GainBitcoin – भारत का सबसे बड़ा बिटकॉइन स्कैम, जिसमें पैसे लगाने वालों को कुल मिलाकर मिला 1 लाख करोड़ तक धोखा

Main Image
  • Like
  • Comment
  • Share

GainBitcoin की शुरुआत 2015 में हुई थी और इसका मास्टरमंद अमित भारद्वाज था। हालांकि इस स्कैम खबर पहले आ चुकी है, लेकिन अब ये और बड़ा रूप ले रहा है। हाल ही सामने आयी रिपोर्ट से पता चला है कि इस बिटकॉइन मार्केटिंग स्कीम में लगभग 1 लाख लोगों ने पैसे लगाए, जिन्हें कुल मिलाकर 1 ट्रिलियन, यानि लगभग 1 लाख करोड़ तक नुक्सान हुआ है। 

ये पढ़ें: Android से iOS या iOS से Android WhatsApp डाटा कैसे ट्रांसफर करें 

Gainbitcoin घोटाला 

ये एक पोंज़ी मार्केटिंग स्कीम है। इस स्कीम के मास्टरमाइंड अमित भरद्वाज के साथ सात लोग थे, जो दुनिया भर में इसे चला रहे थे। इस स्कीम में लोगों को यह कहकर आकर्षित किया जाता था कि ये एक आकर्षक स्कीम है जिसमें आप पैसा लगाएंगे तो 18 महीनों तक उसका 10% रिटर्न मिलेगा। यानि अगर आप 10,000 रूपए लगाते हैं, तो आपको 18 महीनों तक हर महीने 1000 रूपए मिलेंगे। इसी ऑफर के चलते, जिन लोगों को क्रिप्टो करेंसी का ज़्यादा पता नहीं है, उन्होंने इसमें काफी निवेश किया। 

GainBitcoin क्रिप्टोकोर्रेंसी स्कैम की जांच में क्या हुआ ?

इसमें लगभग 40 लोगों ने FIR भी दर्ज की है, जिनमें से महाराष्ट्र और पंजाब में 13 FIR की गयी हैं। लेकिन अब पुणे पुलिस ने GainBitcoin केस में 60,000 यूज़र आईडी ट्रेस की हैं, जिन्होंने इस स्कीम में अपनी मेहनत की कमाई लगाई थी। 

पहले मुख्य आरोपी अमित भरद्वाज थे, लेकिन इस साल के शुरुआत में ही उनकी मौत हो गयी और ये सुई उनके भाई अजय भारद्वाज की तरफ घूम गयी है। ED का कहना है कि अजय के पास क्रिप्टो वॉलेट का पासवर्ड और यूज़रनेम है, जो उन्हें अब इस केस के जांच अधिकारी को दे देना चाहिए। अभी इसी महीने की शुरुआत में ED दिल्ली स्थित दफ्तर के साथ 6 जगहों पर छापेमारी की है, जहां कई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस और 1 लाख से अधिक निवेशकों से सम्बंधित कई कागज़ात भी ज़ब्त किये हैं। 

ये पढ़ें: अपने आधार कार्ड के दुरूपयोग को रोकने के लिए इस तरह डाउनलोड करें मास्क आधार कार्ड (Masked Adhaar Card) 

ED के अनुसार, इस मार्केटिंग स्कीम में अमित भारद्वाज, अजय भारद्वाज, विवेक भारद्वाज, महेन्दर भारद्वाज सहित 7 लोगों ने मिलकर अलग-अलग क्रिप्टो वॉलेट में 80,000 से ज़्यादा बिटकॉइन इकट्ठा किये और इस समय इनकी कीमत 1 लाख करोड़ से ज़्यादा है। 

अभी तक अजय भारद्वाज द्वारा क्रिप्टो वॉलेट के पासवर्ड, यूज़रनेम को शेयर नहीं किया गया है और सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें अगले महीने फिर बुलाया इसी संदर्भ में कोर्ट बुलाया है। ED का कहना है कि अभी कुछ और क्रिप्टो वॉलेट ट्रेस नहीं हो पाए हैं, जिनका सम्बन्ध इन आरोपियों से है। 

