कार्ल पी (Carl Pei)

Nothing के फाउंडर और OnePlus के एक्स-फाउंडर - कार्ल पी (Carl Pei), लेकिन क्या आप उनके  बारे में ये दिलचस्प बातें जानते हैं। 

टेक जगत में कार्ल पी (Carl Pei) एक बड़ा नाम है, जिन्होंने OnePlus को भारत में पहचान दिलाई और अब वो उसे छोड़कर अपनी नयी कंपनी Nothing का पहला स्मार्टफोन लॉन्च करने जा रहे हैं। 

2013 में शुरू की OnePlus 

स्वीडिश हैं Carl Pei 

Carl Pei का जन्म भले ही, चीन में हुआ है, लेकिन उसके बाद वो U.S. में और फिर स्वीडन में रहे। वो एक स्वीडिश नागरिक हैं। 

कार्ल पी ने 2008 में Stockholm School of Economics, स्वीडन में एडमिशन लिया, लेकिन चीनी स्मार्टफोन इंडस्ट्री में फुल टाइम काम करने के लिए, वो कोर्स बीच में अधूरा छोड़ चले गए। 

ग्रेजुएट नहीं हैं Carl Pei 

उन्होंने 2013 में पीट लाउ (Pete Lau) के साथ मिलकर OnePlus को शुरू किया और उसके ग्लोबल डायरेक्टर की पोजीशन ली। इस समय Carl Pei सिर्फ 24 साल के थे। 

बेहद कम उम्र में बने फाउंडर 

कार्ल पी ने २०१० में Nokia से शुरुआत की, इसके बाद एक फैन वेबसाइट क्रिएट करके, उन्होंने Meizu कंपनी में अपनी जगह बनायी। फिर 2011 में  अंतर्राष्ट्रीय मार्किट मैनेजर के तौर पर Oppo को ज्वाइन किया जहां वो Pete Lau के अंडर काम करते थे। 

मात्र 20 साल की उम्र से किया टेक जगत में काम 

OnePlus One का 50,000 यूनिट का सेल टारगेट था, लेकिन Carl Pei की कंपनी ने 1 मिलियन यूनिट सेल कीं। वहीँ OnePlus 2 को VR टेक्नोलॉजी के साथ YouTube पर लॉन्च किया और ऐसा करने वाली ये पहली स्मार्टफोन कंपनी थी। 

कार्ल पी के राज में भारत में आये OnePlus फ़ोन 

कार्ल पी ने 2020 में OnePlus को छोड़, और मात्र 30 साल की उम्र में, 2021 में दूसरी नयी कंपनी बनायी जिसका नाम है Nothing । Nothing में उनका पहला डिवाइस एक बहुत अनोखे और ट्रांसपेरेंट बड्स थे, ear (1) । 

2020 में OnePlus को कहा अलविदा