पिछले साल लांच किये गये एंड्राइड ओरियो के कुछ दिनों के बाद से ही अगले एंड्राइड वर्जन के बारे में चर्चा शुरू हो गयी है। पहले फोन का नाम से जुडी जानकारी आई की नए वर्जन का नाम होगा P से शूरू। अभी हाल ही में हुए Google की i/o डेवलपर कांफ्रेंस में कंपनी ने नए ऑपरेटिंग सिस्टम के फीचर के बारे में बताया था और उसके बाद काफी लोगो ने इसके पब्लिक बीटा वर्जन को इस्तेमाल भी करना शुरू कर दिया।

आज प्राप्त जानकारी के अनुसार Google अपने नए एंड्राइड वर्जन ‘Android Pie’ को 20 अगस्त को लांच कर सकता है। लोकप्रिय लीक्स्टर Evan Blass ने यह जानकारी अपने ट्वीटर अकाउंट पर शेयर की और यह भी दावा किया की Andorid P पिक्सेल और Nexus डिवाइसों में 20 अगस्त से उपलब्ध हो जायेगा।

तो हम आज लेकर आये है आपके लिए एंड्राइड P से जुडी कुछ जानकारी ताकि आपको मालूम हो की डिवाइस को अपग्रेड करने पर कौन से नए फीचर मिलेंगे:

Android P में उपलब्ध नए फीचर (आपेक्षित)

1. Notch Support

आप माने या ना माने सभी स्मार्टफोन मेकर आज के समय में नौच को लेकर काफी उत्साहित है और लांच होने वाली अधिकतर सभी डिवाइसों में आपको नौच देखने को मिलता है। इसी ट्रेंड को देखते हुए Google ने अपने नए एंड्राइड वर्जन में डिस्प्ले पर नौच को अनुकूल बनाने का काम किया है।

जी हाँ एंड्राइड P में आपको एज-टू-एज स्क्रीन सपोर्ट के साथ नौच डिस्प्ले से सम्बंधित फीचर भी देगा जिसकी सहायता से आप नौच को के आकार में बदलाव कर सकते है।

2. Gesture Navigation

Google अपने नए एंड्राइड OS में iPhone X की ही तरह जेस्चर नेविगेशन की सुविधा देने वाला है। डिवाइस में आपको 3 बटन की जगह सिर्फ एक होम बटन दिया जायेगा। जिसमे आपको होम बटन के माध्यम से ही सिर्फ ऊपर की तरह स्वाइप करके एप्लीकेशन ड्रावर मिलेगा जबकि थोडा सा लेफ्ट या राईट में ज्यादा लम्बा स्वाइप करने पर रीसेंट एप्लीकेशन देखने को मिलेंगी।

3. Dash Board

YouTube जैसे विडियो स्ट्रीमिंग साईट पर आज के समय में यूजर विडियो देखते हुए पता नहीं कितना समय बिता देते है। फोन में बेहतर हार्डवेयर के इस्तेमाल से गेमिंग एक्सपीरियंस भी काफी बेहतर हो गये है जो आपको गेम से दूर जाने ही नहीं देते। इसलिए गूगल ने अपने नए एंड्राइड P में आपके लिए अपने फोन के इस्तेमाल को कण्ट्रोल करने की भी सुविधा दी है।

Dashboard फीचर के माध्यम से आप अपने फोन में यह देख सकते की आप किस एप्लीकेशन पर कितना समय बिता रहे है। यहाँ पर आपको कुछ अलग-अलग जानकारी प्राप्त होगी जिसमे नोटिफिकेशन की कुल संख्या, फोन में इस्तेमाल एप्लीकेशन की संख्या आदि प्राप्त होती है।

4. Adaptive Battery

आज के समय में यूजर एक्सपीरियंस को बढ़ाने के लिए AI आधारित फीचरों का काफी इस्तेमाल किया जा रहा है और गूगल ने इस दिशा में काम करते हुए अपने नए एंड्राइड P सॉफ्टवेयर में Adaptive Battery फीचर को पेश किया है। कंपनी के अनुसार DeepMind के साथ पार्टनरशिप के तहत बेस्ट बैटरी परफॉरमेंस के लिए डाटा प्राप्त किया है।

