स्मार्टफोन के लिए चिपसेट उसकी सबसे बड़ी खासियत होती है और क्वालकॉम ने फ्लैगशिप ग्रेड चिपसेट के साथ अपनी पकड बनाये रखी है जिसकी सबसे बड़ी वजह है स्नैपड्रैगन 845 का बेहतरीन प्रदर्शन। इसके इस्तेमाल के साथ डिवाइस में प्रदर्शन में सुधार के साथ तेज़ी भी देखने को मिलती है। समय के साथ बदलाव करते हुए क्वालकॉम ने अब 7nm प्रोसेस की तरफ अपना रुख किया है जिसके साथ नए ARM कोर को भी अपनाया है। अब कंपनी फ्लैगशिप ग्रेड चिपसेट SD 845 को जल्द ही SD 855 के साथ बदलने की पूरी तैयारी कर चुकी है। (Read in English)

तो यह नयी चिपसेट SD 845 की तुलना में कितनी बेहतर है? क्या इसके इस्तेमाल से डिवाइस के प्रदर्शन में और भी सुधार देखने को मिलेगा? चलिए इन्ही सवालो का जवाब ढूंढते है:

स्नैपड्रैगन 855 बनाम स्नैपड्रैगन 845: स्पेसिफिकेशन

मोबाइल प्लेटफार्म स्नैपड्रैगन 855 स्नैपड्रैगन 845
कोर 2.84GHz Kryo 485 गोल्ड कोर (Cortex A76- आधारित), 512KB L2 Cache2.4GHz 3x Kryo 485 गोल्ड कोर (Cortex A76-आधारित), 256KB L2 Cache each

1.8GHz 4x Kryo Silver कोर (Cortex A55-आधारित), 128KB L2 Cache each

2MB L3 Cache

2.8GHz Kryo 385 गोल्ड कोर(Cortex A76-आधारित), 256KB L2 Cache each

4 x Kryo 385 Silver कोर (Cortex A55-आधारित), 128KB L2 Cache each

2MB L3 Cache

प्रोसेस 7nm 10nm LPP
GPU Adreno 640 Adreno 630
रैम 4x 16-बिट CH @ 2133MHzLPDDR4x

3MB सिस्टम कैशे

4x 16-बिट CH @ 1866MHzLPDDR4x

3MB सिस्टम कैशे

मॉडेम स्नैपड्रैगन  X24 LTE स्नैपड्रैगन X20 LTE
ISP ड्यूल 14-बिट स्पेक्ट्रा 38048MP के एक सेंसर तक का सपोर्ट या 22MP के 2 सेंसर तक का सपोर्ट ड्यूल 14-बिट स्पेक्ट्रा 28032MP के एक सेंसर तक का सपोर्ट या 16MP के 2 सेंसर तक का सपोर्ट
DSP हेक्सागन 690 इंटीग्रेटेड टेन्सर एक्सेलरेटर यूनिट के साथ (या  NPU)वौइस असिस्टेंट AI मोडुल हेक्सागन 685
एनकोड / डिकोड 2160p60 10-बिट H.265HDR10, HDR10+, HLG

720p480

160p60 10-बिट H.265720p480

यह भी पढ़िए: स्मार्टफोन ट्रेंड 2019: कौन सी नयी टेक्नोलॉजी बनेंगी नया ट्रेंड?

स्नैपड्रैगन 855 बनाम स्नैपड्रैगन 845: प्रदर्शन

  • क्वालकॉम ने यहाँ पर SD 845 की तुलना में 45% बेहतर प्रदर्शन सुधार का दावा किया है।
  • क्वालकॉम ने यहाँ पर किसी भी अन्य फ्लैगशिप ग्रेड चिपसेट की तुलना में एप्लीकेशन लांच टाइम के भी कम होने का दावा किया है।

स्नैपड्रैगन 855 की सबसे बड़ी खासियत है इसका नया Cortex A76-आधारित कोर। यह कोर 7nm प्रोसेस के साथ मिलकर पेश किया गया है जिसके द्वारा SD 855 में साफ़ तौर पर बेहतर प्रदर्शन की देखा जा सकता है।

यहाँ पर एक और ध्यान देने वाली बात है वो है कोर की व्यवस्था। अन्य कंपनियों की ही तरह क्वालकॉम ने भी अप ट्राई-क्लस्टर कॉन्फ़िगरेशन का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। यहाँ पर आपको 4-Kryo गोल्ड तथा 4-Kyro स्लिवर कोर देखने को मिलते है लेकिन अब इनको अलग-तरह से व्यवस्थित किया गया है।

शीर्ष प्रदर्शन वाली Kryo 485 गोल्ड ‘प्राइम’ कोर यहाँ पर 2.84GHz की क्लॉक स्पीड और यह 512KB L2 कैश के साथ दी है यह साफ़ तौर पर प्रदर्शन को और भी बेहतर बनाने के लिए किया गया है।

इसी क्रम में प्राइम कोर भी 2 अन्य कोरों के जितनी ही वोल्टेज इस्तेमाल करती है तो यह देखना आकर्षक होगा की ज्यादा इस्तेमाल पर SD 855 की पॉवर-एफिशिएंसी कैसी बनी रहती है। उम्मीद से अलग यहाँ पर क्वालकॉम ने L3 कैश का साइज़ नहीं बढाया है अगर तुलना करे तो Kirin 980 में आपको 4MB L3 कैश मिलता है।

