फ्रॉड कॉल या मैसेज की शिकायत के लिए Chakshu Portal पर इस तरह करें शिकायत दर्ज

Main Image
  • Like
  • Comment
  • Share

चक्षु पोर्टल (Chakshu Portal) सरकार की एक नयी पहल है, जिससे हम और आप फ्रॉड कॉल या मैसेज की शिकायत दर्ज कर सकते हैं। इसे आईटी मंत्री अश्विन वैष्णव ने हाल ही में मार्च 2024 में लॉन्च किया। सरकार का मानना है कि इस डिजिटल इंटेलिजेंस प्लेटफ़ॉर्म से साइबर धोखाधड़ी को पहचानने और तेज़ी से रोकने में काफी हद तक मदद मिल सकती है।

ये पढ़ें: क्या है *401# कॉल फॉरवार्डिंग स्कैम – किस तरह भारतीय हो रहे हैं इसके शिकार

क्या है चक्षु पोर्टल ?

चक्षु पोर्टल सरकार के दूरसंचार विभाग द्वारा लॉन्च किया गया फीचर है, जो संचार साथी वेबसाइट पर उपलब्ध है। इसका काम डिजिटल संपत्तियों की सुरक्षा और धोखाधड़ी से लड़ने के लिए किया जाएगा। इस पोर्टल के माध्यम से कोई भी साधारण व्यक्ति टेलीकॉम सेवाओं से जुड़ी संदिग्ध धोखाधड़ी गतिविधियों जैसे फेक कस्टमर हेल्पलाइन, बैंकों, शिक्षा संस्थानों, गैस कनेक्शन, कोई सरकारी संस्था या टेलीकॉम ऑपरेटरों के नाम पर आने वाले नकली या फ्रॉड मैसेज या कॉल को रिपोर्ट कर सकते हैं। साथ ही डिजिटल इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म के साथ इन संदिग्ध स्पैम कॉल, मैसेज, या WhatsApp मैसेज को कानूनी प्रशासनिक एजेंसियों, बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों के साथ तुरंत सूचना शेयर करने डिजिटल धोखाधड़ी को काफी बड़े पैमाने पर रोकने में मदद मिल सकती है।

इस पर आईटी मंत्री ने कहा है कि इस पोर्टल को भविष्य में मोबाइल ऐप के रूप में भी उपलब्ध कराया जाएगा। Chakshu Portal और संचार साथी मिलकर मोबाइल आधारित धोखाधड़ियों के खिलाफ पूरे देश में काफी मदद कर सकते हैं। इसके अलावा डिजिटल इंटेलिजेंस प्लेटफ़ॉर्म और चक्षु के साथ, हम साइबर धोखाधड़ियों को रोकने में तेज़ी भी ला सकते हैं।

आइये जानते हैं कि हम कैसे स्पैम कॉल या फ्रॉड मैसेज को चक्षु पोर्टल पर रिपोर्ट कर सकते हैं।  

ये पढ़ें: भारत में साइबर क्राइम की शिकायत कैसे दर्ज कराएं

चक्षु पोर्टल पर फ्रॉड कॉल या मैसेज कैसे रिपोर्ट करें ? – How to Report Fraud Call or Message on Chakshu Portal?

  • सबसे पहले आप sancharsaathi.gov.in वेबसाइट पर जाएँ।
  • यहां Citizen Centric Services सेक्शन पर क्लिक करें।
  • इसमें Report Suspected Fraud Communication – CHAKSHU के विकल्प को ढूंढें।
  • अब सामने आये पेज में Chakshu के बारे में जानकारी होगी, इसके नीचे Continue for reporting के बटन को दबाएं।
  • जो पेज सामने खुलेगा, उसमें नीचे continue for reporting की बटन दबाएं।
  • इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म आएगा, जिसमें सबसे पहले आपको केटेगरी चुननी है कि फ्रॉड का माध्यम कॉल, SMS या WhatsApp है।
Chakshu Portal
  • इसके बाद आपको मोबाइल नंबर (जिससे वो फ्रॉड कॉल या मैसेज आया है), फ्रॉड केटेगरी, उसकी तारीख़ और टाइम, इत्यादि डिटेल भरनी भरनी होगी।
  • इसके बाद आपका नाम, नंबर इत्यादि जानकारी मांगी जायेगी और अंत में OTP के साथ इसे कन्फर्म करें।
  • अब अपनी शिकायत Submit कर दें।  

आपको कोई भी संदिग्ध कॉल आये तो आप CHAKSHU का पेज खुलने के बाद उसमें सबसे पहले Medium of Suspected Fraud Communication में कॉल चुनें। यदि कोई मैसेज ऐसा है, जिस पर शक है या उसमें किसी लिंक पर करने को कहा जा रहा है, जो सही नहीं लग रहा, तो आप मीडियम में मैसेज चुन सकते हैं या WhatsApp से किसी तरह का कोई मैसेज फेक मैसेज आता है, तो यहां WhatsApp चुन सकते हैं। इसके आगे की प्रक्रिया एक जैसी ही है।

