर भी मिलता है। कवर काफी अच्छी क्वालिटी का है जो आपकी डिवाइस को दैनिक उपयोग में अच्छी सुरक्षा प्रदान करता है।
  • फ़ोन के आगे और पीछे की तरफ आपको पहले से ही प्लास्टिक का स्क्रैच गार्ड लगा हुआ मिलता है।
  • विवो यहाँ पर वन टाइम स्क्रीन रिप्लेसमेंट की सुविधा भी दे रही है।
  • डिवाइस में दिया गया पॉप-अप कैमरा शुरुआत टेस्ट में तो काफी मजबूत नज़र आता है लेकिन अभी कुछ और दिन टेस्ट करने बाद ही हम कुछ स्पष्ट रूप से कह पाएंगे लेकिन कंपनी द्वारा करती है की किये गये सभी टेस्ट में यह कैमरा सेटअप पास हुआ है।
  • फिंगरप्रिंट सेंसर को डिस्प्ले के नीचे जगह दी गयी है जबकि स्क्रीनके ऊपर आपको एम्बिएंट लाइट सेंसर मिलता है।
  • Vivo ने यहाँ पर डेडिकेटेड गूगल लेंस/ गूगल असिस्टेंट बटन भी दिया है जिसका मतलब है की आप जेस्चर मोड में भी आसानी से गूगल AI का इस्तेमाल कर सकते है।
  • Vivo ने यहाँ पर स्क्रीनकास्ट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया है जिसके माध्यम से पूरी स्क्रीन ही स्पीकर का भी काम करती है।
  • टाइप-C पोर्ट और मोनो स्पीकर डिवाइस के नीचे तथा ऑडियो जैक ऊपर किनारे पर दिया गया है।

Vivo Nex रिव्यु : डिस्प्ले

Vivo Nex में आपको एक काफी बड़ी AMOLED डिस्प्ले मिलती है। फोन में दी गयी इतनी सारी टेक्नोलॉजी और बड़ी बैटरी को बनाये रखने की लिए शायद यहाँ पर बड़ी स्क्रीन दी गयी है जो काफी आकर्षक है।

6.59-इंच की AMOLED स्क्रीन में आपको मिलता है गहरा काला रंग और ज्यादा कंट्रास्ट। यह एक काफी आकर्षक और प्रीमियम लुक वाली डिस्प्ले है जिसका कलर कैलिब्रेशन अन्य विवो डिवाइसों से बेहतर है।

ऐसा नहीं है की हम नौच-डिस्प्ले को नापसंद करते है लेकिन बिना नौच वाली फुल व्यू डिस्प्ले एक अलग ही आकर्षक एक्सपीरियंस प्रदान करती है।

नेविगेशन जेस्चर काफी अच्छे से काम करते है जो बड़ी स्क्रीन को और भी आकर्षक बनाते है। यहाँ सबसे अच्छी बात यह है की अगर आपको जेस्चर कंट्रोल्स पसंद है तब भी आप कण्ट्रोल सेण्टर से रिसेंट एप्लीकेशन और डेडिकेटेड बटन से गूगल अस्सिस्टेंट का इस्तेमाल कर सकते है।

  • Vivo द्वारा पेश किया गया बिना नौच का AMOLED डिस्प्ले गेमिंग और मल्टी-मीडिया कंटेट देखने के लिए काफी बेहतर साबित होता है।
  • डिस्प्ले के रंग काफी सजीव और आँखों के लिए अच्छे दिखाई देते है।
  • आप आउटडोर में भी डिस्प्ले पर काम कर सकते है लेकिन हम फुल-ब्राइटनेस का सुझाव जरुर देंगे.
  • फ़ोन के यूजर इंटरफ़ेस को काफी बेहतर तरीके से स्क्रीन के इस्तेमाल के लिए बनाया गया है। ‘ज़ूम-टू-फिल’ फीचर YouTube और अन्य एप्लीकेशनों पर अच्छे से काम करता है।
  • विवो ने यहाँ पर गोरिल्ला ग्लास 5 की प्रोटेक्शन की है।