डाटा का इस्तेमाल करके यहाँ पर बैटरी सेविंग एक्सपीरियंस को और बेहतर बनाया गया है। अब एंड्राइड P में किसी भी बैकग्राउंड एप्लीकेशन को बिना देर किये स्टैंड-बाय मोड पर शिफ्ट कर दिया जायेगा जिससे वो एप्लीकेशन ना तो नेटवर्क एक्सेस कर पायेगी और ना ही बैटरी की खपत करेगी।

5. Do Not Disturb

जब भी आप किसी जरुरी काम में बिजी होते है तो आप अपनी डिवाइस को साइलेंट मोड में सेट कर देते है लेकिन कोई नोटिफिकेशन प्राप्त होने पर आपके फोन की स्क्रीन ऑन हो जाती है और आप फोन को इस्तेमाल करने लग जाते है।

इसलिए एंड्राइड P में गूगल ने ‘Do Not Disturb’ फीचर को पेश किया है जिसके तहत किसी भी तरह की नोटिफिकेशन प्राप्त होने पर भी आपकी डिवाइस की स्क्रीन ऑन नहीं होगी। इसके अलावा ‘Slush’  के द्वारा आप अपनी डिवाइस द्वारा इस फीचर का इस्तेमाल कर सकते है।

6. HDR VP9 Video, Media APIs

लगभग सभी डिवाइसें JPEG फॉर्मेट वाली इमेज फाइलों को सपोर्ट मिलता है। लेकिन इस से थोडा और बेहतर Hight Efficiency Image File Format(HEIF) का सपोर्ट अभी नहीं मिल पता है लेकिन गूगल अपने इस नए एंड्राइड P सॉफ्टवेयर में आपको इसका भी सपोर्ट दिया गया है। जिसके तहत आप कम साइज़ में भी ज्यादा इमेज क्वालिटी प्राप्त कर सकते है।

यहाँ पर आपको HDR VP9 का सपोर्ट भी दिया गया है। इस सपोर्ट के साथ अब आप अपनी डिवाइस पर HDR के साथ विडियो भी शूट कर सकते है जो आपकी डिवाइस पर आराम से देखि जा सकेंगी।

7. Smart Reply Everywhere

गूगल ने हाल ही में अपने Gmail में भी आपको प्रेडिक्शन टेक्स्ट का फीचर दिया था जिसके तहत आप आगे क्या लिखने वाले है यह जीमेल खुद दिखा देता था। लेकिन स्मार्टफोन में यह फीचर आपको थर्ड पार्टी एप्लीकेशन के माध्यम से ही प्राप्त हो पता था. इसलिए नए एंड्राइड P सॉफ्टवेयर में कंपनी ने आपको स्मार्ट रिप्लाई की सुविधा दी है।

 

इस फीचर के तहत आप नोटिफिकेशन बार से ही मेसेजिंग एप्लीकेशनों पर भी एंड्राइड द्वारा दिखाए गये सुझाव भेज सकते है। हम जानते है की यह फीचर हर बार काम नहीं कर पायेगा लेकिन कुछ छोटी बातो या जल्दी रिप्लाई करने की स्थिति में काफी उपयोगी साबित हो सकता है।

8. A Rotation Button

रात के समय लेटकर फोन चलाने में सबसे बड़ी समस्या होती है फोन के स्क्रीन रोटेशन की। कुछ चीज़े आप होरिजेंटल डायरेक्शन में इस्तेमाल करते है और कुछ लैंडस्केप मोड में लेकिन बार-बार स्क्रीन रोटेशन ऑन/ऑफ करना काफी परेशानी वाला होता है इसलिए गूगल यहाँ पर ऑटो-रोटेशन बटन फीचर पेश किया है।

ऑटो-रोटेशन बटन फीचर के तहत अब आप जब भी स्क्रीन को लैंडस्केप मोड में इस्तेमाल करना होगा तो आपको स्क्रीन पर एक बटन आएगा जिसपर क्लिक करके आप अपनी स्क्रीन को रोटेट कर सकते है या रोटेट होने से रोक सकते है।

9. App Timer

कभी-कभी मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हुए आप यह ध्यान नहीं देते है की आप किसी आप किस एप्लीकेशन पर कितना समय बिता रहे है लेकिन गूगल के नए एंड्राइड P सॉफ्टवेयर में आपको किसी भी एप्लीकेशन के लिए समय सीमा निर्धारित करने की सुविधा मिलती है।