साथ ही ये भी ध्यान रखें कि यहां आप इस तरह के कॉल या मैसेज की रिपोर्ट कर सकते हैं, लेकिन अगर आपने कॉल सुनकर कोई जानकारी उस व्यक्ति को दे दी जैसे एटीएम पिन, ओटीपी, इत्यादि और आपके अकाउंट से पैसे चले गए या मैसेज में आपने किसी अंजान लिंक पर क्लिक दिया और कोई नुकसान हो गया, तो चक्षु पोर्टल आपकी मदद नहीं कर सकता है। इसके लिए आपको cybercrime की वेबसाइट पर शिकायत देनी होगी। हालांकि चक्षु पोर्टल पर आप किसी भी ऐसे कॉल या मैसेज को रिपोर्ट करेंगे, जिन पर शक है, तो भविष्य में इन डिजिटल चोरियों या नुकसानों को बहुत कम किया जा सकता है।

Chakshu Portal पर किन मामलों को रिपोर्ट कर सकते हैं –

  • बैंक की KYC से सम्बंधित, बिजली-पानी-गैस के बिल, बीमा पालिसी से सम्बंधित मैसेज या कॉल, जो फेक या नकली लगते हों।
  • सरकारी व्यक्ति या संस्था से सम्बंधित मैसेज
  • फेक कस्टमर केयर हेल्पलाइन
  • ऑनलाइन जॉब, गिफ्ट, लाटरी या लोन से सम्बंधित कॉल या मैसेज
  • ऑटोमेटेड कॉल
  • मैसेज जिनमें कोई अनजान या संदिग्ध वेबसाइट लिंक हो

अधिक जानकारी के लिए आप Smartprix को TwitterFacebookInstagram, और Google News पर फॉलो कर सकते हैं। मोबाइल फोन, टेक, गाइड या अन्य खबरों के लिए आप Smartprix पर भी विज़िट कर सकते हैं।

Pooja ChaudharyPooja Chaudhary
Pooja has been covering technology and gadgets for more than 5 years. Most of her work has been centred around smartphones and smartphone apps, but she occasionally likes to dabble with content on people and relationships. She is also a bit of a TV junkie and is often trying to make time to catch up with her favourite shows and classic movies.

Related Articles

Image25,000 के बजट में Infinix लेकर आया नया गेमिंग फ़ोन – Infinix GT 20 Pro

Infinix GT 20 Pro आज भारत में लॉन्च हुआ है। ये फ़ोन कंपनी का दूसरा गेमिंग फ़ोन है और Infinix GT 10 Pro का सक्सेसर है। फ़ोन में Dimensity 8200 Ultimate चिप और एक डेडिकेटेड गेमिंग डिस्प्ले चिप है। साथ ही AMOLED 144Hz डिस्प्ले, 108MP का कैमरा और बाईपास चार्जिंग जैसे फ़ीचर भी हैं। भारत में …

Imageसिम कार्ड फ्रॉड से ये व्यक्ति चुरा गया 18.74 लाख रुपए? जानें कैसे किया इसने ये खेल

डिजिटल इंडिया जिस रफ़्तार से आगे बढ़ रहा है, उसी रफ़्तार से स्कैम और धोखाधड़ी भी। इसी तरह की घटनाओं में एक और नयी घटना आज जुड़ी है, जिसमें सिम कार्ड फ्रॉड करके एक नवी मुंबई के व्यक्ति ने बैंक अकाउंट हैक करके 18.74 लाख रुपए चुरा लिए। नवी मुंबई पुलिस ने खुद ये वारदात …

Imageआपके फोनों की सुरक्षा के लिए सरकार लायी नया हथियार, अब कम हो जायेगा फ़ोन चोरी होने का डर

भारत में जनता के स्मार्टफोनों की सुरक्षा के लिए दूरसंचार विभाग (DoT) ने आज एक पोर्टल लॉन्च किया है, जिसका नाम संचार साथी (Sanchar Saathi) है। ये खोये हुए या चोरी हुए मोबाइल फोनों के मामले में एक महत्वपूर्ण कदम है, जिससे उपयोगकर्ता को काफी राहत मिलेगी। संचार साथी नामक इस नागरिक-केंद्रित पोर्टल द्वारा स्मार्टफोनों …

Imageव्यस्त होने पर Jio, Airtel, Vi, और BSNL यूज़र्स इस तरह किसी और नंबर करें कॉल फॉरवर्ड

हमारा नंबर बंद पड़ जाने, या नेटवर्क ना मिलने या हमारे व्यस्त होने पर कोई कॉल मिस ना हो, उसके लिए सबसे आसान उपाय है कॉल फॉरवार्डिंग। भारत में सभी प्रचलित टेलीकॉम ऑपरेटर Jio, Airtel, Vi, और BSNL इसकी सुविधा देते हैं। इन सभी में से किसी की भी सिम आपके पास है, तो आप …

Imageन कोई कॉल हिस्ट्री, न सिम की ज़रुरत – कैसे करें प्राइवेट कॉल

सिम कार्ड द्वारा कॉल करने पर, हमारे फ़ोन में उसकी हिस्ट्री और टेलीकॉम ऑपरेटर द्वारा उस कॉल लॉग के रिकॉर्ड रहते हैं और ऐसे में कई बार फ़ोन पर कोई डिटेल देते समय प्राइवेसी या डाटा लीक होने का डर होता है। हालांकि ऐसे में लोग WhatsApp कॉल की मदद लेते हैं, लेकिन WhatsApp द्वारा …

Discuss

Be the first to leave a comment.

Related Products