हालांकि सभी अधिकारी व सम्बन्ध दफ्तर अपना काम कर रहे हैं, लेकिन इतना तो तय है कि इस घोटाले में जिन लोगों ने निवेश किया था, अब उनका पैसा उन्हें शायद कभी वापस नहीं मिलेगा। 

Pooja ChaudharyPooja Chaudhary
Pooja has been covering technology and gadgets for more than 5 years. Most of her work has been centred around smartphones and smartphone apps, but she occasionally likes to dabble with content on people and relationships. She is also a bit of a TV junkie and is often trying to make time to catch up with her favourite shows and classic movies.

Related Articles

Imageफ़ास्ट USB-C पोर्ट के साथ iPhone 15 में मिल सकते हैं यह 8 फीचर्स

टेक दिग्गज Apple, एक्शन से भरपूर वर्ष के लिए अपनी कमर कस रही है। उम्मीद की जा रही है, कि स्मार्टफोन निर्माता अपने iPhone 15 सीरीज़ को इस साल के सितंबर माह तक लॉन्च कर देगी। हालाँकि, अभी iPhone 15 की आधिकारिक लॉन्च में बहुत समय बचा हुआ है, लेकिन लॉन्च से पहले ही फोन …

ImageJioFiber ने पेश किये नए डाटा वाउचर: 101 रुपए में मिलेगा 20GB का एक्स्ट्रा डाटा

रिलायंस की JioFiber सर्विस से जुडी खबर कुछ समय पहले सामने आई थी, जिसमें Reliance Jio ने अपनी सुपर फास्ट ब्रॉडबैंड सर्विस Jio Fiber के प्रिव्यू ऑफर को बंद कर दिया था। अब कंपनी अपने प्रिव्यू ऑफर वाले यूजर्स को पेड प्लान में शिफ्ट करने के लिए 6 नए डाटा वाउचरों को पेश किया है। …

ImageAarogye Setu एप्लीकेशन हुआ ओपन सोर्स, बग बाउंटी प्रोग्राम में मिलेगा 1 लाख का इनाम

भारतीय सरकार ने कोरोना वायरस के चलते देशभर में लॉकडाउन किया हुआ है। इसी के साथ सर्कार ने Covid-19 ट्रैकिंग एप्लीकेशन Aarogya Setu को भी लांच किया था। एप्प के लांच के बाद से इसकी प्राइवेसी को लेकर कुछ सवाल भी उठ रहे थे जिसको देखते हुए कंपनी ने एंड्राइड वर्जन ओपन सोर्स कर दिया …

Imageआयुष्मान कार्ड कैसे बनवाएं, जिसमें सरकार द्वारा मिलता है 5 लाख का बीमा

आयुष्मान भारत – प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (AB-PMJAY) एक राष्ट्रीय जीवन बीमा योजना है, जो स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा शुरू की गयी है। इस MoHFW (Ministry of Health and Family Welfare) योजना को भारत सरकार द्वारा 2018 में पेश किया गया जो भारत की गरीब जनता के इलाज के लिए आयुष्मान कार्ड …

Imageचिरंजीवी बीमा योजना: इस तरह आप भी पा सकते हैं 25 लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज

केंद्र सरकार ने जैसे पूरे देश के गरीबों के लिए आयुष्मान जन आरोग्य योजना चलाई है। इसी तरह, राजस्थान सरकार ने अपने राज्य के लोगों के लिए 1 मई 2021 से चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना’ (Chiranjeevi Swasthya Bima Yojana) शुरू की। इस योजना का उद्देश्य प्रदेश के गरीब और मध्य-वर्गीय लोगों को इलाज के बड़े खर्चों …

Discuss

Be the first to leave a comment.

Related Products