जी हाँ, एंड्राइड P में आपको किसी भी एप्लीकेशन के लिए निर्धारित किये गये समय से ज्यादा चलाने पर आपकी स्क्रीन पर नोटिफिकेशन दिखाई देगा जो बतायेगा की आप टाइम लिमिट तक पहुँच गये है और एप्लीकेशन रुक जाएगी।

10. एक से अधिक ब्लूटूथ डिवाइस का इस्तेमाल

Android P, में आप एक साथ 2 ब्लूटूथ डिवाइसों का इस्तेमाल कर सकेंगे। यह पिछले साल लांच किये गये Moto X के समान ही है. जी हाँ नए एंड्राइड वर्जन में आप एक साथ 2 डिवाइस इस्तेमाल कर पाएंगे। लेकिन यहाँ पर ध्यान रखने वाली बात यही है की आप इसका इस्तेमाल संगीत के लिए नहीं कर सकते है।

11. Zoom in Text

फोन में कभी-कभी आपको कुछ जरुरी टेक्स्ट को सेलेक्ट करना होता है लेकिन आप उसको सेलेक्ट करने में काफी दिक्कतों का सामना करते है। इसी परेशानी को दूर करने के लिए गूगल ने यहाँ पर एंड्राइड P में ज़ूम लेंस का सपोर्ट दिया है।

यह पर आप किसी भी लाइन पर जाकर थोड़ी देर तक टैप करके रखना होगा जिसके तुरंत बाद आपको एक पॉइंटर ज़ूम होकर दिखाई देने लगेगा जिसके मदद से आप छोटे टेक्स्ट को आसानी से पढ़ सकते है और टेक्स्ट को आसानी से सलेक्ट भी आकर सकते है।

12. Screenshot Button

स्क्रीनशॉट लेना आज के स्मार्टफोनों में एक आम बात है लेकिन पॉवर-बटन और वॉल्यूम बटन तो एक साथ दबाकर स्क्रीनशॉट लेना थोडा सा परेशानी वाला काम है। अगर आपको डिवाइस में जेस्चर कंट्रोल नहीं है तो यह आपके लिए के आम समस्या है। इसलिए गूगल ने यहाँ पर आपको पॉवर मेनू में स्क्रीनशॉट विकल्प को पेश किया है ताकि आप आराम से विकल्प का चयन करके स्क्रीनशॉट ले सके।

इसके अलावा आपको यहाँ पर स्क्रीनशॉट को नोटिफिकेशन बार के माध्यम से ही एडिट करने के लिए विकल्प देकर आपके काम को और आसान बनाया गया है।

13. कॉल रिकॉर्डिंग टोन

कॉल रिकॉर्डिंग फीचर काफी समय से स्मार्टफोनों में उपलब्ध है। जिसके बाद अब आटोमेटिक कॉल एकोर्डिंग का विकल्प भी मिलने लगा है। लेकिन एंड्राइड P के साथ यहाँ पर आपको आटोमेटिक कॉल रिकॉर्डिंग के अलावा एक अलर्ट टोन भी प्राप्त होगी जो आपके हर 15 सेकंड पर एक हल्की सी टोन सुनाई देगी जिसके माध्यम से आप जान सकेंगे की कॉल रिकॉर्डिंग हो रही है।

14. Lock-Down मोड

स्मार्टफोन को सुरक्षित बनाने के लिए काफी समय से अलग-अलग टेक्नोलॉजी का प्रयोग किया जा रहा है जैसे फिंगरप्रिंट सेंसर, उसके बाद फेस ID/ फेस रिकग्निशन आदि। लेकिन यहाँ पर कोई बिना आपको पता लगे आपके फिंगरप्रिंट की सहायता से आपकी डिवाइस को अनलॉक कर सकता है।

लेकिन गूगल ने यहाँ पर लॉकडाउन मोड पेश करके यह परेशानी भी दूर कर दी है। यहाँ पर डिवाइस के पॉवर बटन को दबाये रखने प्राप्त पॉवर मेनू से लॉक-डाउन मोड को सेलेक्ट करने पर आपको फोन के फिंगरप्रिंट सेंसर फीचर को बन्द कर देगा और अब आपकी डिवाइस सिर्फ पिन या पैटर्न पासवर्ड की सहायता से ही अनलॉक की जा सकती है।

 

 

15. स्मार्ट नोटिफिकेशन सिलेक्शन

कभी-कभी आपकी डिवाइस में कुछ एप्लीकेशन ऐसी होती है जो काम काफी कम इस्तेमाल करते है लेकिन ये हमेशा नोटिफिकेशन देती रहेगी है। जो आपको काफी परेशान करते है। इसी को देखते हुए एंड्राइड P में आपको नोटिफिकेशन ब्लाक करने का विकल्प भी दिया गया है।