Vivo Nex रिव्यु : प्रदर्शन, सॉफ्टवेयर और इन-डिस्प्ले सेंसर

Vivo Nex में आपको क्वालकॉम का सबसे नवीनतम स्नैपड्रैगन 845 चिपसेट दिया गया है। चिपसेट के साथ 8GB की शानदार रैम और 128GB की बड़ी स्टोरेज फोन के प्रदर्शन को हमेशा बेहतर बनाये रखती है।

डिवाइस का यूजर इंटरफ़ेस (एंड्राइड 8.1 आधारित) यहाँ पर काफी बेहतर प्रदर्शन देता है जो इसके फ्लैगशिप ग्रेड प्राइस को अनुकूल बनाती है। सॉफ्टवेयर में काफी अच्छे और कुछ नए फीचर भी दिए गये है लेकिन कुछ चीजों को देखने से आपको काफी हद तक iOS का एक्सपीरियंस लगता है। यह कोई हैरान करने वाली बात नहीं है आज के समय में लेकिन यह थोडा अजीब महसूस होता है।

यहाँ पर आपको UI के डिजाईन से जुडी किसी भी परेशानी को दूर करने के लिए अलग-अलग लांचर का इस्तेमाल किया जा सकता है। FunTouch OS का की-बोर्ड यहाँ पर काफी निराश करता है और अगर आप G-Board या किसी अन्य की-बोर्ड का इस्तेमाल करते है तब भी पासवर्ड या OTP जैसी जानकारी लिखने के लिए आपको सिक्यूरिटी की वजह से डिफ़ॉल्ट की-बोर्ड का इस्तेमाल ही करना पड़ेगा।

फोन में दिया गया इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर कपैसिटिव सेंसर की तुलना में थोडा धीमा है लेकिन यह की प्रेशानिकी बात नहीं है। मेरी निजी पसंद तो हमेशा से ही फ्रंट फिंगरप्रिंट सेंसर की ही रही है और इसी कारण मैं पीछे के फिंगरप्रिंट सेंसर की जगह आपको थोडा सा धीमा लेकिन फ्रंट इन-डिस्प्ले सेंसर का ही सुझाव दूंगा। Vivo ने कहा है की यहाँ पर आपको Vivo X21 से बेहतर फिंगरप्रिंट सेंसर दिया गया है।

डिवाइस में दिया गया इन-डिस्प्ले फोंगेर्प्रिंत सेंसर डिफाल्ट रूप से ‘Always On’ मोड पर रहता है लेकिन आप सेटिंग की मदद से इसको ऑफ करने के अलावा अनलॉक एनीमेशन में भी बदलाव कर सकते है। Vivo Nex में आपको फेस-अनलॉक की सुविधा नहीं दी गयी है।

  • डिवाइस में दिया स्नैपड्रैगन 845 काफी बेहतरीन प्रदर्शन करता है। किसी भी तरह की कोई परेशानी समने नहीं आती है।
  • Funtouch OS सॉफ्टवेयर में आपको काफी बेहतर और कुछ नए फीचर भी दिए गये है। जिसमे से कुछ आपको iOS की याद दिलाएंगे।
  • Vivo Nex का सॉफ्टवेयर आपको एप्लीकेशन लांचर में बदलाव करने की सुविधा भी देता है।
  • फोन में आपक ड्यूल-सिम ड्यूल-VoLTE की सुविधा दी गयी है जिसका साफ़ मतलब है आप एक बार में 2 4G सिम का इस्तेमाल कर सकते है।
  • यहाँ पर दी गयी डेडिकेटेड बटन द्वारा आप गूगल लेंस का तथा थोडा ज्यादा देर दबाये रखने से गूगल असिस्टेंट का इस्तेमाल कर सकते है जो काफ सुविधाजनक फीचर है। इसको आप सेटिंग से ऑफ भी कर सकते है।
  • इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर काफी अच्छे से काम करता है।
  • फिंगरप्रिंट सेंसर रीडर थोडा धीमा है लेकिन इस से कोई खास फर्क नहीं पड़ता है।

Vivo Nex रिव्यु : कैमरा प्रदर्शन

फोटोग्राफी की बात करे, तो Vivo Nex में आपको 12MP के प्राइमरी कैमरा सेंसर f/1.8 अपर्चर, ड्यूल PDAF, और 1.4-माइक्रोमीटर पिक्सेल की सुविधा के साथ-साथ 5MP का डेप्थ सेंसिंग कैमरा सेंसर भी दिया गया है। इसके अलावा यहाँ पर 4-एक्सिस OIS और ड्यूल-टोन LED फ़्लैश भी दी गयी है।

