भारत में आए दिन नए स्मार्टफोन लॉन्च होते रहते हैं। ग्राहकों में बजट स्मार्टफोनों की काफी डिमांड है और ऐसे में जब भी ग्राहक कोई नया बजट फोन खरीदता हैं तो उसका ध्यान केवल हैंडसेट के स्पेसिफिकेशन और फीचर पर जाता है। लेकिन इस बात से हम सभी वाकिफ हैं कि फोन से निकलने वाला रेडिएशन कितना खतरनाक होता है।

German Federal Office द्वारा रेडिएशन प्रोटेक्शन को लेकर एक रिपोर्ट पेश की गयी है जिसमे Xiaomi M1 A1 और OnePlus 6T सबसे ज्यादा रेडिएशन निकालने वाले स्मार्टफोनों में से एक साबित होते है। रिपोर्ट में डाटा को ‘वाट प्रति किलोग्राम’ में मापा गया है। जितना कम/ज्यादा स्कोर होगा उठा ही कम/ज्यादा रेडिएशन निकलेगा।

तो चलिए सूची पर एक नज़र डालते है:

ज्यादा रेडिएशन निकालने वाले स्मार्टफोन

यह भी पढ़िए:  MIUI में आने वाले विज्ञापनों से है परेशान तो करे इन तरीकों का इस्तेमाल

जहाँ तक सूची की बात है तो यहाँ पर Xiaomi Mi A1 1.75wt/kg के साथ पहले स्थान पर है, इसके बाद OnePlus 5T (1.68 wt/kg) के साथ दुसरे और Xiaomi Mi Max 3 (1.58wt/kg) आपको तीसरे स्थान पर देखने को मिलते है।

इस सूची में आपको Google Pixel 3XL (1.39wt/kg), Google Pixel 3(1.33wt/kg), iPhone 7 (1.38wt/kg) और iPhone 8 (1.32wt/kg) जैसे फ्लैगशिप ग्रेड स्मार्टफोन भी देखने को मिलते है।

सैमसंग यूजर को यहाँ पर ज्यादा प्रहसन होने की जरूरत नहीं है क्योकि सैमसंग के Galaxy Note 7 ने यहाँ पर सबसे कम सिर्फ 0.17-wt/kg का स्कोर प्राप्त किया है जबकि Samsung Galaxy A8, Samsung Galasy S8+ ने क्रमशः 0.24wt/kg और 0.26wt/kg का आंकड़ा छुआ है।

यहाँ पर देखने वाली वाली बात यह की Xiaomi और OnePlus जैसे चीनी ब्रांड ने यहाँ पर थोडा खराब प्रदर्शन किया है। Huawei Mate 20 Pro ने जहाँ सिर्फ 0.40 wt/kg स्कोर प्राप्त होता है वही पर Honor 8 Pro में आपको 1.28wt/kg का स्कोर मिलता है जो थोडा अधिक है।

यहाँ सूची में Oppo और Vivo के फोन नहीं है क्योकि कुछ कारणों की वजह से उनको टेस्ट नहीं किया गया है।

रेडिएशन से जुड़े भारतीय मानक

सबसे जरूरी बात यहाँ पर यह है की यह रेडिएशन निकलने की अधिकतम सीमा है। इसका सीधा मतलब है की यह कोई नियमित गति नहीं है इसमें काफी बदलाव होता रहता है।

वैसे भी जर्मन एन्विरोंमेंटल एजेंसी 0.60wt/kg रीडिंग से कम के फ़ोनों को ही सर्टिफिकेट देती है जबकि भारतीय मानक 1.60wt/kg का है। लेकिन तब भी आप देख सकते है की काफी स्मार्टफोन इस से ज्यदा उत्सर्जन करते है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here