इस फीचर की मदद से आप नोटिफिकेशन बार को नीचे की तरफ स्वाइप करके जिस नोटिफिकेशन को आप दोबारा देखना नहीं चाहते उसके ऊपर दायें किनारे पर दिए रेड कलर के बटन को दबा कर उसको ब्लाक कर सकते है।

16. मीडिया वॉल्यूम पैनल

लगभग सभी स्मार्टफ़ोनों में आपको वॉल्यूम बटन क्लिक करने पर मीडिया वॉल्यूम की जगह सिर्फ नार्मल रिंग वॉल्यूम कम ज्यादा करने की सुविधा मिलती है जब तक आप मीडिया कंटेंट नहीं चलाते। यह चीज़ कभी-कभी काफी परेशानी भी कड़ी कर देती है।

इसलिए एंड्राइड P में गूगल ने आपकी इस परेशानी को दूर कर दिया है। यहाँ पर अब ऊपर की जगह किनारों पर मीडिया वॉल्यूम और रिंग वॉल्यूम को कम या ज्यादा करने की सुविधा मिलेगी। जिसकी ख़ास बात है की वॉल्यूम बटन को दबाने पर अब मीडिया वॉल्यूम कम होगी और कोई अन्य डिवाइस कनेक्ट होने पर उनके लिए अलग से वॉल्यूम स्लाइडर दिखायेगा।

17. नए Emojis

काफी समय से अगर आप Emoji का काफी इस्तेमाल करते है लेकिन अब इनको इस्तेमाल करके थोडा बोर हो रहे है तो आपके लिए यह काफी आकर्षक होने वाला है क्योकि गूगल ने एंड्राइड P के साथ 157 नए emoji पेश किये है।

यहाँ पर आपको पुराने emojis के साथ कुछ एक दम नए और कुछ नए तरीके वाले पुराने emojis देखने को मिलेंगे। इसमें कोल्ड फेस, हॉट फेस, जैसे एक दम नए एमोजिस पैक भी शामिल है।

18. Adaptive Brightness

गूगल हमेशा से स्मार्टफ़ोनों को और अधिक स्मार्ट बनाने के लिए काम करता रहता है ताकि फोन अपने आप आपकी जरूरत के मुताबिक खुद से बदलाव कर सके। इसी क्रम में यहाँ पर आपको Adaptive Brightness का विकल्प दिया गया है।

Adaptive Brightness के द्वारा आपकी डिवाइस आपके आस-पास की रोशनी के हिसाब से ही नहीं बल्कि आप किस एप्लीकेशन का इस्तेमाल कर रहे है इसके हिसाब से स्क्रीन की ब्राइटनेस को कम/ज्यादा कर सकती है।

19. Wi-Fi RTT के साथ इनडोर नेविगेशन

आज के समय में काफी लोग GPS का इस्तेमाल करते है चाहे वो अपने लिए हो या किस और के लिए। लेकिन अभी तक आप सिर्फ सडको तक ही सीमित रह जाते है जहा पर आपको बिल्डिंग का नाम दिखाई देता है।

लेकिन एंड्राइड P में आपको IEEE 802.11mc WiFi प्रोटोकॉल सपोर्ट दिया गया है। जिसको आम भाषा में Wi-Fi Round-Trip-Time(RTT) कहा जाता है। इस नए फीचर सपोर्ट की मदद से आप अब अपने GPS की सहायता से की बिडिंग के अंदर भी नेविगेशन प्राप्त कर सकते है जैसे कहाँ मुड़ना है और कहाँ सीढ़ियाँ है?

20. Dark Theme

पहले गूगल आपको वॉलपेपर के हिसाब से फोन की थीम टोन का निर्धारण करता था लेकिन एंड्राइड P के साथ यहाँ पर गूगल ने आपको निजी पसंद से थीम चुनने का का विकल्प दिया है।

डिस्प्ले की एडवांस्ड सेटिंग्स के तहत आपको डार्क और लाइट थीम में से एक को चुनने की सुविधा दी गयी है। लेकिन यहाँ पर यह थीम सिर्फ एप्प ड्रावर और नोटिफिकेशन बार सेक्शन तक ही सीमित रहेगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here