सेल्फी और विडियो कालिंग के लिए आपको यहाँ पर 8MP का f/2.0 अपर्चर लेंस वाला सेल्फी कैमरा मिलता है।

अब बात करते है कैमरा से ली गयी इमेज क्वालिटी की।

फोन में इस्तेमाल किया गया कैमरा हार्डवेयर विवो के X21 से ज्यादा अलग नहीं है लेकिंन कैमरा आउटपुट और इमेज क्वालिटी देखने के बाद कैमरा प्रदर्शन काफी अच्छा महसूस होता है। वैसे Vivo X21 वैसे तो फ्लैगशिप गुर्दे कैमरा प्रदर्शन नहीं देता है लेकिन साधारण इस्तेमाल करने वाले यूजर को निराशा नही होगी।

रियर साइड के कैमरा सेंसर यहाँ पर आपको बेहतर मीटरिंग के साथ-साथ इन-डोर या आउट-डोर इस्तेमाल पर इमेज में डिटेल्स भी बेहतर प्रदान करता है। बस कभी कभी कैमेर सॉफ्टवेयर थोडा ज्यादा AI इस्तेमाल करता है जो इमेज आउटपुट को नेचुरल आउटपुट से कम अच्छा बना  देता है।

पोर्ट्रेट मोड में, आउटडोर लाइट

क्लोज-अप शॉट

 

HDR Mode
इन-डोर सेल्फी

अगर आप इमेज को ज़ूम-इन करते है तो कभी कभी आपको नॉइज़ और थोडा ज्यादा शार्पनेस मिलती है। इसके अलावा जब आप AI आधारित सीन-डिटेक्शन का इस्तेमाल करते है तो कलर थोडा सा ज्यादा सैचुरेटेड दिखाई पड़ते है।

सेल्फी कैमरा क्वालिटी से हम काफी संतुष्ट है। हम इसको परफेक्ट तो नहीं कह सकते है लेकिन सोशल मीडिया अपलोड के लिए इमेज क्वालिटी सफी बेहतर है। और जब तक लाइटिंग की कोई दिक्कत नहीं होती है इमेज क्वालिटी काफी बेहतर बनी रहती है। Vivo ने यहाँ पर पोर्ट्रेट लाइटिंग की सुविधा भी दी है। यहाँ पर मोनोक्रोम लाइटिंग तो काफी आकर्षक इमेज शूट करती है बाकि विकल्प भी संतोषजनक परिणाम देने में सक्षम है।

  • रियर कैमरा क्वालिटी काफी बेहतर है। वैसे तो यह 2018 में पेश अन्य फ्लैगशिप फ़ोनों से थोडा पीछे की रहती है लेकिन आकर्षक कीमत को देखते हुए यह काफी बेहतर साबित होती है।
  • कैमरा एप्लीकेशन चलाने में काफी सिंपल है और इसके आपको गूगल लेंस बटन भी दिया गया है।
  • HDR मोड काफी अच्छा आउटपुट देता है लेकिन कभी कभी लगता है इसको थोडा और बेहतर होने की जरूरत है।
  • डिवाइस के सेल्फी कैमरा का प्रदर्शन भी काफी संतोषजनक है।
  • पोर्ट्रेट मोड में ली गयी इमेज थोडा सॉफ्ट प्राप्त होती है। ऐज-डिटेक्शन एवरेज है। Vivo ने यह पर iPhone X की तरह पोर्ट्रेट लाइटिंग की सुविधा भी दी है।
  • विडियो रिकॉर्डिंग क्वालिटी रियर कैमरा में तो काफी अच्छी है तथा यहाँ पर आप बिना किसी टाइम-लिमिट के स्लो-मोशन विडियो शूट कर सकते है।

Vivo Nex रिव्यु : स्क्रीन-कास्टिंग, ऑडियो और बैटरी

यहाँ पर इयरपीस की जगह स्क्रीनकास्टिंग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है। इसके माध्यम से Piezoelectric Crystal के वाईब्रेट होने से साउंड उत्पन्न होती है और यहाँ पर ऑडियो क्वालिटी Mi Mix 2 से काफी बेहतर प्राप्त होती है।