स्नैपड्रैगन 855 बनाम स्नैपड्रैगन 845: ग्राफ़िक्स

  • नये Adreno 640 GPU में आपको Adreno 630 की तुलना में यहाँ पर 20% तेज़ प्रोसेस देखने को मिलती है।
  • Adreno 640 में आपको ट्रू-HDR गेमिंग के सपोर्ट के साथ फिजिकली रेंडरिंग पर आधारित गेम का भी सपोर्ट दिया गया है।

क्वालकॉम ने नयी चिपसेट SD 855 के ग्राफ़िक्स में भी थोडा बढ़ोतरी की है जिसका मुख्या कारण 7nm प्रोसेस का इस्तेमाल करना। क्वालकॉम ने यहाँ पर दावा किया है की आप हाई-एंड गेम्स को कम बैटरी की खपत के साथ खेल सकते है।

स्नैपड्रैगन 845 से अलग नये SD 855 में आपको HDR10+ और डॉल्बी विज़न फॉर्मेट का भी सपोर्ट दिया गया है। SD 855 में आपको 120fps गेमिंग और 8K-360 डिग्री विडियो का भी सपोर्ट मिलता है।

स्नैपड्रैगन 855 बनाम स्नैपड्रैगन 845: ISP और NPU

  • स्नैपड्रैगन 855 पहली क्वालकॉम चिपसेट है जिसमे डेडिकेटेड AI इंजन दिया गया है।
  • AI असिस्टेंट्स की प्रोसेसिंग में सुधार के लिए यहाँ नया वौइस असिस्टेंट मोडुल भी दिया गया है।
  • Spectra 380 के द्वारा आपको यहाँ पर पहले से बेहतर और कुछ नए फीचर जैसे पोर्ट्रेट मोड में HDR या 4K विडियो रिकॉर्डिंग का सपोर्ट भी दिया गया है।

Hexagon 690 DSP की वजह से SD 855 में आपको ‘Tensor Xccelerator’ भी मिलता है जो एक डेडिकेटेड मशीन लर्निंग इन्फेरेंसिंग इंजन की तरह काम करता है। Tensor यूनिट AI टास्क प्रोसेस के लिए अलग से काम करने में सक्षम है जो इसको क्वालकॉम द्वारा पेश की गयी पहली डेडिकेटेड NPU वाली चिपसेट बनाता है।

नए Spectra 380 ISP को इमेज प्रोसेसिंग में कम पॉवर खपत के लिए नए सिरे से डिजाईन किया गया है। क्वालकॉम ने दावा किया है की SD 845 की तुलना में यहाँ 4K HDR विडियो रिकॉर्डिंग में 30% कम पॉवर की खपत होगी। स्नैपड्रैगन 855 में फ़ोनों में आपको 4K HDR विडियो लाइव बोकेह मोड को भी सपोर्ट करती है। इसके अलावा यहाँ पर हाई एफिशिएंसी इमेज फाइल और HEIF फॉर्मेट का सपोर्ट भी मिलता है।

स्नैपड्रैगन 855 बनाम स्नैपड्रैगन 845: कनेक्टिविटी

  • स्नैपड्रैगन 855 में बाहरी X50 मॉडेम की सहायता से 5G कनेक्टिविटी सपोर्ट भी दिया गया है। स्नैपड्रैगन 855 फ़ोन आपको बिना 5G कनेक्टिविटी के भी उपलब्ध होंगे।
  • यह दुनिया का पहला Wi-Fi6 11ax रेडी मोबाइल सलूशन है।

कनेक्टिविटी की बात करे तो स्नैपड्रैगन 855 में आपको काफी बड़ा बदलाव देखने को मिलता है। SD 855 फोन में अनुकूलित नेटवर्क पर आपको X24 LTE मॉडेम की की सहायता से 2Gbps की डाउनलोड स्पीड तक का सपोर्ट मिलता है।

और अगर हम स्नैपड्रैगन X50 मॉडेम का इस्तेमाल करे तो स्नैपड्रैगन 855 आपको 5G कनेक्टिविटी का सपोर्ट भी देता है। स्नैपड्रैगन 855 के साथ डिवाइस आपको बिना 5G कनेक्टिविटी के भी उपलब्ध हो सकती है।

चिपसेट में आपको Wi-Fi 6 स्टैण्डर्ड के साथ नए 60GHz “Wi-Gig” 802.11ay का भी सपोर्ट मिलता है।

यह भी पढ़िए: नवीनतम गोरिल्ला ग्लास 6 के साथ पेश किये गये कुछ बेहतरीन स्मार्टफोन

स्नैपड्रैगन 855 बनाम स्नैपड्रैगन 845: नयी चिपसेट में क्या है बेहतर?

अभी जैसा आप ऊपर पढ़ चुके है यह नयी चिपसेट आपको SD 845 की तुलना में कुछ पहले से बेहतर और कुछ एक दम नए फीचर के साथ पेश की गयी है। इतने सारे सुधारों में से काफी की वजह है नया Cortex A76 कोर और नया 7nm प्रोसेस जो काफी एफ्फिसिएंट है।

यह चिपसेट कितनी बेहतर है? कितनी पॉवर एफ्फिसिएंट है? स्नैपड्रैगन 845 की तुलना में यह कितनी बेहतर साबित होती है यह जानने में अभी भी थोडा समय लगेगा और सबसे जरूरी चीज यह सैमसंग के Exynos 9820 या Huawei की Kirin 980 से कितना बेहतर है? हार्डवेयर के अलावा क्वालकॉम का सॉफ्टवेयर ट्यून परफॉरमेंस इसको निश्चित रूप से SD 845 से बेहतर साबित करने में सक्षम रहेगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here