आप अपने फोन की स्क्रीन पर कही भी कान लगाकर यहाँ पर की फोन के बैक-पैनल के माध्यम से भी कॉल्स पर बाते है सकते है।

मोनो-लाउडस्पीकर नीचे किनारे पर दिए है जो काफी तेज़ है। हैडफ़ोन के माध्यम से कॉल क्वालिटी भी काफी बेहतर है।

4000mAh की बैटरी आराम से एक दिन का बैटरी बैकअप देती है. स्टैंड-बाय टाइम भी संतोषजनक है लेकिन ज्यादा उपयोग करने पर बैटरी बड़ी जल्दी कम होती है। फोन में आपको सामान्य इस्तेमाल पर 1 दिन का संतोषजनक बैटरी बैकअप मिल ही जाता है। साथ में दिया गया 22.5W चार्जर बैटरी को काफी तेज़ी से चार्ज करता है।

  • स्क्रीन कास्टिंग काफी अच्चे से काम करती है। आपको फोन कॉल सुनने में किसी भी तरह की परेशानी नहीं होती है। बल्कि आप फोन के बैक पैनल पर कान लगाकर भी बात करते है।
  • लाउड-स्पीकर भी काफी तेज़ है। ऑडियो क्वालिटी भी बेहतर है।
  • 4000mAh बैटरी एक दिन का बैटरी बैकअप प्रदान करती है और फ़ास्ट चार्जिंग के साथ काफी तेज़ी से चार्ज भी हो जाती है।

Vivo Nex रिव्यु : क्या यह है वैल्यू फॉर मनी डिवाइस?

Vivo Nex किसी भी फोन से सीधे मुकाबला नहीं करता है और साथ-ही-साथ यह उन फ़ोनों की तरह नहीं है जिनको तारीफ तो मिलती है लेकिन खरीदार नहीं। कंपनी द्वारा यहाँ पर आपको के फुल-बेज़ेल लेस्स डिस्प्ले के  एक्सपीरियंस के लिए बिना किसी भी तरफ का समझोता किये एक बहतरीन डिवाइस दी गयी है जो अपनको अपनी कीमत के हिसाब से बेहतर प्रदर्शन भी देती है।

भारत में यह डिवाइस सिर्फ 44,990 रुपए की कीमत में उपलब्ध है जिसके अलावा आपको यहाँ पर कुछ ऑफर जैसे कैशबैक, एक्सचेंज आदि भी दिए गये है जिस से फोन की अंतिम कीमत लगभग 40,990 रुपए हो जाती है। कीमत के हिसाब से यह OnePlus 6 का विकल्प बनता है जो काफी बेहतर मुकाबला साबित होगा।

अगर पॉप-अप कैमरा और बेज़ेल को ध्यान में रखे तो यहाँ पर सिर्फ Oppo Find X ही मुकाबले में दिखाई देता है। हमारे विचार से Vivo Nex यहाँ पर कीमत और फीचर के मामले में बेहतर साबित होता है।

वैसे तो यहाँ पर भी आपको कुछ चीजो की कमी महसूस होगी लेकिन यह डिवाइस अपने कांसेप्ट और बेज़ेल-लेस्स डिस्प्ले के वादे पर खरी उतरती है जो इसकी कीमत के हिसाब से काफी बेहतर है। यहाँ आपको एक काफी आकर्षक डिस्प्ले, प्रीमियम डिजाईन, दमदार हार्डवेयर, लम्बा बैटरी बैकअप, काफी नयी और अच्छी सुविधाये, और एक अच्छा कैमरा मिलता है।

आगे आप एक ऐसा फोन चाहते है जिसमे आपको कुछ नया देखने को मिले और प्रदर्शन भी बेहतरीन मिले तो Vivo Nex आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है।

खूबियाँ

  • डिस्प्ले क्वालिटी
  • बिना नौच वाले डिस्प्ले
  • पॉप-अप सेल्फी कैमरा
  • दमदार प्रदर्शन
  • अच्छा रियर कैमरा
  • बैटरी बैकअप

कमियाँ

  • थोडा भारी
  • सॉफ्टवेयर में सुधार की गुंजाइश

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here